निकिता मर्डर केस में फरीदाबाद पुलिस ने चार्जशीट पेश की, तौसीफ सहित तीन को बनाया आरोपी

SIT की करीब 600 पेज की चार्जशीट में तक़रीबन 60 गवाह हैं. पुलिस ने सीसीटीवी में कैद वारदात में तौसीफ़, रेहान और पिस्तौल सप्लाई करने वाले अजरूद्दीन को इस मामले में आरोपी बनाया है.

निकिता मर्डर केस में फरीदाबाद पुलिस ने चार्जशीट पेश की, तौसीफ सहित तीन को बनाया आरोपी

निकिता मर्डर केस को लेकर लोगों ने गुस्‍से का इजहार करते हुए प्रदर्शन किया था

खास बातें

  • 11 दिन के अंदर पेश कर दी गई है चार्जशीट
  • 600 पेज की चार्जशीट में है करीब 60 गवाह
  • निकिता हत्‍याकांड को लेकर लोगों में है भारी रोष
नई दिल्ली:

Nikita Murder Case: फ़रीदाबाद पुलिस ने बल्लभगढ़ (Ballabgarh)में हुए निकिता तोमर (Nikita Tomar) हत्याकांड में चार्जशीट (Charge Sheet) पेश कर दी है. 11 दिन के अंदर चार्जशीट पेश कर दी गई है.SIT की करीब 600 पेज की चार्जशीट में तक़रीबन 60 गवाह हैं. पुलिस ने सीसीटीवी में कैद वारदात में तौसीफ़, रेहान और पिस्तौल सप्लाई करने वाले अजरूद्दीन को इस मामले में आरोपी बनाया है. तौसीफ़ (Touseef)हत्या के इरादे से 26 अक्टूबर को निकिता के कॉलेज अग्रवाल कॉलेज पहुंचा था. तौसीफ़ और उसके साथी रेहान (Rehan) ने एक दिन पहले अग्रवाल कॉलेज की रेकी भी की थी. तीनों ही आरोपियों पर हत्या, आपराधिक साज़िश, अपहरण और आर्म्‍स एक्‍ट की धाराए लगाई गई हैं. हत्या के लिए इस्तेमाल किए गए पिस्तौल और गाड़ी को बरामद किया गया है. पिस्तौल और गाड़ी पर मिले फ़िगरप्रिंट तौसीफ़ और रेहान के फ़िंगरप्रिंट से मैच कर रहे हैं.

बल्लभगढ़ हिंसा में कई राजनीतिक पार्टियों और संगठनों के लोग शामिल

जानकारी के अनुसार, तौसीफ़ लगातार निकाता पर शादी करने का दबाव बनाता रहता था .2018 में उसने निकिता का अपहरण किया था बाद में परिवार ने दबाव में समझौता किया था.निकिता तौसीफ़ के फ़ोन नहीं उठाती थी, तौसीफ़ निकिता पर लगातार शादी करने का दबाव बना रहा था. निकिता का मृत्‍युपूर्व बयान (Dying declaration) भी है निकिता ने अस्पताल में अपने भाई को बताया था कि उसे तौसीफ़ ने गोली मारी थी.प्रत्यक्षदर्शियों के बयान भी हैं, लोगों ने तौसीफ़ की शिनाख़्त भी करी है.

छात्रा को जबरन कार में बैठा रहा था युवक, विरोध करने पर किया मर्डर, वारदात कैमरे में कैद

फरीदाबाद का निकिता हत्‍याकांड मामला हाल में देशभर में चर्चा और आक्रोश का विषय बना था. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे फरीदाबाद (Faridabad) के बल्लभगढ़ में निकिता के अपहरण में नाकाम आरोपियों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी. वारदात का सीसीटीवी फुटेज सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था. इंटरनेट से लेकर जमीन तक, इंसाफ की मांग को लेकर लोगों ने रोष का इजहार किया था.इस मामले को लेकर लोगों के बीच गुस्‍सा देखा गया है. जहां बल्लभगढ़ में पंचायत हुई, वहीं इंसाफ की मांग कर रहे लोगों ने दिल्ली-आगरा हाईवे जाम कर दिया. बल्लभगढ़ में प्रदर्शनकारियों के एक धड़े ने पुलिस पर पथराव भी किया.जन सुरक्षा व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस द्वारा हल्का बल प्रयोग कर उपद्रवियों को वहां से खदेड़ा गया था.पत्थरबाजी में 10 पुलिस कर्मियों को चोटें आईं. उपद्रवियों के खिलाफ थाना शहर बल्लभगढ़ में मुकदमा दर्ज किया गया है. गिरफ्तार सभी आरोपियों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं. पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार आरोपियों का कोविड-19 टेस्ट कराने पर तीन आरोपी पॉजिटिव पाए गए. इन तीनों को क्वारंटाइन किया गया है. 

Newsbeep

निकिता हत्याकांड : प्रदर्शनकारियों ने जाम किया हाईवे

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com