NDTV Khabar

Delhi Fire: 'मरने वाला हूं मैं, परिवार और बच्चों का खयाल रखना', मृत मजदूर का भाई को किया गया आखिरी कॉल

Delhi Fire: आग की लपटों में घिरे यूपी के एक 30 साल के कर्मचारी ने अपने भाई को आखिरी कॉल किया. यूपी के बिजनौर जिले के रहने वाले मुशर्रफ अली नाम के इस शख्स ने फोन पर कहा कि 'मैं मरने वाला हूं भाई....घर का और बच्चों का खयाल रखना.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Fire: 'मरने वाला हूं मैं, परिवार और बच्चों का खयाल रखना', मृत मजदूर का भाई को किया गया आखिरी कॉल

Delhi Fire: रविवार सुबह फैक्ट्री में लगी भीषण आग से 43 श्रमिकों की मौत हो गई.

खास बातें

  1. मजदूर ने अपने भाई को किया था आखिरी कॉल
  2. 'मैं मरने वाला हूं परिवार और बच्चों का खयाल रखना'
  3. यूप के बिजनौर का रहने वाला था मुशर्रफ अली
नई दिल्ली:

Delhi Fire: दिल्ली के रानी झांसी रोड पर अनाज मंडी इलाके में स्थित चार मंजिला फैक्ट्री में रविवार सुबह भीषण आग लगने से 43 श्रमिकों की मौत हो गई. जिस समय फैक्ट्री में आग लगी तब अधिकांश मजदूर वहां सो रहे थे. आग की लपटों में घिरे यूपी के एक 30 साल के कर्मचारी ने अपने भाई को आखिरी कॉल किया. यूपी के बिजनौर जिले के रहने वाले मुशर्रफ अली नाम के इस शख्स ने फोन पर कहा कि 'मैं मरने वाला हूं....घर का और बच्चों का खयाल रखना. मुशर्रफ यहां चार साल से काम कर रहे थे, उनके परिवार में तीन बेटियां और एक बेटा है. मुशर्रफ का परिवार बिजनौर में रहता है. हादसे में मुशर्रफ ने भी जान गंवा दी. 

Delhi Fire: इस फायरमैन ने बचाई 11 लोगों की जान, सत्येंद्र जैन ने कहा 'रियल हीरो'


मुशर्रफ ने फोन पर अपने भाई से कहा, 'मैं मरने वाला हूं भाई...हर जगह आग लगी हुई है. भाई, कल दिल्ली आओ और मुझे ले जाओ. हर जगह आग है और बचने का कोई रास्ता नहीं है. 'मैं आज जीवित नहीं रहूंगा. भाई कृपया मेरे परिवार का ख्याल रखना...मैं सांस नहीं ले पा रहा हूं... बस आकर मुझे ले जाओ...परिवार को संभालना. मुशर्रफ ने कहा कि वह मौत की खबर को घर के बड़ों को दे दे.

दिल्ली में 22 साल में भीषण आग लगने की पांच घटनाएं; 150 की मौत, लापरवाही सबसे बड़ा कारण

जब मुशर्रफ के भाई ने उसे खुद को बचाने की कोशिश करने के लिए कहा, तो उसने कहा, 'अब कोई रास्ता नहीं बचा है. सांस भी नहीं लिया जा रहा है. आग चारों तरफ से फैल रही है. मैं मरने वाला हूं भाई, बस तीन-चार मिनट बाकी हैं ...यह सब भगवान की मर्जी है...'

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने फैक्ट्री मालिक मोहम्मद रेहान को गिरफ्तार कर लिया. रेहान के खिलाफ पुलिस ने आईपीसी की धारा 304 (गैरइरादन हत्या) का मामला दर्ज किया गया है. तड़के आग लगने के बाद फरार मोहम्मद रेहान को शाम को पुलिस ने गिरफ्तार किया. उससे पूछताछ की जा रही है. रेहान के भाई को पुलिस ने पहले ही हिरासत में ले लिया था. इस हादसे में मृत 29 शवों की शिनाख्त अब तक हुई है. मारे गए 14 मजदूरों की पहचान होना बाकी है. फैक्ट्री मालिक रेहान के अलावा फैक्ट्री के मैनेजर फुरकान को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज ने बताया कि रेहान के भाइयों से भी पूछताछ की जा रही है. इसके अलावा कुछ अन्य लोग भी हिरासत में लिए गए हैं.

आप सांसद संजय सिंह ने MCD पर लगाया आरोप, कहा- फैक्ट्री अवैध थी तो उसे बंद क्यों नहीं किया गया?

टिप्पणियां

इस अग्निकांड के पीछे लापरवाही उजागर हुई है. बताया जाता है कि इन निर्माण इकाइयों के पास दमकल विभाग का अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) नहीं था. आसपास दमकल के वाहनों के आवागमन के लिए पर्याप्त जगह नहीं थी जिससे बचाव अभियान में दिक्कत हुई. दमकल कर्मी खिड़कियां काटकर भवन में दाखिल हुए.

VIDEO: दिल्ली के अनाज मंडी हुए आग हादसे के चश्मदीद से NDTV ने की बात



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Ind Vs Aus: स्टीव स्मिथ ने एमएस धोनी की तरह हेलीकॉप्टर शॉट खेलकर मारा छक्का, देखते रह गए कोहली, देखें Video

Advertisement