NDTV Khabar

Budget 2018: अखिलेश यादव बोले, 'अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट', पढ़ें अन्य नेताओं के ट्विटर रिएक्शन

केंद्र सरकार द्वारा आम बजट गुरुवार को संसद भवन में पेश किया गया. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश की अर्थव्यवस्था के तमाम क्षेत्रों के विकास को लेकर कई छोटे-बड़े ऐलान किए.

1.9K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Budget 2018: अखिलेश यादव बोले, 'अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट', पढ़ें अन्य नेताओं के ट्विटर रिएक्शन

बजट 2018: बजट पेश होने के बाद विपक्ष नेताओं के ट्विटर रिएक्शन

खास बातें

  1. बजट आने के बाद विपक्ष नेताओं के रिएक्शन
  2. ट्विटर पर जताया विरोध
  3. अखिलेश, तेजस्वी समेत कई लोगों ने किया ट्वीट
नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा आम बजट गुरुवार को संसद भवन में पेश किया गया. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश की अर्थव्यवस्था के तमाम क्षेत्रों के विकास को लेकर कई छोटे-बड़े ऐलान किए. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट पेश होने के बाद देश को संबोधित करते हुए बताया कि जेटली द्वारा पेश किए गए बजट में किन क्षेत्रों में फायदे हुए. फिलहाल बजट पेश करने के बाद विपक्ष पार्टियों ने ट्विटर के जरिए अपने अपने रिएक्शन दिए. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बजट का विरोध जताते हुए कहा कि मुझे उम्मीद थी कि देश की राजधानी के इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स को लेकर कुछ महत्वपूर्ण ऐलान किया जाएगा.

Budget 2018: इनकम टैक्स दरों में कोई बदलाव नहीं, ये 15 बदलाव जो आप पर डालेंगे असर

केजरीवाल ने आगे लिखा मुझे निराशा है कि केंद्र में होने के बावजूद दिल्ली के साथ लगातार सौतेला व्यवहार किया जा रहा है. वहीं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि गरीब-किसान-मजदूर को निराशा; बेरोजगार युवाओं को हताशा; कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुंह पर तमाचा. ये जनता की परेशानियों की अनदेखी करने वाली अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है. आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो केवल अमीरों की हिमायती है. अब जनता जवाब देगी. Budget 2018: 'बजट से डर नहीं लगता साहब, जेटलीजी से लगता है', पढ़ें ऐसे ही कई फनी रिएक्शन

वहीं आप नेता व दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि बेहद निराशाजनक बजट, 2001-02 से केंद्रीय टैक्स में दिल्ली के हिस्से में एक भी अतिरिक्त रुपए की वृद्धि नहीं हुई. हमेशा की तरह दिल्ली का बजट 325 करोड़ रुपए, भारत के अन्य राज्यों के साथ भी ऐसा व्यवहार नहीं होता होगा. केंद्र में भाजपा सरकार दूसरे निवासियों के नागरिकों के रूप में दिल्ली के निवासियों के साथ रहती रही है. मनीष सिसोदिया ने आगे लिखा कि दिल्ली पुलिस, दिल्ली स्थित जमीन, क्लीनिक, स्कूल्स, हॉस्पिटल, बस डिपोट तमाम क्षेत्र केंद्र सरकार के अंर्तगत आते हैं, इसके बावजूद कोई भी नई स्कीम या योजना की घोषणा नहीं की. Budget 2018: किसानों के लिए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने की कई घोषणाएं, 20 प्वाइंट्स में जानें

टिप्पणियां
वहीं राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने धरातल पर कुछ नहीं किया और ना ही कर रही. सरकार सिर्फ़ कागज़ों पर बातों के पकौड़े और जुमलों के बताशे उतार रही है. उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा कि बजट में बिहार के लिए कुछ भी नहीं. बिहार को विशेष पैकेज और विशेष राज्य के दर्जे पर कुछ भी नहीं मिला. नीतीश कुमार बताए क्या यही उनके लिए डबल इंजन है? नीतीश जी की वजह से बीजेपी की केंद्र सरकार बिहार के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है. बता दें कि तेजस्वी ने बजट को लेकर कई ट्वीट्स किए. कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने भी ट्वीट करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किए गए बजट को बेवकूफ बनाने वाला बजट बताया है. उनका कहना है कि चार साल बाद चुनावी वर्ष में किसान, मजदूर, छोटे कारीगर, वेतनभोगियों के लिए छोटा बजट पेश करके वेबकूफ बना रहे हैं. VIDEO: इस साल प्रत्यक्ष कर में बढ़ोत्तरी, वित्तीय घाटा कम हुआ


 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement