Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

10 साल से कोमा में पड़ी महिला ने दिया बच्चे को जन्म, अस्पताल में मचा बवाल, पुलिस ने किया ऐसा

Phoenix के अस्पताल में 10 साल से ज्यादा समय से कोमा में पड़ी महिला ने बच्चे को जन्म दिया. इस खबर ने हर किसी के होश उड़ा दिए. अस्पताल में बड़ा बवाल मच गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
10 साल से कोमा में पड़ी महिला ने दिया बच्चे को जन्म, अस्पताल में मचा बवाल, पुलिस ने किया ऐसा

अर्द्धबेहोश महिला के बच्चे को जन्म देने के बाद पुरुष कर्मचारियों का होगा डीएनए टेस्ट.

Phoenix के अस्पताल में 10 साल से ज्यादा समय से कोमा में पड़ी महिला ने बच्चे को जन्म दिया. इस खबर ने हर किसी के होश उड़ा दिए. अस्पताल में बड़ा बवाल मच गया. पुलिस भी इस खबर से हैरान रह गई. बात सामने आने के बाद स्वास्थ्य केन्द्र के सभी पुरुषों का डीएनए कराने के लिए पुलिस ने सर्च वारंट जारी किया है. वहीं स्वास्थ्य केन्द्र के सीईओ ने इस्तीफा दे दिया है. ‘हासिएन्डा स्वास्थ्य केन्द्र' ने कहा कि वह कर्मचारियों का डीएनए कराने की बात का स्वगत करता है.

बीच सड़क मंदिर के सामने भगवान से प्रार्थना कर रही थी महिला, उसी वक्त आ गया ट्रक फिर... देखें VIDEO

कंपनी ने अपने एक बयान में कहा, 'हम इस बेहद संगीन एवं अप्रत्याशित स्थित से जुड़े सभी तथ्यों को उजागर करने के लिए फिनिक्स पुलिस और अन्य जांच एजेंसियों का सहयोग करना जारी रहेंगे.' स्थानीय न्यूज वेबसाइट 'एजफैमिली डॉट कॉम' ने सबसे पहले जानकारी दी थी कि 10 साल से अधिक अर्द्ध बेहोशी की हालत में पड़ी महिला ने 29 दिसम्बर को एक बच्चे को जन्म दिया है. उसकी पहचान उजागर नहीं की गई.


VIRAL VIDEO: एक आंख वाली गाय को भगवान मान बैठे लोग...कर रहे हैं कुछ ऐसा

इस बात का भी कुछ पता नहीं चल पाया है कि उसका कोई परिवार या संरक्षक भी है या नहीं. बोर्ड के सदस्य गैरी ओरमैन ने कहा था कि स्वास्थ्य केन्द्र इस भयावह स्थिति के लिए पूरी जवाबदेही तय करेगा.    ओरमैन ने कहा, 'हम अपने प्रत्येक मरीज और कर्मचारी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे.' इस पूरे मामले पर 'हासिएन्डा' के सीईओ बिल टिमॉन्स ने भी सोमवार को इस्तीफा दे दिया.

धरती की तरफ आता दिखा आग का गोला, जिसने देखा उड़ गए उसके होश, देखें VIDEO

टिप्पणियां

प्रवक्ता डेविड लेबोविट्ज ने यह जानकारी देते हुए कहा कि बोर्ड के सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से इस निर्णय को स्वीकार किया. राज्य के गवर्नर कार्यालय ने इस स्थिति को 'बेहद परेशान करने वाला' बताया'

(इनपुट-भाषा से भी...)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पहली बार देश में एक दिन में कोरोनावायरस के 194 नए मामले आए, मरीजों की संख्या 918 पर पहुंची, पढ़ें 10 अहम बातें

Advertisement