NDTV Khabar

Election 2019: चुनाव परिणाम से ठीक पहले अमित शाह ने NDA के सहयोगियों को डिनर पर बुलाया, नई रणनीति पर हो सकती है बात...

Election 2019: अमित शाह (Amit Shah) द्वारा आयोजित होने वाली यह डिनर पार्टी दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में होगी. सूत्रों के अनुसार अमित शाह (Amit Shah) डिनर के दौरान सहयोगियों से गठबंधन की रण्नीति को लेकर बात कर सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Election 2019: चुनाव परिणाम से ठीक पहले अमित शाह ने NDA के सहयोगियों को डिनर पर बुलाया, नई रणनीति पर हो सकती है बात...

Election 2019: अमित शाह ने एनडीए नेताओं को डिनर पर बुलाया

खास बातें

  1. एग्जिट पोल आने के बाद हो रहा है डिनर का आयोजन
  2. पीएम मोदी भी हो सकते हैं डिनर में शामिल
  3. चुनाव नतीजों के बाद की रणनीति पर भी हो सकती है बात
नई दिल्ली:

Election 2019: EXIT Poll के आने के बाद भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने NDA के सभी दलों के नेताओं को डिनर पर बुलाया है. इस डिनर पार्टी में पीएम मोदी (PM Modi) भी शामिल हो सकते हैं. अमित शाह (Amit Shah) द्वारा आयोजित होने वाली यह डिनर पार्टी दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में होगी. सूत्रों के अनुसार अमित शाह (Amit Shah) डिनर के दौरान सहयोगियों से गठबंधन की रण्नीति को लेकर बात कर सकते हैं. बता दें कि रविवार को आखिरी चरण के मतदान के बाद तमाम एग्ज़िट पोल NDA की जीत का अनुमान लगा रहे हैं. एनडीटीवी के पोल ऑफ़ पोल्स में भी NDA को 302 सीटें मिलने का अनुमान लगाया जा रहा है.

Election 2019: पांच साल में पहली बार पीएम मोदी ने की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस, रखी अपनी बात लेकिन...


लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के भी शामिल होने की उम्मीद है. पार्टी सूत्रों ने इसकी सूचना दी. बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री एवं जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और लोक जन शक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान के हिस्सा लेने की उम्मीद है. यह बैठक 23 मई को लोकसभा चुनाव परिणाम सामने आने से दो दिन पूर्व होने जा रही है.

लोकसभा चुनाव 2019: बिहार में नीतीश कुमार की पार्टी की वजह से बीजेपी का पलड़ा भारी, प्रणय रॉय का विश्लेषण

पार्टी मुख्यालय में केंद्रीय मंत्रियों सहित भाजपा नेताओं की एक बैठक सहयोगी दलों के साथ रात्रि भोज से पहले होनी है. इस दौरान एनडीए के अन्य दल अमित शाह के साथ मिलकर नई रणनीति पर भी बात कर सकते हैं. गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए रविवार शाम को जारी ज्यादातर एक्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर भाजपा नीत राजग बहुमत से केन्द्र में सरकार बनाता दिख रहा है. लगभग सभी एक्जिट पोल में भाजपा नीत गठबंधन को 272 के जादुई आंकड़े को पार करता दिखाया गया है. ध्यान हो कि एग्जिट पोल के आने के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी विशेष टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव का परिणाम एग्जिट पोल के अनुरूप ही होगा. अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने कहा कि एग्जिट पोल के अनुरूप ही चुनाव परिणाम आने की स्थिति में नरेंद्र मोदी (PM Modi) की अगुवाई वाली राजग एक बार फिर सत्ता में आएगी. बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के लिए रविवार शाम को जारी ज्यादातर एक्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर भाजपा नीत राजग बहुमत से केन्द्र में सरकार बनाता दिख रहा है. लगभग सभी एक्जिट पोल में भाजपा नीत गठबंधन को 272 के जादुई आंकड़े को पार करता दिखाया गया है. अरुण जेटली (Arun Jaitley) ने अपने ब्लॉग ‘एक्जिट पोल का संदेश' में कहा कि हम में से कई एक्जिट पोल की सत्यता और उसके सटीक होने को लेकर तकरार कर सकते हैं.

अरुण जेटली ने 'ब्रिटेन की कंपनी में हिस्सेदारी' को लेकर राहुल गांधी पर साधा निशाना

उन्होंने आगे कहा कि लेकिन वास्तविकता यह है कि विभिन्न एक्जिट पोल में एक समान संदेश है और परिणाम भी मोटे तौर पर इसी संदेश के अनुरूप होंगे. उन्होंने कहा कि एक्जिट पोल में ईवीएम का कोई योगदान नहीं होता है और ऐसे में अगर आम चुनाव का वास्तविक परिणाम भी अगर एक्जिट पोल के अनुरूप रहता है तब विपक्ष द्वारा उठाये गए फर्जी ईवीएम मुद्दे का भी अस्तित्व नहीं रह जायेगा.

अरुण जेटली ने चुनाव को जोड़ा क्रिकेट मुकाबले से, शेयर किया फनी वीडियो- ये ट्रॉफी कितने में बिक रही है?

 भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि अगर एक्जिट पोल 2014 के चुनाव परिणाम की तरह होते हैं तब यह स्पष्ट हो जायेगा कि भारतीय लोकतंत्र काफी परिपक्व हो गया है. मतदाता अपनी पसंद चुनने से पहले राष्ट्रीय हितों को सर्वोपरि मानते हैं. जब अच्छे विचार रखने वाले लोग समान विचार के साथ एक ही दिशा में वोट करते हैं तब यह लहर पैदा करता है. कांग्रेस का उल्लेख करते हुए अरुण जेटली ने कहा कि गांधी परिवार ग्रैंड ओल्ड पार्टी के लिये बोझ बन गया है.

टिप्पणियां

CJI पर लगे यौन शोषण के आरोप पर बोले अरुण जेटली- यह समय न्यायपालिका के साथ खड़े होने का

कांग्रेस में प्रथम परिवार अब पूंजी नहीं बल्कि बोझ बन गया है.  उन्होंने कहा कि मतदाता अब प्रतिद्वन्द्वियों के गठबंधन पर भरोसा करने को तैयार नहीं हैं . अरुण जेटली ने कहा कि जाति आधारित गठबंधन अब मान्य नहीं है और अब लोग फर्जी मुद्दे पर भरोसा करने को तैयार नहीं हैं. (इनपुट भाषा से)



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement