NDTV Khabar

अटल जी का जाना मेरे लिए पिता तुल्य संरक्षक का साया सिर से उठने जैसा : PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश के पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Death) को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि देश ने अपना अनमोल रत्न खो दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अटल जी का जाना मेरे लिए पिता तुल्य संरक्षक का साया सिर से उठने जैसा : PM मोदी

Atal Bihari Vajpayee Death: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का अंतिम दर्शन करते पीएम नरेंद्र मोदी.

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने देश के पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee Death) को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि देश ने अपना अनमोल रत्न खो दिया है. पीएम मोदी ने कहा कि देश के भविष्य को दिशा देने वाले हम सभी के प्रेरणास्त्रोत अटल जी अब नहीं रहे. अटल जी के रूप में भारतवर्ष ने अपना अनमोल अटल रत्न खो दिया है. अटल जी का विराट व्यक्तित्व और उनके जाने का दुख दोनों ही शब्दों के दायरे से पड़े है. वह एक जननायक, प्रखर वक्ता, ओजस्वी कवि, पत्रकार, प्रभावशाली अंतरराष्ट्रीय व्यक्तित्व के धनी थे. उनके निधन से एक युग का अंत हो गया है. उनका निधन संपूर्ण राष्ट्र के लिए अपूर्णीय क्षति है. मेरे लिए तो अटल जी का जाना पिता तुल्य संरक्षक का साया सिर से उठने के जैसा है. उन्होंने मुझे संगठन और शासन दोनों का महत्व समझाया. वे जब भी मिलते थे पिता की तरह खुश होकर गले लगाते थे. मेरे लिए उनका जाना एक ऐसी कमी है जो कभी भर नहीं पाएगी.
 


पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी ने अपने कुशल नेतृत्व और संघर्ष के द्वारा जनसंघ से लेकर भाजपा तक इस संगठनों को मजबूती के साथ खड़ा किया. उन्होंने भाजपा के विचारों और नीतियों को देश में जन जन तक पहुंचाने का काम किया. उन्ही के दृद्ध निश्चय और कठित परिश्रम का परिणाम है कि आज भाजपा की यात्रा यहां तक पहुंची है. अटल जी भले ही हमें छोड़कर चले गए, लेकिन उनकी वाणी, उनका जीवन, उनकी सादगी, उनके विचार हम समस्त भारतवासियों को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा. उनका ओजस्वी, तेजस्वी और यशस्वी व्यक्तित्व सदा हम देशवासियों का मार्गदर्शन करता रहेगा. अपार शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदना उनके परिवार और पूरे देशवासियों के साथ है. इस दुख की घड़ी में मैं अटल जी के चरणों में आदरपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं.

यह भी पढ़ें : अटल बिहारी वाजपेयी ने किताब के लोकार्पण पर दी थी हिदायत, 'राजनेताओं के चक्कर में मत पड़ो बेटा...'


 


इससे पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि दी थी. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'अटल जी आज हमारे बीच में नहीं रहे, लेकिन उनकी प्रेरणा, उनका मार्गदर्शन, हर भारतीय को, हर भाजपा कार्यकर्ता को हमेशा मिलता रहेगा. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और उनके हर स्नेही को ये दुःख सहन करने की शक्ति दे. ओम शांति!'

यह भी पढ़ें : बीजेपी मुख्यालय से निकलेगी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा

बता दें कि भारतीय राजनीति के अजातशत्रु कहे जाने वाले बीजेपी नेता और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में गुरुवार को निधन हो गया. वह बीते 11 जून से एम्स में भर्ती थे. वाजपेयी ने गुरुवार शाम 5:05 बजे अंतिम सांस ली. बुधवार को उनकी हालत गंभीर हो गई और उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा गया था.

टिप्पणियां

VIDEO : अटल बिहारी वाजपेयी का निधन

वाजपेयी को गुर्दा (किडनी) की नली में संक्रमण, छाती में जकड़न, मूत्रनली में संक्रमण आदि के बाद 11 जून को एम्स में भर्ती कराया गया था. मधुमेह पीड़ित 93 वर्षीय भाजपा नेता का एक ही गुर्दा काम करता था. वाजपेयी के निधन के तुरंत बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement