NDTV Khabar

रॉबर्ट वाड्रा की ED में पेशी के बारे में पूछे जाने पर प्रियंका गांधी ने कहा, "मैं अपने पति के साथ हूं..."

रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) की ED में पेशी के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) ने कहा कि, 'मैं अपने पति के साथ हूं..

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. प्रियंका गांधी ने कहा, 'मैं अपने पति के साथ हूं
  2. 'ईडी ऑफिस जाकर मैंने संदेश दिया'
  3. रॉबर्ट वाड्रा से मनी लॉन्डरिंग मामले में पूछताछ
नई दिल्ली:

रॉबर्ट वाड्रा की ED में पेशी के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi) ने कहा कि, 'मैं अपने पति के साथ हूं..' पति रॉबर्ट वाड्रा (Robert Vadra) को ED दफ्तर छोड़ने के बाद प्रियंका गांधी जब वापस कांग्रेस दफ्तर पहुंचीं तो NDTV से बात करते हुए उन्होंने कहा कि 'मैं अपने पति के साथ हूं.' ईडी ऑफिस जाकर मैंने यह संदेश दिया है कि मैं अपने पति के साथ हूं. बता दें कि प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा से ईडी मनी लॉन्डरिंग मामले में पूछताछ करने वाली है. पति रॉबर्ट वाड्रा को ईडी ऑफिस ड्रॉप करने के बाद प्रियंका गांधी कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर पदभार संभाला और पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की.

यह भी पढ़ें: 'समान पद, बराबर कद': एक ही कमरे में बैठेंगे प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया, दोनों की लगी नेम प्लेट


 

 

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेता बोले: मोदी जी का दुर्भाग्य है कि वह अपनी पत्नी के साथ पोस्टर नहीं लगाते

 

 

प्रियंका शाम करीब साढ़े चार बजे 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय पहुंचीं. उनके कांग्रेस मुख्यालय पहुंचने के साथ ही बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता जमा हो गए और 'प्रियंका गांधी जिंदाबाद' और प्रियंका नहीं ये आंधी, दूसरी इंदिरा गांधी' है के नारे लगाने लगे. इससे पहले पार्टी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी कार्यालय पहुंचकर कार्यभार संभाला. हाल ही में प्रियंका को महासचिव-प्रभारी (पूर्वी उत्तर प्रदेश) और सिंधिया को महासचिव-प्रभारी (पश्चिमी उत्तर प्रदेश) नियुक्त किया गया है.

 

यह भी पढ़ें: अमेरिका से वापस आते ही काम में जुटीं प्रियंका गांधी वाड्रा : पार्टी में मुख्यालय में मिला कमरा, बैठकों का दौर शुरू

टिप्पणियां

बता दें कि सपा और बीएसपी ने कांग्रेस को अभी अपने संगठन में शामिल नहीं किया है. इसके बाद से कांग्रेस ने भी इसकी परवाह न करते हुए उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अकेले लड़ने कर दिया. इतना ही नहीं कांग्रेस ने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) वाड्रा को भी राजनीति में उतार दिया. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मात्र 2 सीटें मिली थीं और कुल वोट प्रतिशत 8 से भी कम था. ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि पूर्वांचल में प्रियंका गांधी वाड्रा का जादू कितना चल पाता है. वाराणसी पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र है, इसका असर पूरे पूर्वांचल पर पड़ता है, पिछले चुनाव  में आजमगढ़ की सीट छोड़कर सभी सीटें एनडीए के खाते में गई थीं.

VIDEO: कांग्रेस दफ्तर में प्रियंका का कमरा​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement