दिल्ली में कोरोना के हालात पर हफ्ते में तीसरी बार अमित शाह की अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक

Delhi Coronavirus Update: दिल्ली में कोरोना का आंकड़ा 56 हजार पार कर गया है और 2100 से  ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर बीते एक हफ्ते में अमित शाह और केजरीवाल की यह तीसरी बैठक है.

नई दिल्ली:

Delhi Coronavirus News: देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना से 4 लाख 10 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, वहीं 13 हजार से ज्यादा लोगों की अब तक मौत हो चुकी है. देश की राजधानी दिल्ली में भी कोरोना के हालात बेहद गंभीर हैं. दिल्ली में कोरोना का आंकड़ा 60 हजार के करीब पहुंच गया है और 2100 से  ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. महाराष्ट्र और तमिलनाडु के बाद देश में दिल्ली में सबसे ज्यादा मामले हैं. इस बीच दिल्ली में कोरोना के हालात को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने अहम बैठक बुलाई है. बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए. वहीं, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) और अन्य आला अधिकारी भी इस दौरान मौजूद रहे. बता दें कि दिल्ली में कोरोना के बढ़ते हालात पर बीते एक हफ्ते में अमित शाह और केजरीवाल की यह तीसरी बैठक है. 
 


उधर, दिल्ली में होम आइसोलेशन नीति में संशोधन किया गया है. शुक्रवार को उप राज्यपाल अनिल बैजल ने सभी कोरोना मरीजों को पांच दिन अनिवार्य रूप से क्वारंटाइन सेंटर भेजने का आदेश दिया था. लेकिन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विरोध के चलते यह फैसला वापस ले लिया गया. अब दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की बैठक में जो तय हुआ उसके आधार पर दिल्ली सरकार ने औपचारिक आदेश जारी किया है.

दिल्ली सरकार के संशोधित आदेश के मुताबिक दिल्ली में सभी कोरोना पॉजिटिव मरीजों को कोविड केयर सेंटर में क्लीनिकल और भौतिक परिस्थितियों (घर की स्थिति) के मूल्यांकन के बाद ही होम आइसोलेशन को चुनने की सुविधा दी जाएगी. 

यानी अब सभी कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों को पहले कोविड केयर सेंटर रेफेर किया जाएगा. कोविड केयर सेंटर में मरीज़ की क्लीनिकल स्थिति, बीमारी की गंभीरता और co-morbidities यानी अन्य गंभीर पुरानी बीमारियों का होना, इन सभी का मूल्यांकन किया जाएगा. इसके साथ ही मरीज की भौतिक स्थिति का भी मूल्यांकन किया जाएगा कि क्या उसके पास होम आइसोलेशन के लिए ज़रूरी सुविधाएं, जैसे न्यूनतम दो कमरे और अलग टॉयलेट उपलब्ध हैं या नहीं, ताकि परिवार और पड़ोसियों में संक्रमण न फैले. 

Newsbeep

उधर,  देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमितों का कुल आंकड़ा 4 लाख के पार पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोरोनावायरस मरीज़ों की कुल संख्या 4,10,461 हो गई है और जबकि इस वायरस से अब तक 13254 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के सबसे ज्यादा 15413 नए मामले सामने आए हैं और 306 लोगों की जान गई है. हालांकि, राहत की बात यह है कि 2,27,756 मरीज़ कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. रिकवरी रेट 55.48 प्रतिशत पर पहुंच गया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कोरोना पर अमित शाह और अरविंद केजरीवाल की बैठक