NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल के बाद आज बैठक करेंगे विपक्षी दल, VVPAT के मुद्दे पर जाएंगे चुनाव आयोग

Elections 2019 : प्रमुख विपक्षी दलों के नेता सरकार बनाने के दावे के लिए गैर-एनडीए गठबंधन बनाने की संभावनाओं पर चर्चा करेंगे, वीवीपैट के मुद्दे पर जाएंगे चुनाव आयोग

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल के बाद आज बैठक करेंगे विपक्षी दल, VVPAT  के मुद्दे पर जाएंगे चुनाव आयोग

लोकसभा चुनाव के परिणामों पर आए पूर्वानुमानों को लेकर विपक्षी दलों के नेताओं की मंगलवार को बैठक होगी.

खास बातें

  1. एन चंद्रबाबू नायडू ने कोलकाता में ममता बनर्जी से मुलाकात की
  2. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी ममता बनर्जी से फोन पर बात की
  3. विपक्ष के नेता मंगलवार को चुनाव आयोग से भी मिलेंगे
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव के नतीजे (Lok Sabha elections Results) आने से पहले कांग्रेस (Congress) एवं अन्य प्रमुख विपक्षी दलों (Opposition Parties) के नेता मंगलवार को दिल्ली में मुलाकात करके राजनीतिक हालात पर तथा सरकार बनाने के दावे के लिए गैर-एनडीए गठबंधन बनाने की संभावनाओं पर चर्चा करेंगे.

विपक्ष को एकजुट करने के प्रयास के तहत आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगूदेशम पार्टी के नेता एन चंद्रबाबू (N Chandrababu Naidu) नायडू ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के साथ उनके कोलकाता स्थित आवास पर बैठक की और त्रिशंकु परिणाम की स्थिति में केंद्र में गैर-भाजपाई सरकार बनाने की संभावना पर उनसे चर्चा की. नायडू ने ‘महागठबंधन' की भविष्य की रणनीति पर बनर्जी के साथ 45 मिनट तक बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के समर्थन से क्षेत्रीय दलों के साथ गैर-भाजपाई सरकार बनाने की संभावना पर गुफ्तगू की.

एक सूत्र ने कहा, ‘‘बैठक में फैसला किया गया कि 23 मई को चुनाव परिणाम आने के बाद त्रिशंकु परिणाम की स्थिति में महागठबंधन के अन्य भागीदारों के साथ विस्तार से चर्चा की जाएगी.'' सूत्र ने कहा कि ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे पर भी फैसला 23 मई के बाद लिया जाएगा. उन्होंने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सोमवार को बनर्जी से फोन पर बात की और ‘महागठबंधन' की रणनीति पर चर्चा की.


Elections 2019: Exit Polls के बाद BSP प्रमुख मायावती 23 मई तक अपनाएंगी यह नीति...

चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को भी बनर्जी से मुलाकात की थी. रविवार को वह यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) तथा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से नई दिल्ली में अलग-अलग मिले. उन्होंने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, बसपा अध्यक्ष मायावती और आप संयोजक अरविंद केजरीवाल से भी चर्चा की. इस बीच अखिलेश और मायावती ने भी मुलाकात की और आगे के लिए अपनी रणनीति तय की.

Elections 2019: BJP के इस बड़े सहयोगी दल को एग्जिट पोल पर भरोसा नहीं, दिया यह बयान...

विपक्ष के नेता मंगलवार को चुनाव आयोग से भी मिलेंगे और वीवीपीएटी की पर्चियों का मिलान सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक करने का आग्रह करेंगे. विपक्षी नेताओं की अनौपचारिक मुलाकात में कांग्रेस की ओर से अहमद पटेल एवं गुलाम नबी आजाद, तृणमूल कांग्रेस से डेरेक ओ ब्रायन, एनसीपी के शरद पवार, माकपा के सीताराम येचुरी, भाकपा के डी राजा और बसपा के सतीश चंद्र मिश्रा सहित कई नेता शामिल हो सकते हैं.

Election 2019: चुनाव परिणाम से ठीक पहले अमित शाह ने NDA के सहयोगियों को डिनर पर बुलाया, नई रणनीति पर हो सकती है बात...

लोकसभा चुनाव के लिए सात चरण में मतदान हुआ है और 23 मई को मतगणना होगी . दरअसल, विपक्ष की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि हर विधानसभा क्षेत्र के तहत आने वाले किन्हीं पांच बूथों पर वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान किया जाएगा. हालांकि कांग्रेस एवं कई अन्य विपक्षी दल लगातार यह मांग उठा रहे थे कि कम से कम 50 फीसदी वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान किया जाए. हालांकि एक्जिट पोल के मद्देनजर विपक्ष ने थोड़ी सावधानी बरतते हुए कोई औपचारिक बैठक नहीं करने का फैसला किया है.

VIDEO : एक्जिट पोल में विपरीत अनुमानों के बावजूद राहुल गांधी का आत्मविश्वास ऊंचा 

टिप्पणियां

कांग्रेस नेताओं ने सोनिया गांधी के दिशानिर्देश में शनिवार को बैठक की थी जहां मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की गई. राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि यह सिर्फ बाजार का दबाव है. समाजवादी नेता शरद यादव भी कुछ ऐसा ही सोचते हैं. एक्जिट पोल को ‘गपशप' बताने वाली तृणमूल कांग्रेस का कहना है कि उसके अपने आकलन के अनुसार पार्टी फिर से पश्चिम बंगाल में सभी सीटों पर जीत दर्ज कर रही है. एक्जिट पोल की आलोचना करते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने दावा किया कि यह सभी फर्जी हैं और गलत तरीके से तैयार किए गए है.
(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement