पुलवामा आतंकी हमले पर बोले डोनाल्ड ट्रंप: भारत और पाकिस्तान के बीच खतरनाक स्थिति

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने आज कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच स्थिति "बहुत खतरनाक" है.

पुलवामा आतंकी हमले पर बोले डोनाल्ड ट्रंप: भारत और पाकिस्तान के बीच खतरनाक स्थिति

पुलवामा आतंकी हमले पर डोनाल्ड ट्रंप का बयान

वाशिंगटन:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने आज कहा कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच स्थिति "बहुत खतरनाक" है. समाचार एजेंसी एएफपी ने यह जानकारी दी है. समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ओवल ऑफिस में संवाददाताओं से कहा कि 'यह दोनों देशों के बीच बहुत खतरनाक स्थिति है.' उन्होंने यह भी कहा कि इस समय भारत और पाकिस्तान के बीच बहुत सारी समस्याएं हैं. बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे और इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

यह भी पढ़ें: भारत-पाक में बढ़े तनाव के बीच इमरान खान ने सेना को किया अलर्ट, पुलवामा हमले में हाथ होने से भी इनकार

दरअसल, पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत पाकिस्तान को वैश्विक तौर पर अलग-थलग करने की कोशिश कर रहा है. बताया जा रहा है कि कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों इस सदी का अब तका सबसे बड़ा आतंकी हमला है. पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान को दिए गए "मोस्ट फेवर्ड नेशन" के दर्जे को भी छीन लिया है और वहीं पाकिस्तान की वस्तुओं पर 200 फीसदी का सीमा शुल्क भी लगा दिया है. 

भारत ने कहा है कि उसके पास पुलवामा हमले में पाकिस्तान के शामिल होने के पुख्ता साक्ष्य हैं और इस हमले में पूरी तरह से पाकिस्तान और आईएसआई का हाथ है. हालांकि, पाकिस्तान सरकार ने हमले को "गंभीर चिंता का विषय" बताते हुए इसमें शामिल होने से इनकार किया है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दरअसल, गुरुवार यानी 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए.

VIDEO: पाक पर बन पाएगा दबाव?