NDTV Khabar

गोवा में रेव पार्टियों पर लगेगी लगाम, मुख्यमंत्री ने दिए कड़ी कार्रवाई के निर्देश

रेव पार्टियों में पर अंकुल लगाने के लिए गोवा सरकार ने कड़े कदम उठाए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोवा में रेव पार्टियों पर लगेगी लगाम, मुख्यमंत्री ने दिए कड़ी कार्रवाई के निर्देश

गोवा सरकार ने रात 10 बजे के बाद पार्टियों पर रोक लगा दी है (फाइल फोटो)

पणजी:

गोवा में नशे का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है. यहां देर रात चलने वाली पार्टियों में नशे का इस्तेमाल किया जाता है. रेव पार्टियों में पर अंकुल लगाने के लिए गोवा सरकार ने कड़े कदम उठाए हैं. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि गोवा पुलिस को राज्य के दूरदराज के इलाकों में देर रात हो रहे संगीत समारोहों व रेव पार्टियों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है. गोवा सरकार ने रात 10 बजे के बाद होने वाली पार्टियों पर रोक लगा दी है. 

मनोहर पर्रिकर ने कहा, "देर रात रेव पार्टियां अवैध हैं और इन जगहों पर मादक पदार्थो का सेवन किया जा रहा है और बांटा जा रहा है. समुद्री तटों व दूरदराज के इलाकों में रेव पार्टियां पूरी तरह से बंद होनी चाहिए."

यह भी पढ़ें: मुंबई रेव पार्टी : अभिनेता, डीजे, फैशन डिजाइनर शिकंजे में


पर्रिकर की यह टिप्पणी केरल व तमिलनाडु के दो युवकों के उत्तरी गोवा के अंजुना गांव में रेव पार्टी के दौरान कथित तौर पर मादक पदार्थ की ज्यादा मात्रा लेने से हुई मौत के बाद आई है. इस घटना से तटवर्ती राज्य में संगीत कार्यक्रमों पर कार्रवाई शुरू हो गई है.

यह भी पढ़ें: रेव पार्टी का पर्दाफाश, आईपीएल के 2 खिलाड़ी शामिल

मुख्यमंत्री ने कहा कि मादक पदार्थो के सफाए की राह में मुश्किल का एक कारण नए युग के मादक पदार्थो की जटिलता है. इन मादक पदार्थो को आसानी से छिपाया जा सकता है.

टिप्पणियां

VIDEO: रेव पार्टी पर छापा, 44 गिरफ्तार
पर्रिकर ने कहा, "कई मादक पदार्थ हैं, जिनकी पहचान नहीं हो सकती. इसमें आसानी से घुलने वाले मादक पदार्थ भी हैं. लेकिन इसी समय सूचना के आधार पर कार्रवाई की जा सकती है. यदि आपको पता है कि वहां इस तरह की पार्टियां चल रही हैं तो पुलिस को तुरंत सूचित करना चाहिए."

(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement