NDTV Khabar

ऑस्‍ट्रेलिया दौरे में विराट कोहली को विनम्र रहने को नहीं कहा गया: बीसीसीआई

बोर्ड ने कहा कि 17 नवंबर को मुंबई स्थित मीडिया ने एक रिपोर्ट जारी की जिसमें ' विनम्र रहो : विराट कोहली को सीओए का मेमो' शीर्षक दिया गया था. यह रिपोर्ट पूरी तरह से गलत है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑस्‍ट्रेलिया दौरे में विराट कोहली को विनम्र रहने को नहीं कहा गया: बीसीसीआई

रिपोर्ट में कहा गया था कि विराट कोहली को 'विनम्र' रहने के लिए एक संदेश भेजा गया था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. BCCI ने COA की ओर से मेमो भेजे जाने का किया खंडन
  2. कहा-मीडिया में इस बारे में जारी की गई खबर गलत है
  3. रिपार्ट में कहा गया था, विराट को विनम्र रहने का संदेश भेजा गया
मुंबई:

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने ऑस्ट्रेलिया के दौरे में कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को विनम्र (Humble) रहने के लिए प्रशासकों की समिति (COA) द्वारा मेमो भेजे जाने का खंडन किया है. बीसीसीआई ने रविवार को एक बयान में कहा कि मीडिया में शनिवार को जारी की गई खबर गलत है. बोर्ड ने कहा कि 17 नवंबर को मुंबई स्थित मीडिया ने एक रिपोर्ट जारी की जिसमें ' विनम्र रहो : विराट कोहली को सीओए का मेमो' शीर्षक दिया गया था. यह रिपोर्ट पूरी तरह से गलत है. इस रिपोर्ट में कहा गया था कि भारतीय कप्तान कोहली को 'विनम्र' रहने के लिए एक संदेश भेजा गया था. मीडिया में ऐसी रिपोर्ट आने के बाद बीसीसीआई ने टीम प्रबंधन से विचार-विमर्श करने के बाद पाया कि यह रिपोर्ट आधारहीन है. भारतीय टीम इस समय ऑस्ट्रेलिया दौरे पर है जहां टीम को 21 नवंबर को मेजबान टीम (India vs Australia) के साथ पहला टी-20 मैच खेलना है. भारतीय टीम टी-20 सीरीज के बाद वनडे और टेस्ट सीरीज भी खेलेगी.
 


पत्‍नी अनुष्‍का शर्मा के साथ नजर आए विराट कोहली, प्रशंसकों से कहा-हैप्‍पी दीपावली..

गौरलब है कि विराट कोहली को हाल ही में अपने जन्‍मदिन (5 नवंबर) के अवसर पर सोशल मीडिया पर ट्रोल होना पड़ा था. विराट को भेजे गए संदेश में इस क्रिकेटप्रेमी ने कहा था, 'मैं इन भारतीयों की तुलना में इंग्‍लैंड और ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों को देखना पसंद करता हूं.' विराट की बल्‍लेबाज के बारे में भी इस क्रिकेटप्रेमी की राय 'अलग' ही थी. उसने यह भी कहा था, 'क्षमता से बढ़ाकर आंका गया बल्‍लेबाज (ओवर रेटेड बैट्समैन). निजी तौर पर मुझे उनकी बल्‍लेबाजी में कुछ भी खास नहीं दिखता '
वीडियो: मैडम तुसाद म्‍यूजियम में विराट कोहली
यह बात विराट को पसंद नहीं आई थी और उन्‍होंने अपनी आक्रामक शैली की बैटिंग के अंदाज में ही इसका जवाब दे डाला था. उन्‍होंने लिखा था, 'मुझे नहीं लगा कि तुम्‍हें भारत में रहना चाहिए. जाइए और कहीं जाकर रहिए. आप इस देश में रह रहे हैं और दूसरे देशों को पसंद कर रहे हैं. मुझे इस पर कोई ऐतराज नहीं है कि तुम्‍हें मेरा खेल पसंद नहीं है लेकिन मुझे नहीं लगता कि तुम्‍हें इस देश में रहकर दूसरी चीजों को पसंद करना चाहिए. अपनी प्राथमिकताओं को सही करिए.' एक प्रशंसक को विवादास्पद जवाब देने के लिए आलोचना झेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली हालांकि बाद में डिफेंसिव हो गए थे. विराट ने एक ट्वीट में कहा था कि उन्हें ‘अपनी अपनी पसंद की आजादी' से कोई गुरेज नहीं है लेकिन प्रशंसकों से इसे हल्‍के में लेने की अपील की थी.(इनपुट: एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement