VIDEO: जब एशिया कप के फाइनल में गेंद और बल्ले से कमाल करने वाले केदार जाधव को अंपायर ने कहा- पट्टी खोलो

 Asia Cup 2018: कुलदीप यादव और केदार जाधव की शानदार गेंदबाजी के बाद आखिरी ओवरों में संयमित बल्लेबाजी के दम पर भारत ने बेहद रोमांचक मुकाबले में आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को तीन विकेट से हराकर सातवीं बार एशिया कप जीत लिया.

VIDEO: जब एशिया कप के फाइनल में गेंद और बल्ले से कमाल करने वाले केदार जाधव को अंपायर ने कहा- पट्टी खोलो

बॉलिंग से पहले पट्टी हटाते केदार जाधव

नई दिल्ली:

एशिया कप 2018Asia Cup 2018)  के फाइनल मुकाबले में टीम इंडिया ने जीत हासिल की. कुलदीप यादव और केदार जाधव की शानदार गेंदबाजी के बाद आखिरी ओवरों में संयमित बल्लेबाजी के दम पर भारत ने बेहद रोमांचक मुकाबले में आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को तीन विकेट से हराकर सातवीं बार एशिया कप जीत लिया. जीत के लिये 223 रन के लक्ष्य के जवाब में भारत को आखिरी दो ओवर में नौ रन चाहिये थे लेकिन 49वें ओवर में तीन ही रन बने जिसके बाद आखिरी छह गेंद में छह रन की जरूरत थी. महमूदुल्लाह के इस ओवर की पहली गेंद पर कुलदीप यादव ने एक और दूसरी पर केदार जाधव ने एक रन लिया. तीसरी गेंद पर कुलदीप ने दो रन लिये लेकिन अगली गेंद पर रन नहीं बन सका. इसके बाद पांचवीं और छठी गेंद पर एक एक रन लेकर कुलदीप और केदार ने भारत को जबर्दस्त जुझारूपन का प्रदर्शन करने वाली बांग्लादेशी टीम पर जीत दिलाई.

Newsbeep

IND vs PAK : एशिया कप में पाकिस्‍तान को दूसरी बार भारत ने धोया, पाक कप्‍तान सरफराज ने हार की बताई 'ये वजह'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केदार जाधव ने पहले बॉल से और फिर बल्ले से अपना कमाल दिखाया और इस कांटे की टक्कर वाले मैच में जीत भारत की झोली में डाल दी. मगर केदार जाधव के लिए बॉलिंग करना इतना आसान नहीं था. क्योंकि उनकी उंगलियों में चोट लगी थी. उन्होंने अपनी उंगलियों में पट्टी बांध ली थी. मैच के 33 ओवर समाप्ता हो चुके थे. अभी भी भारत को शतक बनाने वाले लिटन दास के विकेट की तलाश थी. इसलिए कप्तान रोहित शर्मा ने केदार जाधव के हाथों में गेंद थमाई. क्योंकि इससे पहले केदार जाधव दो विकेट ले चुके थे और टीम इंडिया की मैच में वापसी करा चुके थे. मगर जैसे ही बॉल करने गये केदार को अंपायरों ने बॉल करने से रोक दिया. क्योंकि केदार की उंगलियों में पट्टी लगी थी. 
 


जख्मों से पार पाने के लिए केदार जाधव ने पट्टी बांध रखी थी. मगर अंपायरों ने उन्हें पट्टी खोलने को कहा. वहां कप्तान रोहित शर्मा भी मौजूद थे. हालांकि, जाधव ने अंपायरों की बात मानीं और उन्होंने पट्टी खोल ली और फिर 34वें ओवर में गेंदबाजी करने लगे. दरअसल, जाधव ने काफी किफायती गेंदबाजी की. केदार जाधव ने गेंदबाजी में 9 ओवर में 41 रन देकर दो विकेट चटकाए.  वहीं, बल्लेबाजी में उन्होंने नाबाद 23 रनों की पारी खेलकर भारत को जीत दिला दी.  इससे पहले कुलदीप और केदार की स्पिन जोड़ी ने लिटन दास के शतक के बावजूद बांग्लादेश को 222 रन पर समेट दिया था.