INDvsAUS ODI: टीम इंडिया का पलड़ा भारी लेकिन विराट ब्रिगेड को इन 5 ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ि‍यों से रहना होगा सावधान

टीम इंडिया का ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पलड़ा भारी माना जा रहा है लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया टीम को कमजोर आंकना गलत होगा.

INDvsAUS ODI: टीम इंडिया का पलड़ा भारी लेकिन विराट ब्रिगेड को इन 5 ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ि‍यों से रहना होगा सावधान

भारत दौरे में ऑस्‍ट्रेलिया टीम पांच वनडे और तीन टी20 मैच खेलेगी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दौरे में पांच वनडे और तीन टी20 खेलेगी ऑस्‍ट्रेलियाई टीम
  • शॉर्टर फॉर्मेट में ऑस्‍ट्रेलिया टीम करती रही है अच्‍छा प्रदर्शन
  • टीम में हैं स्मिथ, वॉर्नर और मैक्‍सवेल जैसे धाकड़ खिलाड़ी
नई दिल्‍ली:

भारत-श्रीलंका की क्रिकेट सीरीज के बाद ऑस्‍ट्रेलियाई क्रिकेट टीम पांच वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलने के लिए भारत में है. सीरीज के पांच वनडे 17 सितंबर, 21 सितंबर, 24 सितंबर, 29 सितंबर और 1 अक्‍टूबर को खेले जाने हैं. शॉर्टर फॉर्मेट के क्रिकेट में दोनों टीमों के बीच मुकाबला कड़ा होने की पूरी संभावना है. वैसे तो श्रीलंका दौरे में कमाल के प्रदर्शन के बाद टीम इंडिया का ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ पलड़ा भारी माना जा रहा है लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया टीम को कमजोर आंकना गलत होगा. ऑस्‍ट्रेलियाई टीम में कप्‍तान स्‍टीव स्मिथ के अलावा डेविड वॉर्नर और ग्‍लेन मैक्‍सवेल जैसे स्‍टार खिलाड़ी हैं जो अपनी बल्‍लेबाजी से किसी भी मैच का रुख बदलने में सक्षम हैं. ऑस्‍ट्रेलियाई टीम के इन 5 खिलाड़ि‍यों से विराट कोहली ब्रिगेड को खासतौर पर सावधान रहना होगा.

आक्रमण करने में भी माहिर हैं स्‍टीव स्मिथ
स्‍टीव स्मिथ को आक्रामक शैली का कप्‍तान माना जाता है. ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजी के आधारस्‍तंभ हैं. सबसे बड़ी खासियत यह है कि विकेट पर रुकने के बजाय जरूरत पड़ने पर आक्रामक बल्‍लेबाजी में भी माहिर हैं. भारत के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज और आईपीएल में अपने प्रदर्शन से खास छाप छोड़ी थी. इस प्रदर्शन को मौजूदा दौरे में भी दोहराना चाहेंगे.

यह भी पढ़ें :ऑलराउंडर जेम्‍स फॉल्‍कनर ने ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ि‍यों को दी यह नसीहत

विपक्षी गेंदबाजी को तहस-नहस करने कर सकते हैं वॉर्नर
बाएं हाथ का यह ओपनर अगर विकेट पर टिक गया तो किसी भी स्‍तर के गेंदबाजी आक्रमण को तहस-नहस कर सकता है. टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग की ही तरह वॉर्नर हर तरह के स्‍ट्रोक लगा सकते हैं. स्‍कोर को तेजी से बढ़ाने में सक्षम हैं. हालांकि भारत के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज में कुछ खास नहीं कर सके थे, लेकिन बांग्‍लादेश दौरे के दोनों टेस्‍ट में शतक जमाकर अच्‍छे फॉर्म का परिचय दे चुके हैं.
 
यह भी पढ़ें : ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया की इस सीरीज को सचिन ने बताया सबसे मुश्किल...

कोई भी टारगेट हो, मैक्‍सवेल के रहते सब संभव है
ऑस्‍ट्रेलिया का यह बल्‍लेबाज इस समय वनडे-टी20 के सबसे खतरनाक बल्‍लेबाजों में गिना जाता है. जब तक विकेट पर रहते हैं, स्‍कोरबोर्ड तेजी से बढ़ता रहता है. चौके-छक्‍के लगाकर किसी भी तरह की गेंदबाजी के धुर्रे बिखरे सकते हैं.

वापसी को यादगार बनाना चाहेंगे जेम्‍स फॉल्‍कनर
शार्टर फॉर्मेट में फॉल्‍कनर जैसे हरफनमौला को हर कप्‍तान अपनी टीम में रखना चाहता है. गेंदों की गति बहुत अधिक नहीं है लेकिन अपने वेरिएशंस से विपक्षी बल्‍लेबाजी के लिए परेशानी खड़ी कर सकती हैं. निचले क्रम में बल्‍लेबाजी को मजबूत बनाते हैं. भारत के खिलाफ इससे पहले भी वनडे में अपनी बल्‍लेबाजी के जौहर दिखा चुके हैं.

वीडियो: ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ जडेजा-अश्विन ड्रॉप तो नहीं किए गए!


स्‍टार्क के न होने से कमिंस पर होगी बड़ी जिम्‍मेदारी
भारत के लिए राहत की बात यह है कि उसके प्रमुख तेज गेंदबाज मिचेल स्‍टॉर्क चोट के कारण टीम से बाहर हैं. ऐसे में तेज गेंदबाजी की कमान कमिंस के हाथ होगी, उनका साथ देने के लिए नाथन कोल्‍टर नाइल होंगे. कमिंस अच्‍छी गति से गेंदबाजी करते हैं और सटीक भी हैं. हरफनमौला मार्कस स्‍टोनिस भी अपने प्रदर्शन से भारत के सामने चुनौती खड़ी कर सकते हैं.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com