NDTV Khabar

राहुल की खुर्शीद को नसीहत : जब पार्टी आरएसएस के खिलाफ लड़ रही है तो मिलकर प्रयास करना होगा

राहुल ने ‘जन आक्रोश’ रैली में कहा, ‘‘कभी-कभी हमारी पार्टी में अलग-अलग विचार होते हैं. यहां सलमान खुर्शीद जी बैठे हुए हैं. मैं यह मानने को तैयार हूं कि हमारी पार्टी में अलग-अलग विचार होंगे और मैं अलग-अलग विचारों को बढ़ाउंगा.''

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल की खुर्शीद को नसीहत : जब पार्टी आरएसएस के खिलाफ लड़ रही है तो मिलकर प्रयास करना होगा

दिल्‍ली में जन आक्रोश रैली को संबोधित करते कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी

नई दिल्‍ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और अहम चुनावों के पहले पार्टी को मुश्किल में डालने वाले बयान देने वाले नेताओं को रविवार को इशारों-इशारों में नसीहत दी कि जब पार्टी आरएसएस के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है तो सबको मिलकर प्रयास करना होगा. राहुल ने ‘जन आक्रोश’ रैली में कहा, ‘‘कभी-कभी हमारी पार्टी में अलग-अलग विचार होते हैं. यहां सलमान खुर्शीद जी बैठे हुए हैं. मैं यह मानने को तैयार हूं कि हमारी पार्टी में अलग-अलग विचार होंगे और मैं अलग-अलग विचारों को बढ़ाउंगा. मैं सलमान खुर्शीद की रक्षा करूंगा, लेकिन एक बात मैं कहना चाहता हूं कि जब पार्टी लड़ाई लड़ रही है, जब पार्टी आरएसएस के खिलाफ लड़ रही है तो हमें एकसाथ मिलकर लड़ने का प्रयास करना है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा के अध्यक्ष और नरेंद्र मोदी जी अपने मंच ऐसी बात कभी नहीं कर सकते क्योंकि उनकी पार्टी में सिर्फ एक सोच चल सकती है और वो है नरेंद्र मोदी और अमित शाह की सोच.’’ राहुल ने कहा, ‘‘उस पार्टी में न अरुण जेटली जी आदर होगा, न आडवाणी जी का आदर होगा और न ही उनके मुख्यमंत्रियों का आदर होगा.’’

VIDEO: 2019 में कांग्रेस जीतेगी, RSS-BJP नफरत फैलाती है : राहुल

गौरतलब है कि पिछले दिनों खुर्शीद ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में एक कार्यक्रम में कहा था कि ‘कांग्रेस के दामन पर मुसलमानों के खून के दाग हैं.’ उनके इस बयान से कर्नाटक विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस की किरकिरी हुई और भाजपा ने उस पर जमकर निशाना साधा.

यह भी पढ़ें : कर्नाटक चुनाव के बाद 10-15 दिन की छुट्टी लेंगे राहुल गांधी, तीर्थयात्रा के लिए जाएंगे...

टिप्पणियां
वैसे, यह कोई पहली बार नहीं है कि चुनाव से पहले कांग्रेस के किसी नेता ने पार्टी को मुश्किल में डालने वाले बयान दिए हैं. पिछले साल गुजरात विधानसभा चुनाव से ऐन पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए ‘नीच’ शब्द का इस्तेमाल किया था जिस वजह से कांग्रेस के लिए किरकिरी वाली स्थिति पैदा हो गई थी.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement