NDTV Khabar

BJP सांसद वोट के लिए दे रहे थे रुपये, घर पर लगा था लोगों को हुजूम, मीडिया पहुंची तो भीड़ को खदेड़ा, देखें VIDEO

सांसद के घर मौजूद ग्रामीणों की मानें तो ग्रामीण क्षेत्रों में एसटी-एससी वोटरों को लुभाने के लिए पैसे बांटे गए. उनसे कहा गया कि भाजपा के पक्ष में वोट डालना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BJP सांसद वोट के लिए दे रहे थे रुपये, घर पर लगा था लोगों को हुजूम, मीडिया पहुंची तो भीड़ को खदेड़ा, देखें VIDEO

मीडिया आने पर भीड़ को भगा दिया गया.

भोपाल:

मध्य प्रदेश के सतना में भाजपा (BJP) सांसद की ओर से वोटों के लिए ग्रामीणों को रुपये बांटने का मामला सामने आया है. सतना से भाजपा उम्मीदवार और वर्तमान सांसद गणेश सिंह (Ganesh Singh) के घर रविवार को हजारों की संख्या में लोगों का हुजूम लगा हुआ था. सांसद के घर पर एसटी और एसटी वर्ग के मतदाताओं को रुपये बांटे जा रहे थे. पूछने पर पता चला कि सभी को पांच-पांच सौ रुपये दिये जा रहे थे. इसके साथ ही उन्हें कहा जा रहा था कि भाजपा को ही वोट (Lok Sabha Election) डालना. लेकिन जब मीडिया मौके पर पहुंची तो सारा खेल बिगड़ गया और सांसद के समर्थकों ने सभी ग्रामीणों को खदेड़ना शुरू कर दिया.

सांसद के घर मौजूद ग्रामीणों की मानें तो ग्रामीण क्षेत्रों में एसटी-एससी वोटरों को लुभाने के लिए पैसे बांटे गए. उनसे कहा गया कि भाजपा के पक्ष में वोट डालना है.

वहीं जिन लोगों को पैसा नहीं दिया गया था, उन्हें घर बुलाकर पैसा दिया जाना था. यही वजह थी कि रविवार सुबह सांसद गणेश सिंह के घर के बाहर हजारों ग्रामीणों का हुजूम लगा हुआ था. लेकिन मीडिया के पहुंचने की वजह से इसे अंजाम नहीं दिया जा सका. मीडिया की मौजूदगी की खबर लगते ही ग्रामीणों को खदेड़ दिया गया. इसके साथ ही इन ग्रामीणों को बाद में पैसे देने का आश्वासन देकर वापस भेज दिया गया. 


लेह प्रेस क्लब का आरोप, बीजेपी ने पत्रकारों को पैसा बांटने की कोशिश की

वहीं एक अन्य मामले में प्रेस क्लब लेह ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि पार्टी ने उसके सदस्यों को ‘पैसों से भरे लिफाफों' की पेशकश कर रिश्वत देने की कोशिश की. भाजपा ने इससे इंकार करते हुए कहा कि आरोप ‘राजनीति से प्रेरित' हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना ने धमकी दी कि यदि प्रेस क्लब सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगता तो मानहानि का मुकदमा दायर किया जाएगा. रैना ने कहा, ‘भाजपा इस तरह के आरोपों को बर्दाश्त नहीं करेगी. अगर प्रेस क्लब सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगता तो वह उच्च न्यायालय में मानहानि का मुकदमा दायर करेगी.' उन्होंने कहा कि आरोप ‘निराधार और दुष्प्रचार' हैं तथा यह ‘राजनीति से प्रेरित कदम' है.

टिप्पणियां

PM मोदी ने राजीव गांधी को बताया 'भ्रष्टाचारी नंबर वन' तो राहुल-प्रियंका गांधी ने मिलकर किया पलटवार, कहा- अब आप नहीं बच पाओगे

Video: पीएम मोदी ने राहुल के बहाने राजीव गांधी पर साधा निशाना



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement