NDTV Khabar

हर आतंकी को पता है कि अगर देश में बम धमाका हुआ, तो मोदी उन्हें पाताल तक खोज कर सजा देगा : पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा, 'स्वास्थ्य केंद्र भी ऐसे जहां शुरुआती जांच भी हो जाए और अगर बड़े अस्पताल में जाने की आवश्यकता है, तो वो भी आपको जल्दी पता चल जाए. एक तरफ हम तेज़ गति से गांव-गांव में सड़कें बना रहे हैं, वहीं देश के हर घर को रोशन करने के लिए मुफ्त बिजली कनेक्शन भी दे रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हर आतंकी को पता है कि अगर देश में बम धमाका हुआ, तो मोदी उन्हें पाताल तक खोज कर सजा देगा : पीएम मोदी

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के पिपलगांव में आयोजित एक रैली में  पीएम मोदी  ने विपक्ष पर जमकर प्रहार किए हैं. उन्होंने कहा कि साल 2014 में मजबूत सरकार बनाने में आप सभी का बहुत बड़ा योगदान रहा है. आपके आशीर्वाद का ही असर है कि आज दुनिया भर में भारत की साख नई ऊँचाई पर है. अब कोई भी भारत को आँख उठाकर देखने से पहले सौ बार सोचता है. उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा, 'आप याद कीजिए, 2014 से पहले भारत भी तो इसी स्थिति में था. आए दिन कभी पुणे में कभी मुंबई में, बम धमाके होते थे और तब की कांग्रेस-एनसीपी की सरकार क्या करती थी? उनकी सरकार दुनियाभर में पाकिस्तान के नाम पर रोती रहती थी. आज हर आतंकी को पता है कि अगर देश के किसी हिस्से में बम धमाका किया, तो मोदी उन्हें पाताल में भी खोजकर सज़ा देगा, उन्हें खत्म करेगा.' विकास की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सरकार ने देश के विकास को दो पटरियों पर एक साथ चलाया है. एक सामान्य मानवी के जीवन स्तर को ऊपर उठाना और दूसरा 21वीं सदी के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास. एक तरफ हम देश के हर गरीब परिवार को हर वर्ष 5 लाख रुपए तक का मुफ्त इलाज सुनिश्चित कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ हर 3 संसदीय क्षेत्रों के बीच एक मेडिकल कॉलेज और गांवों में डेढ़ लाख आधुनिक स्वास्थ्य केंद्र बना रहे हैं. 

बॉलीवुड एक्टर ने प्रियंका गांधी को लेकर किया Tweet, लिखा- वाराणसी में टक्कर बराबरी की होनी चाहिए


पीएम मोदी ने कहा, 'स्वास्थ्य केंद्र भी ऐसे जहां शुरुआती जांच भी हो जाए और अगर बड़े अस्पताल में जाने की आवश्यकता है, तो वो भी आपको जल्दी पता चल जाए. एक तरफ हम तेज़ गति से गांव-गांव में सड़कें बना रहे हैं, वहीं देश के हर घर को रोशन करने के लिए मुफ्त बिजली कनेक्शन भी दे रहे हैं. एक तरफ हमने हर गरीब के बैंकों में खाते खुलवाए और दूसरी तरफ बैंकों के दरवाज़े गरीबों, किसानों, पशुपालकों के लिए खोल दिए.  बिना गारंटी के ऋण आज स्वरोज़गार के लिए आसानी से उपलब्ध हैं. एक तरफ हम डिजिटल लेनदेन के लिए देश को प्रोत्साहित कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ अब गांव-गांव में डाकघरों को भी बैंकों में बदल रहे हैं'. 

क्या पीएम मोदी पश्चिम बंगाल से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव? जानें अमित शाह ने क्या दिया जवाब

प्रधानमंत्री ने कहा कि  डाकिये के माध्यम से बैंक की सेवाओं को गांव-गरीब के दरवाजे पर खड़ा कर रहे है. डाकियों के वेतन में उचित वृद्धि का काम भी हमारी ही सरकार ने किया है. आदिवासी बच्चों की पढ़ाई के लिए देशभर में एकलव्य मॉडल स्कूल खोले जा रहे हैं. आदिवासी युवाओं के खेल कौशल को निखारने के लिए आदिवासी क्षेत्रों में खेल से जुड़ी सुविधाएं बनाई जा रही हैं. आदिवासी हस्तशिल्प का प्रचार-प्रसार करने के लिए ऑनलाइन व्यवस्था को मजबूत किया गया है. आदिवासी साथियों की कमाई के लिए वन उपजों को समर्थन मूल्य के दायरे में लाया गया है.  वन उपजों का अधिक मूल्य मिले, इसके लिए वनधन केंद्र खोले जा रहे हैं. अपने अन्नदाता, किसानों के लिए हमारी सरकार ने बीज से बाज़ार तक एक मजबूत व्यवस्था तैयार करने का प्रयास किया है. 22 फसलों का लागत का डेढ़ गुणा समर्थन मूल्य देने का वादा हमारी ही सरकार ने पूरा किया है. 

पीएम मोदी VS प्रियंका गांधी : सबसे बड़े मुकाबले की तैयारी? वाराणसी में किसका पलड़ा भारी, 10 बड़ी बातें

किसानों के मुद्दे पर जोर देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यहां के किसानों को अब पीएम किसान सम्मान निधि से भी मदद मिलने का रास्ता खुला है. हमारी सरकार बिचौलियों के राज को खत्म करने के लिए काम कर रही है. जैसे डेयरी सेक्टर में सहकारी संगठन होते हैं, वैसे ही अन्य कृषि सेक्टरों में फार्मर प्रोड्यूस ऑर्गनाइजेशन बनवाए जा रहे हैं. देश में 22 हजार से ज्यादा ग्रामीण हाटों को भी विकसित किया जा रहा है.  ये काम, किसानों और ग्राहकों के बीच की दूरी को खत्म करेंगे और किसानों को उसकी मेहनत की उचित कीमत मिलेगी. 

टिप्पणियां

राजस्‍थान में पीएम नरेंद्र मोदी की सभा में हंगामा​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement