NDTV Khabar

प्रियंका की एंट्री पर परेश रावल का कांग्रेस पर तंज: अब ट्रंप कार्ड उतारा है तो क्या अब तक 'जोकर' से खेल रहे थे?

अभिनेता और बीजेपी सांसद परेश रावल ने भी प्रियंका गांधी को महासचिव बनाए जाने को लेकर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला और राहुल गांधी के लिए 'आपत्तिजनक शब्द' का इस्तेमाल किया है.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रियंका की एंट्री पर परेश रावल का कांग्रेस पर तंज: अब ट्रंप कार्ड उतारा है तो क्या अब तक 'जोकर' से खेल रहे थे?

प्रियंका गांधी की पॉलिटिकल एंट्री पर परेश रावल का बयान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

प्रियंका गांधी की सक्रिय राजनीति में एंट्री के बाद सियासत धुरी में एक बार फिर से कांग्रेस पार्टी आ गई है. ऐसा कहा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले प्रियंका गांधी के रूप में कांग्रेस ने अपना ट्रंप कार्ड चला है और अपना बड़ा सियासी दांव चला है. कांग्रेस पार्टी को उम्मीद है कि प्रियंका के आने से यूपी की राजनीति में कांग्रेस का कद बढ़ेगा और लोकसभा चुनाव में उसे अनुकूल परिणाम मिलेंगे. मगर प्रियंका गांधी को राजनीति में उतारने के फैसले पर कई तरह की बयानबाजियां सामने आ रही हैं. अभिनेता और बीजेपी सांसद परेश रावल ने भी प्रियंका गांधी को महासचिव बनाए जाने को लेकर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला और तंज सकते हुए राहुल गांधी के लिए 'आपत्तिजनक शब्द' का इस्तेमाल किया है. 

कांग्रेस के पोस्टर में 'द्रौपदी वस्त्रहरण' पर विवाद, BJP ने राहुल से की माफी की मांग, प्रियंका गांधी से पूछा सवाल


अहमदाबाद पूर्वी से बीजेपी सांसद परेश रावल ने प्रियंका गांधी की एंट्री पर एक ट्वीट किया और कांग्रेस के इस फैसले का मजाक बनाया. उन्होंने लिखा 'वो कहते हैं कि अब हमने अपना ट्रंप कार्ड उतारा है, तो हमें ये पूछना है कि अब तक क्या जोकर से खेल रहे थे?'. बता दें कि बीजेपी की ओर से प्रियंका गांधी के संबंध में यह पहला बयान नहीं है. इससे पहले प्रियंका गांधी को लेकर बिहार में बीजेपी के मंत्री ने भी एक अजीब बयान दिया है. 

लोकसभा चुनाव 2019 : उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी के सामने खड़ी हैं 10 बड़ी चुनौतियां

बिहार के मंत्री विनोद नारायण झा ने प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस महासचिव बनाए जाने पर कहा, "खूबसूरत चेहरों के दम पर वोट नहीं जीते जा सकते... इससे भी बढ़कर तथ्य यह है कि वह रॉबर्ट वाड्रा की पत्नी हैं, जिन पर भूमि घोटाले और भ्रष्टाचार के कई मामलों में शामिल होने का आरोप है. वह बेहद खूबसूरत हैं, लेकिन उसके अलावा उनकी कोई राजनैतिक उपलब्धि नहीं है.."

प्रियंका गांधी कांग्रेस की 'ट्रंप कार्ड', सही समय पर उनकी नियुक्ति हुई है : शिवसेना

बता दें कि प्रियंका गांधी को कांग्रेस ने ऐसे वक्त में राजनीति में उतारा है, जब यूपी में वह पूरी तरह से अकेली है. बसपा-सपा गठबंधन से कांग्रेस को अलग किये जाने के बाद राहुल गांधी ने प्रियंका गांधी को पूर्वी यूपी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी यूपी का जिम्मा दिया. कांग्रेस को इस बात की उम्मीद है कि प्रियंका की वजह से कांग्रेस की स्थिति सूबे में सुधरेगी और वह यूपी में मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने में कामयाब होगी. 

टिप्पणियां

VIDEO: प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस को कितना फायदा?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement