राजस्थान में नतीजों से पहले अशोक गहलोत का हमला- कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे

राजस्थान विधानसभा चुनावों के रुझानों में कांग्रेस बहुमत के करीब जाती दिख रही है. ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि वसुंधरा राजे की सरकार इस बार इतिहास नहीं बना पाएगी और कांग्रेस सत्ता में आ जाएगी.

राजस्थान में नतीजों से पहले अशोक गहलोत का हमला- कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे

अशोक गहलोत का बीजेपी पर हमला

नई दिल्ली:

राजस्थान विधानसभा चुनावों के रुझानों में कांग्रेस बहुमत के करीब जाती दिख रही है. ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि वसुंधरा राजे की सरकार इस बार इतिहास नहीं बना पाएगी और कांग्रेस सत्ता में आ जाएगी. हालांकि, अभी तक नतीजों की तस्वीर पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो पाई है. हालांकि, नतीजों से पहले कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनेगी और इसके लिए उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशियों को भी साथ आने का न्योता दिया है. 

तेलंगाना: रुझानों में TRS बहुमत से आगे, KCR ने किया सूपड़ा साफ, बेटी बोलीं- जीत को लेकर कभी संदेह नहीं था

दरअसल, अभी जो राजस्थान विधानसभा चुनाव के रुझान सामने आए हैं, उसमें कांग्रेस पार्टी 92 सीटों पह है, वहीं बीजेपी 82 सीटों पर है और बसपा 8 सीटों पर लीड करती दिख रही है. 

विधानसभा चुनाव नतीजों का असर शेयर मार्केट पर भी, रुझानों के बाद दर्ज की गई भारी गिरावट

चुनावी नतीजों से पहले रुझानों को देखते हुए अशोक गहलोत ने मीडिया से बाततीच की. मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि बीजेपी बिना मुद्दे के चुनाव लड़ी. चुनावी भाषणों में पीएम मोदी ने जिस भाषा का प्रयोग किया, वह भी गलत था. आज देश में जो माहौल है, वह खतरनाक है. आरबीआई के गवर्नर का इस्ताफा देना काफी दुखद है. उन्हें मजबूर होकर इस्तीफा देना पड़ा. यह घटना असामान्य है. राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दे उठाए, रोजगार, महंगाई के मुद्दे उठाए. ये जिस तरह से देश में शासन कर रहे हैं उससे देश में दुख का माहौल है. यह माहौल लोकसभा चुनाव का संकेत है. 

Rajasthan Elections Results 2018 Live: रुझानों में बहुमत से 6 सीट कम है कांग्रेस, बीजेपी नेता हुए मायूस

अशोक गहलोत ने कहा कि देश में अच्छे दिन आए नहीं. न तो 2 करोड़ लोगों को नौकरी मिली. न तो कालाधान विदेश से आया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की बहुमत की सरकार राजस्थान में आ रही है. मुख्यमंत्री के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी इस पर बात करने की जरूरत नहीं है. लोकतंत्र में सबको साथ लेकर चला जाता है. करीब 30 साल बाद इतने बहुमत से बीजेपी की सरकार बनी. मगर वह कांग्रेस को वह साथ लेकर नहीं चल पाए. विपक्ष की बातों को वह अनसुना करते रहे. कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि एक वर्ग ऐसा नहीं है जो मोदी सरकार से खुश हो. 

VIDEO: अबकी बार किसकी सरकार: पांच राज्यों का खास विश्लेषण

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com