NDTV Khabar

स्‍टूडेंट ने शशि थरूर से कहा, "कोई नया शब्‍द बताओ", जवाब में मिली ये नसीहत

शशि थरूर (Shashi Tharoor) एक कॉलेज प्रोग्राम में शरीक हुए थे और उसी दौरान एक स्‍टूडेंट ने उनसे उनके शानदार शब्‍दकोश में से एक नया शब्‍द बताने के लिए कहा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्‍टूडेंट ने शशि थरूर से कहा,

शशि थरूर अपनी बेहतरीन अंग्रेजी के लिए मशहूर हैं

नई दिल्‍ली:

शशि थरूर (Shashi Tharoor) का नाम सुनते ही हमारे ज़ेहन में उनके शानदार भाषण और उससे भी शानदार अंग्रेजी घूमने लगती है. तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर की बेहतरीन अंग्रेजी देखकर हम लोग यही सोचते हैं कि वो शायद कुछ ज्‍यादा ही डिक्‍शनरी पढ़ते होंगे. खबर के मुताबिक हाल ही में थरूर एक कॉलेज प्रोग्राम में शरीक हुए थे और उसी दौरान एक स्‍टूडेंट ने उनसे उनके शानदार शब्‍दकोश में से एक नया शब्‍द बताने के लिए कहा. इस घटना का जिक्र खुद थरूर ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए किया और बताया कि उन्‍होंने उस स्‍टूडेंट को क्‍या जवाब दिया. 

यह भी पढ़ें: थरूर ने पाकिस्तान को लगाई लताड़, कहा ऐसा शब्द जो डिक्शनरी में भी आसानी से नहीं मिलेगा!
 

शशि थरूर ने कहा, "मैं आपको बहुत ही साधारण और पुराना शब्‍द बताऊंगा. सिर्फ इसी तरह से मैंने अपने शब्‍दकोश को बनाया है. लोगों को लगता है कि मैं कोई बेवकूफ हूं जो पूरा दिन डिक्‍शनरी पढ़ता रहता है. मैंने अपनी जिंदगी में शायद ही कभी डिक्‍शनरी खोली हो, लेकिन मैंने विस्‍तृत रूप से पढ़ा जरूर है. अगर आप खूब पढ़ते हैं तो विस्‍तार में पढ़ते हैं और एक ही शब्‍द के मायने तीन किताबों में अलग-अलग होते हैं और आप इस तरह उसका मतलब भी समझ जाते हैं और जल्‍द ही उसका इस्‍तेमाल करना भी आ जाता है."


थरूर ने यह भी कहा, "मैं ऐसा इसलिए हूं क्‍योंकि निस्‍संदेह मैं पास आप सभी लोगों से ज्‍यादा फायदे में रहा. मैं ऐसे भारत में रहा जहां न टीवी था, न कम्‍प्‍यूटर था, न निनटेंडो था, न प्‍ले स्‍टेशन था और न ही मोबाइल फोन थे. और मुझे अस्‍थमा भी था तो सांस में लेने में दिक्‍कत होने की वजह से बेड पर ही होता था. मेरे पास सिर्फ किताबें थीं, किताबें मेरा बचाव थीं, किताबें मेरी शिक्षा थीं. और क्‍योंकि मैं पढ़ता था, मैं अपनी उम्र से ज्‍यादा पढ़ता था. मेरा दिमाग ऐसे ही विकसित हो गया और उसके साथ ही मेरा शब्‍दकोश भी समृद्ध होता चला गया. इसलिए आप सभी को मेरी सिर्फ एक ही सलाह है- पढ़ो, पढ़ो और पढ़ो." 

यह भी पढ़ें: थरूर ने लिखा ट्विटर पर अंग्रेजी का शब्द, लोग बोले- 'कहना क्या चाहते हैं...'
 

उन्‍होंने कहा, "आप जितना पढ़ेंगे, आपका शब्‍दकोश भी उतना ही समृद्ध होता चला जाएगा." 

टिप्पणियां

शशि थरूर की इस सलाह से लोग काफी इम्‍प्रेस हुए हैं:

बहरहाल, हम तो यही कहेंगे कि शशि थरूर ने हम सभी को एकादम सटीक सलाह दी है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement