राहुल गांधी की 'रेप इन इंडिया' बयान पर भड़कीं स्मृति ईरानी, सोनिया गांधी को दी ये नसीहत

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' (भारत में दुष्कर्म) वाली टिप्पणी पर शुक्रवार को उन्हें निशाने पर लिया.

खास बातें

  • स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी के बयान की निंदा की
  • भारत की जनता इसका मुंहतोड़ जवाब देगी- ईरानी
  • राहुल गांधी के बयान पर सदन में जमकर हंगामा हुआ
नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के 'रेप इन इंडिया' (Rape in India) वाली टिप्पणी पर शुक्रवार को उन्हें निशाने पर लिया और इसे दुखद बताया और कहा कि कांग्रेस नेता दुष्कर्म पर राजनीति कर रहे हैं. स्मृति (Smriti Irani) ने राहुल की मां व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से राहुल को सलाह देने और उनका मार्गदर्शन करने का आग्रह किया है. स्मृति (Smriti Irani) ने पूर्व कांग्रेस प्रमुख के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने गुरुवार को झारखंड में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री के प्रोजेक्ट 'मेक इन इंडिया' पर चुटकी लेते हुए कहा था, "पहले 'मेक इन इंडिया' था, लेकिन अब यह 'रेप इन इंडिया' बन गया है."

'रेप इन इंडिया' वाली टिप्पणी के लिए माफी मांगने से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी का साफ इंकार

संसद के बाहर मीडिया से बातचीत में ईरानी  (Smriti Irani) ने कहा कि कांग्रेस नेता इस हद तक कैसे गिर सकते हैं, जिनकी टिप्पणी का मतलब 'पुरुषों को भारत में दुष्कर्म करने के लिए आमंत्रित करने जैसा है.' लोकसभा के अंदर राहुल पर निशाना साधते हुए ईरानी ने कहा, "देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि गांधी परिवार के किसी व्यक्ति ने महिलाओं का अपमान करने और उनके दुष्कर्म का आह्वान करने की धृष्टता की है. उन्होंने कहा, "हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार है कि कोई नेता जोर-शोर से कह रहा है कि भारतीय महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया जाना चाहिए. क्या उनके कहने का यह मतलब है कि भारत में हर पुरुष महिलाओं का दुष्कर्म करना चाहता है? क्या यह राहुल गांधी का देश के लोगों को संदेश है?"

राहुल गांधी ने शेयर किया PM नरेंद्र मोदी का पुराना वीडियो, कहा - इस भाषण के लिए माफी मांगें प्रधानमंत्री

निचले सदन में अन्य सांसदों के साथ मंत्री ने राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग की. उन्होंने कहा, "राहुल गांधी को राजनीतिक मजाक उड़ाने और 'भारत में महिलाओं का दुष्कर्म करने के आह्वान' के लिए दंडित किया जाना चाहिए." ईरानी ने कहा कि महिलाएं किसी की निजी संपत्ति नहीं हैं और उन्हें (राहुल को) पता होना चाहिए कि अगर कोई महिलाओं के साथ दुष्कर्म के लिए उकसाता है, तो महिलाओं को पता है कि उन्हें कैसे उचित जवाब देना है. 

Newsbeep

राहुल गांधी के 'रेप इन इंडिया' बयान पर लोकसभा में जबरदस्त हंगामा, महिला सांसदों ने माफी की मांग की

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


डीएमके सांसद कनिमोझी ने कहा कि यह बयान 'संसद के बाहर' दिया गया था. इस पर पलटवार करते हुए मंत्री ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध के खिलाफ आवाज उठाना कम से कम एक ऐसा काम है, जो एक सांसद कर सकता है. स्मृति ईरानी ने कहा, "मैं बहुत निराश हूं कि एक महिला होने पर भी आप (कनिमोझी) पार्टी लाइन से परे नहीं जा सकती हैं और महिलाओं के खिलाफ अपराध पर अपनी आवाज नहीं उठा सकती हैं." इस घटना के बाद भाजपा के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया, "सब कुछ विफल होने के बाद, राहुल गांधी भारत का अपमान करने और बदनाम करने के लिए वापस आ गए हैं! यह दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध का राजनीतिकरण करने के लिए अपमानजनक और असंवेदनशील है. लेकिन हम गांधी परिवार के वंशज से क्या उम्मीद कर सकते हैं."