ओपनर पृथ्‍वी शॉ को उम्‍मीद, IPL से पहले हो जाऊंगा पूरी तरह से फिट

पृथ्‍वी शॉ (Prithvi Shaw) ने कहा, ‘‘मैं IPL से पहले फिट हो जाऊंगा और पूरी फिटनेस हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा हूं.

ओपनर पृथ्‍वी शॉ को उम्‍मीद, IPL से पहले हो जाऊंगा पूरी तरह से फिट

चोट के कारण पृथ्‍वी शॉ ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में नहीं खेल पाए थे (फाइल फोटो)

खास बातें

  • चोट के कारण ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में नहीं खेले थे
  • अपने पहले ही टेस्‍ट में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ जमा चुके हैं शतक
  • आईपीएल में दिल्‍ली कैपिटल्‍स की टीम की ओर से खेलते दिखेंगे
नई दिल्‍ली:

ऑस्‍ट्रेलिया दौरे में चार टेस्‍ट की सीरीज के लिए युवा ओपनर पृथ्‍वी शॉ (Prithvi Shaw) को भारतीय टीम में चुना गया था. वेस्‍टइंडीज के खिलाफ अपने डेब्‍यू टेस्‍ट में ही शतक जमाकर इंटरनेशनल क्रिकेट का शानदार आगाज करने वाले पृथ्‍वी शॉ के प्रदर्शन पर भारतीय क्रिकेटप्रेमियों की निगाह लगी थीं लेकिन प्रैक्टिस मैच के दौरान लगी चोट के कारण पृथ्‍वी ऑस्‍ट्रेलिया में  एक भी टेस्‍ट नहीं खेल पाए और उन्‍हें दुर्भाग्‍यपूर्ण तरीके से भारत लौटना पड़ा. शॉ को पूरी तरह फिट होने में उम्‍मीद से कहीं ज्‍यादा वक्‍त लगा है. हालांकि शॉ को उम्‍मीद है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग (IPL)के 12वें सत्र के शुरू होने से पहले फिट हो जाएंगे.शॉ (Prithvi Shaw) ने ‘इंडिया टीवी' से बातचीत में कहा, ‘‘मैं IPL से पहले फिट हो जाऊंगा और पूरी फिटनेस हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा हूं. मैं टखने के साथ-साथ अपने शरीर के ऊपरी भाग पर भी काम कर रहा हूं.'

पृथ्‍वी शॉ की तरह सचिन भी करियर की शुरुआत में हुए थे चोटिल, फोटो में दिखेगी समानता..

मुंबई का 19 साल का यह सलामी बल्लेबाज दिल्ली कैपिटल्स की टीम में है जिसके साथ यह उनका दूसरा सत्र होगा. ऑस्ट्रेलिया में अभ्यास मैच के दौरान सीमा रेखा के पास क्षेत्ररक्षण करते हुए उनका टखना चोटिल हो गया था. टीम को उम्मीद थी कि वह दूसरे टेस्ट तक फिट हो जाएंगे लेकिन पैर में सूजन और दर्द बढ़ने से उन्हें पूरी सीरीज से बाहर होना पड़ा.

मो. सिराज ने पृथ्‍वी शॉ पर किया कमेंट तो इस 'छुटके उस्‍ताद' ने ठोक दिए दो छक्‍के, VIDEO

 चोट के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘हम पहले टेस्ट मैच से पहले सिडनी में अभ्यास मैच खेल रहे थे. मैं डीप मिडविकेट पर खड़ा था और ऐश भाई (आर अश्विन) गेंदबाजी कर रहे थे तभी एक कैच के लिए मैंने हवा में पीछे की ओर उछलते हुए गेंद को पकड़ा और जब मैं जमीन पर गिरा तो मेरे शरीर का भार मेरे बाएं पैर पर पड़ा. यह थोड़ा मुश्किल था और मेरा टखना 90 डिग्री तक मुड़ गया और पूरा वजन उसी पर आ गया.' उन्होंने कहा, ‘मैं दूसरे टेस्ट में खेलने की पूरी कोशिश कर रहा था और फिजियो भी मुझे मैच के लिए फिट करने की कोशिश कर रहे थे. हालांकि, जितना अधिक उन्होंने कोशिश की, सूजन उतनी बढ़ गई और उसमें अधिक दर्द होने लगा. इसलिए, मैंने सोचा कि अगर मैं खेलता हूं तो भी मैं अपना शत प्रतिशत नहीं दे पाऊंगा क्योंकि उस दर्द के साथ खेलना आसान नहीं होता.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी. सच कहूं तो आप उसके बारे में कुछ नहीं कर सकते. ऑस्ट्रेलिया में चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में खेलने की मेरी इच्छा थी. मुझे वहां बाउंस काफी पसंद है. दुर्भाग्य से, मुझे पैर में चोट लगी. लेकिन ठीक है, मैं बहुत खुश हूं कि भारत ने टेस्ट सीरीज जीती. इससे बेहतर और क्या हो सकता था.'' चोटिल होने के बाद साव हालांकि काफी निराश हो गये थे लेकिन साथी खिलाड़ियों का उन्हें पूरा समर्थन मिला. उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उस समय पूरी टीम का समर्थन मिला क्योंकि मैं चोट से बहुत निराश था. मैंने दौरे के लिए कड़ा अभ्यास किया था और मेरे दिमाग में कई चीजें थीं जो मुझे लगता था कि मैं वहां करूंगा. यह निराशाजनक था. लेकिन हां, अब मैं खुश हूं कि हमने सीरीज जीती." शॉ (Prithvi Shaw)ने अपने टेस्ट करियर की शानदार शुरूआत करते हुए वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की सीरीज की तीन पारियों में 118.20 की औसत से 237 रन बनाए थे.

वीडियो: ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज जीतने के बाद यह बोले विराट