NDTV Khabar

सरकारी नौकरियां आख़िर हैं कहां - भाग 10 

नौकरियों पर हमारी सीरीज़ जारी है. इसे संक्षिप्त रूप में आज 10वां एपिसोड गिन सकते हैं. स्टाफ सलेक्शन कमीशन ने हमारी सीरीज़ के दौरान तीसरी बार पत्र जारी किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सरकारी नौकरियां आख़िर हैं कहां - भाग 10 
नौकरियों पर हमारी सीरीज़ जारी है. इसे संक्षिप्त रूप में आज 10वां एपिसोड गिन सकते हैं. स्टाफ सलेक्शन कमीशन ने हमारी सीरीज़ के दौरान तीसरी बार पत्र जारी किया है. इस पत्र से अपनी ज्वाइनिंग का इंतज़ार कर रहे हैं भारत के प्यारे नौजवान बहुत खुश हैं. वो देख रहे हैं कि अगर हिन्दू मुस्लिम टॉपिक छोड़कर रोज़गार के सवाल पर आया जाए तो मुद्दों का असर होता है.

एसएससी के चेयरमैन ने अपने तीसरे पत्र में कहा है, कंबाइंड हायर सेंकेड्री लेवल परीक्षा सीएचएसएल 2015 संबंधित मंत्रालय/विभागों ने सीएचएसएल 2015 परीक्षा में चयनित अभ्यर्थियों को ज्वानिंग लेटर भेजना शुरू कर दिया है. भारतीय डाक विभाग और सीएजी कार्यालय जिसमें अधिकतर बहालियां होनी थीं ने भी आयोग को सुनिश्चित किया है कि उन्होंने चयनित अभ्यर्थियों को कैडर, सर्किल, राज्य कार्यालय के आवंटन की प्रक्रिया शुरू कर दी है. ज्वाइनिंग लेटर उनके संबंधित अधिकारियों द्वारा तय समय पर भेजे जाएंगे. कंबाइंड हायर सेंकेड्री लेवल परीक्षा (सीएचएसएल 2016) 6700 बहालियों के लिए अंतिम परिणाम की घोषणा 16 फरवरी 2018 को कर दी जाएगी.

सीजीएल कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल इग्जामिनेशन 2016 आयोग ने 31.01.2018 को संबंधित विभागों मंत्रालयों को निर्देश भेजा है कि कंडिशनल नियुक्ति पत्र कंबाइन ग्रेजुएट लेवल इग्जामिनेशन 2016 के चयनित अभ्यर्थियों को 2018 के फरवरी महीने के भीतर ही दे दें. संबंधित विभाग मंत्रालय चयनित अभ्यर्थियों को जरूरी प्रक्रियाओं जैसे दस्तावेज की जांच, पुलिस जांच, मेडिकल, इत्यादि को पूरा कराते हुए त. समय में कंडिशनल नियुक्ति पत्र जारी करना होगा. 

हम एसएससी के चेयरमैन असीम खुराना का शुक्रिया अदा करते हैं. हमारी सीरीज़ के बाद उन्होंने प्रतिक्रिया भी व्यक्त की और पहल भी की. इस पत्र के साथ ही एसएससी ने अपना वार्षिक परीक्षा कैंलेंडर भी जारी कर दिया है. एसएससी की वेबसाइट पर यह कैलेंडर मौजूद है. इससे छात्र जान सकेंगे कि कौन सी परीक्षा का फॉर्म कब भरा जाएगा? कब परीक्षा होगी? कुल 23 परीक्षाएं का कैलेंडर है. इसके अनुसार कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल 2017 टीयर टू की परीक्षा 17 फरवरी से 22 फरवरी तक होगी. रिज़ल्ट का कैलेंडर नहीं दिखा. उसे भी होना चाहिए था. कुछ छात्रों की शिकायत मिल रही है कि सीएचएसएल 2015 में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत चयनित छात्रों के डाजियर वापस लौटाए जा रहे हैं इस पर आयोग के चैयरमैन साहब ध्यान देंगे ऐसी उम्मीद है कि क्योंकि उन्होंने काफी तत्परता दिखाई है. 

पढ़ें नौकरी सीरीज के अन्‍य आलेख...

सरकारी नौकरियां आख़िर हैं कहां - भाग 9
सरकारी नौकरियां आख़िर हैं कहां - भाग 8
सरकारी नौकरियां आख़िर हैं कहां - भाग 7
एक करोड़ नौकरियों का वादा कहां गया?
चयन के बावजूद नौकरी का लंबा इंतज़ार क्यों?
सरकारी नौकरियां कहां गईं : पार्ट-3
राज्य चयन आयोग यूपीएससी से क्यों नहीं सीखते?
कई राज्य भर्ती बोर्डों के दुष्चक्र में फंसे छात्र
राज्य चयन आयोगों का नौजवानों से खिलवाड़ क्यों?

मध्य प्रदेश से एक चिट्ठी आई है. इसमें एक छात्र ने लिखा है कि, 'मेरा सीएचएसएल 2015  के तहत cpwd में चयन हुआ. अभी तक ज्वाइनिंग लेटर नहीं मिला हैं. नॉर्थ रीज़न, ईस्टर्न रीज़न, वेस्टर्न रीज़न, सेंट्रल रीज़न, में नॉर्थ रीज़न को छोड़ सबकी ज्वाइनिंग मिल गई है. हमारा क्या होगा ये समझ नहीं आ रहा है कभी-कभी तो ऐसा लगता है कि जैसे नौकरी ही नहीं मिली है और रात-रात भर नींद नहीं आती है. घर की परेशानियों को देख कर रोना आ जाता है. हमारी बात आप प्राइम टाइम में चलाइये.

इनको उम्मीद है हमारे चलाने से एनआर यानी नॉर्थ रीजन भी भी जल्दी ज्वाइनिंग लेटर दे देगा, इसलिए हमने चला दिया. इसी तरह एक दूसरे अभ्यर्थी लिखते हैं कि सीएचएसएल- 2015 परीक्षा के तहत उनका चयन प्रेस सूचना कार्यालय में हुआ है. इनको नियुक्ति की कोई सूचना नहीं मिल रही है. जब यह परीक्षा दी थी तब 26-27 साल के थे और अब 29-30 साल के हो चुके हैं तो परीक्षाओं में बैठने के अयोग्य हो गए हैं. अब चेयरमैन साहब के पत्र के बाद इन्हें भी ज्वाइनिंग लेटर मिल जाना चाहिए. सीएजी वालों को भी जल्दी मिले. बहुत परेशान हो चुके हैं. 

टिप्पणियां
बहुत से चयन आयोगों ने नौजवानों को रूला दिया है. न ठीक से बात करते हैं, न ठीक से सूचना देते हैं. मध्य प्रदेश से आई इस चिट्ठी में नौजवान कह रहा है कि अब रिजल्ट नहीं चाहिए, हमारे फॉर्म का 1000 वापस दे दीजिए. मेरा कहना है कि आप सभी बेरोज़गार एकता बनाए रखिये. वहां से भी चिट्ठी आएगी. रिज़ल्ट भी आएगा. थोड़ा तो प्राइम टाइम पर भरोसा रखिए. 

जब तक आप बेरोज़गार दूसरे बेरोज़गारों की समस्या में दिलचस्पी नहीं दिखाएंगे आपकी ताकत न तो पहचानी जाएगी, न उसका असर होगा. असर चाहते हैं तो एक दूसरे का हाथ थाम लीजिए. वही वाला टॉपिक दो दिन में बंद हो जाएगा. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement