इंटरनेट पर अपराध करने वालों की खैर नहीं, गृह मंत्रालय गठित करेगा साइबर पुलिस बल

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि इंटरनेट पर अपराधों की निगरानी के लिए गृह मंत्रालय के तहत एक साइबर पुलिस बल का गठन किया जाएगा.

इंटरनेट पर अपराध करने वालों की खैर नहीं, गृह मंत्रालय गठित करेगा साइबर पुलिस बल

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

साइबर क्राइम करने वालों की अब खैर नहीं. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि इंटरनेट पर अपराधों की निगरानी के लिए गृह मंत्रालय के तहत एक साइबर पुलिस बल का गठन किया जाएगा. सिंह ने गृह मंत्रालय के नवगठित ‘साइबर एंड इंफार्मेशन सिक्युरिटी’ (सीआईएस) डिविजन के लिए कार्ययोजना पर एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि सीआईएस के तहत एक भारतीय साइबर अपराध समन्वय केंद्र और साइबर पुलिस बल का गठन किया जाएगा.

यह भी पढ़ें - SMS में आए लिंक को क्लिक करते ही आपके खाते से उड़ सकते हैं सारे पैसे, इन तरीकों से करें बचाव 

उन्होंने इंटरनेट पर अश्लील चीजें साझा करने की बढ़ती घटनाओं पर चिंता भी जताई. उन्होंने साइबर स्पेस की कड़ाई से निगरानी करने और भारतीय कानूनों का उल्लंघन करने वाली वेबसाइटों को ब्लाक करने के लिए एक प्रभावी प्रणाली का निर्देश दिया. एक सरकारी बयान में कहा गया कि सीआईएस डिविजन का गठन गृह मंत्रालय के तहत 10 नवम्बर 2017 को किया गया था. 

यह भी पढ़ें - 'NCR में हर 10 मिनट में होता है एक साइबर अपराध'

Newsbeep

इसमें कहा गया है, ‘सीआईएस में चार शाखाएं होंगी जिसमें मुख्य तौर पर सिक्युरिटी क्लीयरेंस, साइबर क्राइम प्रिवेंशन, साइबर सिक्युरिटी और इंफार्मेशन सिक्युरिटी विंग शामिल है.  प्रत्येक का नेतृत्व अवर सचिव स्तर के एक अधिकारी द्वारा किया जाएगा.’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: साइबर फ्रॉड से बचने के तरीके जानें (इनपुट भाषा से)