NDTV Khabar

अमिताभ बच्चन ने खोला अपनी जिंदगी से जुड़ा राज, कहा - मुझे यह बताने में कोई शर्म नहीं आती कि

'कौन बनेगा करोड़पति' (Kaun Banega Crorepati) में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने आगे बताया, "मुझे इस बात को कहने में कोई शर्म महसूस नहीं होती कि मेरे पिता ने....

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमिताभ बच्चन ने खोला अपनी जिंदगी से जुड़ा राज, कहा - मुझे यह बताने में कोई शर्म नहीं आती कि

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने किया जिंदगी से जुड़ा खुलासा

खास बातें

  1. 'कौन बनेगा करोड़पति' में अमिताभ बच्चन ने खोला राज
  2. अमिताभ बच्चन ने कहा मेरा कोई धर्म नहीं है
  3. बिगबी ने बताई अपने पति हरिवंश राय बच्चन से जुड़ी बात
नई दिल्ली:

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) अपनी फिल्मों के साथ ही अपने अंदाज के लिए भी काफी जाने जाते हैं. इन दिनों अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) सोनी टीवी का जबरदस्त शो 'कौन बनेगा करोड़पति'  (Kaun Banega Crorepati) होस्ट कर रहे हैं. शो के दौरान ही अमिताभ बच्चन ने कहा कि वह किसी धर्म से नहीं हैं. यह बात अमिताभ बच्चन ने गांधी जयंति के खास एपिसोड पर समाजशास्त्री बिंदेश्वर पाठक के साथ एक किस्सा साझा करते हुए बताई. इसके अलावा अमिताभ बच्चन ने कहा कि उनका उपनाम बच्चन नही है, बल्कि श्रीवास्तव है. 

पटना में आई बाढ़ को लेकर छलका ऋतिक रोशन का दर्द, कहा- एक हफ्ते से...Tweet हुआ वायरल


अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने 'कौन बनेगा करोड़पति' (Kaun Banega Crorepati) के दौरान बिंदेश्वर पाठक से कहा, "मेरा उपनाम बच्चन किसी धर्म से संबंधित नहीं है क्योंकि मेरे पिता इस चीज के खिलाफ थे. मेरा उपनाम श्रीवास्तव है, लेकिन हम इसमें कभी विश्वास नहीं करते थे. मुझे इस बात पर गर्व है कि इस नाम का उपयोग करने वाला मैं घर का पहला सदस्य हूं." बातचीत के दौरान अमिताभ बच्चन ने एक और किस्सा साझा किया. बिग बी ने कहा, "जब मैं किंडरगार्टन में एडमिशन ले रहा था तो मेरे पिता से उपनाम पूछा गया, इसके बाद उन्होंने फैसला किया कि मेरा उपनाम होगा. जब भी जनगणना के समय कर्मचारी मेरे पास आते हैं और मुझसे मेरे धर्म के बारे में पूछते हैं तो मेरा जवाब यही होता है कि मेरा कोई भी धर्म नहीं है. मैं एक भारतीय हूं."

आरती के कान के पास आकर चिल्लाईं शहनाज, कहा-24 घंटे शीशा देखती रहती है...देखें धमाकेदार Video

'कौन बनेगा करोड़पति' (Kaun Banega Crorepati) में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने आगे बताया, "मुझे इस बात को कहने में कोई शर्म महसूस नहीं होती कि मेरे पिता ने अपने आस-पास रह रहे लोगों का सम्मान किया है. हमारे यहां यह परंपरा रही है कि सबसे बड़े और सम्मानित व्यक्ति के पैरों में रंग लगाकर उन्हें त्योहार की बधाई दी जाती है. मेरे पिता भी उन लोगों के पैरों पर रंग लगाते थे, जिन्होंने इस उत्सव को मनाने से पहले शौचालय साफ किया है."

टिप्पणियां

..और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement