NDTV Khabar

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया जैसी बीमारियों से निपटने के लिए की बैठक

चमकी बुखार में अपनी तैयारी को लेकर लोगों और विपक्ष के निशाने पर आई मोदी सरकार ने शायद सबक सीख लिया है, जिसके बाद आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने अपने मंत्रालय और दिल्ली के अस्पतालों की बैठक की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया जैसी बीमारियों से निपटने के लिए की बैठक

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने की बैठक
  2. डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया से निपटने के लिए की बैठक
  3. बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और तीनों महापौर शामिल
नई दिल्ली:

चमकी बुखार में अपनी तैयारी को लेकर लोगों और विपक्ष के निशाने पर आई मोदी सरकार ने शायद सबक सीख लिया है, जिसके बाद आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री  डॉ. हर्षवर्धन  ने अपने मंत्रालय और दिल्ली के अस्पतालों की बैठक की. इस बैठक का मकसद दिल्ली और आसपास के अस्पताल डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और स्वाइन फ्लू जैसी बीमारी के लिए कितने तैयार है. स्वास्थ्य मंत्रालय में हुई इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन,  दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव, एम्स, आरएमएल, सफदरजंग, लेडी हार्डिंग अस्पताल के एमएस और तीनों दिल्ली नगर निगम के महापौर और अधिकारी, एनडीएमसी और दिल्ली कैंट के अधिकारी शामिल हुए. 

दिल्ली में लागू नहीं होगी आयुष्मान भारत योजना, अरविंद केजरीवाल बोले- हमारी योजना 'बड़ी'


बैठक में सभी अस्पतालों को निर्देश दिया गया कि आनेवाले मौसम को देख कर तैयारी रखें. अस्पतालों में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों के लिए जरूरी दवाई को स्टॉक उपलब्ध रखें. इसके अलावा टेस्ट के लिए सारी तैयारी रखें. वहीं, डेंगू और चिकनगुनिया के लिए वार्ड बनाया जाए. इसके अलावा प्लेटलेट्स की अवैलब्लिटी सुनिश्चित करें.वहीं, दिल्ली सरकार और तीनों नगर निगमों को निर्देश दिया गया है कि वो डेंगू, चिकनगुनिया की रोकथाम के लिए जरूरी कदम उठाए. 

भारत का सुपर कंप्‍यूटर 'मिहिर' किसानों की आय दोगुनी करने में करेगा मदद

इसको लेकर जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए गए है. इस साल अब तक 91 डेंगू के मामले सामने आ चुके जिसमें 22 डेंगू के मामले दिल्ली के है वहीं बाकी मामले दिल्ली से बाहर के हैं.  पिछले साल दिल्ली में डेंगू के 6364 आप मामले सामने आए थे. वहीं, मलेरिया के 92 मामले सामने आए हैं, जिसमें 44 मामले दिल्ली के हैं. पिछले साल मलेरिया के कुल 894 मामले सामने आए थे. इसी तरह इस साल चिकनगुनिया के 26 मामलों की पुष्टि हुई.

टिप्पणियां

VIDEO: मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत मामले में डॉ. हर्षवर्धन के खिलाफ जांच के आदेश



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement