NDTV Khabar

Pulwama Attack में नया खुलासा, 350 नहीं 60 किलो RDX का हुआ इस्तेमाल, ओवरटेक कर किया विस्फोट

जम्मू कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Attack) में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ (CRPF) के 40 से अधिक जवान शहीद हो गए. अब इसमें नई जानकारी सामने आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. SUV नहीं कार में भरे थे विस्फोटक
  2. 350 किलो नहीं 60 किलो RDX था
  3. ओवरटेक करके किया विस्फोट: सूत्र
नई दिल्ली:

जम्मू कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Attack) में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ (CRPF) के 40 से अधिक जवान शहीद हो गए. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी ली है. जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर यह हमला उस समय हुआ जब सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) के 78 गाड़ियों के एक काफिले को जैश आतंकी ने विस्फोटकों से भरी एक गाड़ी को जवानों से भरे बस में भिड़ा दिया, जिससे बस के परखच्चे उड़ गए. शुरुआती जानकरी में ऐसी खबरें थी कि जैश आतंकी ने एसयूवी में 350 किलो आरडीएक्स भर रखा था. लेकिन सूत्रों ने बताया कि आतंकी एसयूवी में नहीं, बल्कि एक कार में था और उसमें 350 नहीं 60 किलो आरडीएक्स रखा हुआ था. वहीं, सूत्रों ने यह भी बताया कि यह विस्फोट को बाईं तरफ से ओवरटेक करके अंजाम दिया गया.

Pulwama Terror Attack: गृहमंत्री राजनाथ सिंह बडगाम पहुंच शहीद जवान को दिया कंधा, देखें VIDEO


हमले को लेकर पूरा देश गुस्से में है. पीएम मोदी ने कहा कि आतंकी संगठनों और उनके सरपरस्त बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं. उन्हें बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. मैं देश को भरोसा देता हूं, हमले के पीछे जो ताकतें हैं, इस हमले के जो भी गुनहगार हैं, उन्हें उनके किए की सजा अवश्य मिलेगी. 

Pulwama Attack: अब पाकिस्तान नहीं जाएंगे जावेद अख्तर-शबाना आजमी, लिखा- 'कृष्ण ने अर्जुन से कहा...'

पीएम मोदी ने कहा था कि इस समय बड़े आर्थिक बदहाली के दौर से गुजर रहे हमारे पड़ोसी देश को ये भी लगता है कि वो ऐसी तबाही मचाकर, भारत को बदहाल कर सकता है. उसके ये मंसूबे भी कभी पूरे नहीं होंगे. 130 करोड़ हिंदुस्तानी ऐसी हर साजिश, ऐसे हर हमले का मुंहतोड़ जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में अलग-थलग पड़ चुका हमारा पड़ोसी देश अगर ये समझता है कि जिस तरह के कृत्य वो कर रहा है, जिस तरह की साजिशें रच रहा है, उससे भारत में अस्थिरता पैदा करने में सफल हो जाएगा, तो वो बहुत बड़ी भूल कर रहा है. उन्होंने कहा कि जो हमारी आलोचना कर रहे हैं, उनकी भावनाओं को भी मैं समझ रहा हूं. उनका पूरा अधिकार है. लेकिन मेरा सभी साथियों से अनुरोध है कि, ये बहुत ही संवेदनशील और भावुक समय है, इसलिए राजनीतिक छींटाकशी से दूर रहें. इस हमले का देश एकजुट होकर मुकाबला कर रहा है, ये स्वर विश्व में जाना चाहिए. 

यह भी पढ़ें: पुलवामा हमले के बाद भी चीन ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की अपील का समर्थन से किया इनकार

टिप्पणियां

उधर, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, विदेश सचिव ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त को विदेश मंत्रालय में तलब किया और पुलवामा आतंकवादी हमले के मद्देनज़र कड़ी आपत्ति दर्ज की है. सूत्रों ने बताया है कि विदेश सचिव ने कह दिया है कि पाकिस्तान को जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ त्वरित तथा दिखने वाली कार्रवाई करनी होगी, और उसे तुरंत आतंकवाद से जुड़े गुटों और लोगों को अपनी धरती से काम करने देना बंद करना होगा. उन्होंने गुरुवार को पाकिेस्तान के विदेश मंत्रालय द्वारा जारी बयान को भी खारिज कर दिया. 

VIDEO: आतंकवादी बड़ी गलती कर चुके हैं, सेना को दी पूरी छूट​: पीएम मोदी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement