NDTV Khabar

Bihar Board BSEB Class 10 Matric Result 2017: इस बार अच्छा रहेगा बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट, जानिए क्यों

Bihar Board Matric Result 2017: बिहार बोर्ड ने स्टूडेंट्स को ग्रेस अंक देने का फैसला किया है और नए नियमों के आधार पर ही रिजल्ट बनाया है. ग्रेस मार्क्स पर बिहार बोर्ड के फैसले के अनुसार छात्रों को 8 फीसदी अंक तक ग्रेस मिलेगा. वहीं डिविजन में कुछ अंक से छूटने पर छात्रों को 5 अंक या कम का लाभ दिया जाना है.

48 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Bihar Board BSEB Class 10 Matric Result 2017: इस बार अच्छा रहेगा बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट, जानिए क्यों

Bihar board Matric Result 2017: इस बार अच्छा रहेगा बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट

Bihar Board Matric Result 2017: बिहार बोर्ड आज 10वीं कक्षा के नतीजों का ऐलान करने वाला है. कुछ ही देर बाद मैट्रिक के छात्रों का इंतजार खत्म हो जाएगा. रिजल्ट जारी होने के बाद स्टूडेंट्स अपने करियर की दिशा तय करेंगे. वह आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस में से किसी एक स्ट्रीम का चयन करेंगे. बहुत से विद्यार्थी 10वीं के बाद ही प्रोफेशनल कोर्स की राह पकड़ लेंगे. आज दोपहर 1 बजे फैसला हो जाएगा कि किस विद्यार्थी की मेहनत कितनी रंग लाई है. वैसे बताया जा रहा है कि इस बार बिहार बोर्ड मैट्रिक का रिजल्ट पिछले सालों की तुलना में बेहतर रहेगा. इसके पीछे ग्रेस मार्क्स को वजह बताया जा रहा है. 

दरअसल हाल ही में बिहार बोर्ड ने स्टूडेंट्स को ग्रेस अंक देने का फैसला किया है और नए नियमों के आधार पर ही रिजल्ट बनाया है. ग्रेस मार्क्स पर बिहार बोर्ड के फैसले के अनुसार छात्रों को 8 फीसदी अंक तक ग्रेस मिलेगा. वहीं डिविजन में कुछ अंक से छूटने पर छात्रों को 5 अंक या कम का लाभ दिया जाना है. इससे विद्यार्थियों के कुल पास प्रतिशत में इजाफा होना तय है. 

Bihar board 10th result 2017
result
Bihar board 10th result 2017: खत्म होगा बिहार बोर्ड मैट्रिक के छात्रों का इंतजार
 
यूं समझें ग्रेस मार्क्स के बदलाव को
बिहार बोर्ड द्वारा रेगुलेशन 10 में 2  बदलाव किए गए. पहले बदलाव संशोधन में अगर कोई कुल 75 फीसदी अंक हासिल करता है, लेकिन किसी एक विषय में अधिकतम 10 अंकों से अनुत्तीर्ण है. अगर वह किसी रेगुलेशन के तहत पास नहीं हो सकता है, उसे तय अंक देकर निर्धारित श्रेणी में पास घोषित किया जाएगा. रेगुलेशन 10 (2) के अंतर्गत अगर कोई स्टूडेंट फर्स्ट डिविजन या सेकेंड डिविजन का अंक हासिल करने में अधिकतम 5 अंक से चूक रहा होगा तो उसे ग्रेस अंक देते हुए उच्चतर श्रेणी में पास घोषित किया जाएगा. मतलब 500 अंकों की परीक्षा में अगर कोई विद्यार्थी 295 अंक हासिल करता है तो उसे 5 मार्क्स  का लाभ देते हुए फर्स्ट डिविजन में पास घोषित किया जाएगा. इसी प्रकार, अगर कोई 220 मार्क्स पाता करता है, तो उसे 5 मार्क्स का लाभ देते हुए सेकेंड डिविजन से पास किया जाएगा.
 
------------------------------ 
ये भी पढ़े: Bihar Board BSEB Class 10 Matric Result 2017: इस बार अच्छा रहेगा बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट, जानिए क्यों
ये भी पढ़े: BSEB Bihar board Matric Result 2017: आज आएंगे 10वीं कक्षा के नतीजे, यहां करें चेक
ये भी पढ़े: Bihar Board BSEB Class 10 Matric Result 2017: अगर रिजल्ट रहे खराब तो यूं निपटें तनाव से
ये भी पढ़े:  Bihar Board Matric Result 2017: बिहार बोर्ड मैट्रिक टॉपरों को मिलेंगे ये अवॉर्ड
ये भी पढ़े: BSEB Matric Result 2017: आज 1 बजे होगा परीक्षा परिणाम का ऐलान, यूं करें चेक

----------------- 

ये भी पढ़ें: Jharkhand Board JAC Class 12 Arts Result 2017: नतीजे घोषित, यहां करें चेक

रेगुलेशन 8 में बदलाव
संशोधन के तहत कोई भी विद्यार्थी अगर एक विषय में 8 फीसदी अंक से या दो विषयों में 4-4 फीसदी अंकों से फेल हो, तो उसे रेगुलेशन अंक देते हुए पास घोषित किया जाएगा. यानी 100 मार्क्स में अगर कोई 22 अंक लाता है और अन्य विषयों में पास है तो उसे रेगुलेशन एक्ट के तहत 30 अंक देकर पास घोषित किया जाएगा. इसी तरह 100-100 अंकों के दो पेपर में अगर कोई 26-26 मार्क्स लाता है और अन्य विषयों में पास है, तो उसे 30-30 मार्क्स देकर तय श्रेणी में पास रिजल्ट जारी किया जाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement