महाराष्ट्र में NCP को समर्थन देने पर असदुद्दीन ओवैसी का बड़ा बयान, कहा- पहले निकाह होगा उसके बाद ही तो बेटा या बेटी...

ओवैसी ने कहा कि पहले निकाह होगा, उसके बाद सोचेंगे की बेटा होगा या बेटी होगी. अभी तक निकाह ही नहीं हुआ. इससे पहले ओवैसी ने कहा था कि हम किसी भी हालत में शिवसेना या बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार का समर्थन नहीं करेंगे.

महाराष्ट्र में NCP को समर्थन देने पर असदुद्दीन ओवैसी का बड़ा बयान, कहा- पहले निकाह होगा उसके बाद ही तो बेटा या बेटी...

Asaduddin Owaisi ने एनसीपी के साथ देने को लेकर दिया बयान

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में शिवसेना सरकार बनाएगी या नहीं इसका फैसला कांग्रेस के फैसले पर निर्भर कर रहा है. इन सब के बीच राज्य की मौजूदा राजनीतिक हालात को लेकर AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने NCP को समर्थन देने को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पहले निकाह होगा, उसके बाद सोचेंगे की बेटा होगा या बेटी होगी. अभी तक निकाह ही नहीं हुआ. इससे पहले ओवैसी ने कहा था कि हम किसी भी हालत में शिवसेना या बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार का समर्थन नहीं करेंगे.

मुझे इस बात की खुशी है कि अब एनसीपी और कांग्रेस शिवसेना को समर्थन देने जा रहे हैं. इससे आम जनता को तो पता चल जाएगा कि आखिर किसने किसका वोट काटा. 

उधर, महाराष्ट्र में सरकार गठन पर दुविधा और भी बढती जा रही है. पहले बीजेपी (BJP) ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया, फिर शिवसेना (Shiv Sena) तय डेडलाइन में समर्थन की चिट्ठी नहीं दे सकी. शिवसेना ने राज्यपाल से और 48 घंटे की मोहलत मांगी, जिसे राज्यपाल ने नहीं माना. अब राज्यपाल ने एनसीपी (NCP) को सरकार बनाने का मौक़ा दिया है. आज यानी मंगलवार रात साढ़े आठ बजे तक एनसीपी को जवाब देना है. उससे पहले एनसीपी के सूत्रों के मुताबिक कहा गया कि जब तक कांग्रेस सरकार में शामिल नहीं होती तब तक एनसीपी भी शिवसेना के साथ सरकार में नहीं जाएगी.

महाराष्ट्र में मचे सियासी घमासान के बीच संजय राउत ने किया ट्वीट, कहा- हम जरूर होंगे कामयाब...

सूत्र के मुताबिक एनसीपी (NCP) नहीं चाहती कि 3 महीने में सरकार गिर जाए. एनसीपी चाहती है कि राज्य में स्थिर सरकार हो जो NCP, कांग्रेस और शिवसेना मिलकर ही बन सकती है. इसके पहले महाराष्ट्र में राज्यपाल ने शिवसेना को 48 घंटे की मोहलत नहीं दी, रविवार को राज्यपाल ने शिवसेना को चिट्ठी लिखकर कहा था कि सोमवार साढ़े 7 बजे तक सरकार बनाने की इच्छा जताए, शिवसेना की तरफ़ से आदित्य ठाकरे ने राजभवन जाकर सरकार बनाने की इच्छा जताई और 48 घंटे का समय मांगा, जो उन्हें नहीं मिला.

NCP सुबह 11 बजे अपने विधायकों के साथ बैठक करेगी. बैठक के लिए शरद पवार और सुप्रिया सुले एक साथ निकले, जबकि अजीत पवार दूसरी गाड़ी से निकले. बैठक में जाने से पहले अजीत पवार ने कहा, ''दिल्ली से कांग्रेस का फोन था कि क्या आज दिल्ली में शरद पवार मीटिंग के लिये आ सकते हैं. हमने कहा कि आज विधायकों के साथ बैठक है इसलिए संभव नहीं होगा. लेकिन महाराष्ट्र के कांग्रेस नेताओं से हमने कहा है कि वो मुंबई आएं और हम मीटिंग कर एक कॉमन मिनिमम कार्यक्रम बनाते हैं उन्होंने कहा है आने के लिए देखते हैं.''

महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर बॉलीवुड प्रोड्यूसर का ट्वीट, बोले- यह पक्का है कि कांग्रेस-एनसीपी को CM पोस्ट...

Newsbeep

यह पूछने पर कि कांग्रेस नेता अगर आज आ नहीं रहे हैं तो राष्ट्रपति शासन लग जायेगा? तो उन्होंने कहा कि यहां आना जरूरी नहीं है. फोन पर भी बात हो सकती है. अजीत पवार ने ये साफ किया कि कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लड़ा है और जो भी फैसला है वो साथ में है. शिवसेना के साथ कभी हमने मिलकर चुनाव नहीं लड़ा है इसलिए कांग्रेस थोड़ा वक्त ले रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: हम अकेले निर्णय नहीं ले सकते: अजीत पवार