IND Vs ENG Women T20: स्मृति-मिताली की पारियों पर भारी पड़ा डेनियली वाट का शतक, इंग्लैंड की रिकॉर्ड जीत

सलामी बल्लेबाज डेनियली वाट के तेज तर्रार शतक की बदौलत इंग्लैंड महिला टीम ने आज यहां टी20 त्रिकोणीय सीरीज के दूसरे मैच में रिकार्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत को सात विकेट से शिकस्त दी.

IND Vs ENG Women T20: स्मृति-मिताली की पारियों पर भारी पड़ा डेनियली वाट का शतक, इंग्लैंड की रिकॉर्ड जीत

फाइल फोटो

खास बातें

  • स्मृति-मिताली की पारियों पर भारी पड़ा डेनियली वाट का शतक
  • इंग्लैंड ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत
  • इंग्लैंड ने भारत को सात विकेट से शिकस्त दी
मुंबई:

सलामी बल्लेबाज डेनियली वाट के तेज तर्रार शतक की बदौलत इंग्लैंड महिला टीम ने आज यहां टी20 त्रिकोणीय सीरीज के दूसरे मैच में रिकार्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत को सात विकेट से शिकस्त दी. सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना (40 गंद में 76 रन) और मिताली राज (43 गेंद में 53 रन) की मदद से मेजबान टीम ने 20 ओवर में चार विकेट गंवाकर 198 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया जो टी20 में भारत का सबसे बड़ा स्कोर भी है. हालांकि, डेनियली की 64 गेंद में 15 चौके और पांच गगनचुंबी छक्के जड़ित 124 रन की शानदार पारी से मेहमान टीम ने आठ गेंद रहते ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया. इससे पहले महिला टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करने का गौरव भी इंग्लैंड के ही नाम था जिसने 2017 में कैनबरा में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐसा किया था. 

यह भी पढ़ें: IND VS SA WOMEN 5th T20: भारत 54 रन से जीता, टी-20 सीरीज भी जीतकर मचाया डबल धमाल

डेनियली ने पहले ही ओवर में तीन चौके जड़कर अपने इरादे जाहिर कर दिये. तेज चौकों और छक्कों की मदद से उन्होंने ब्रायोनी स्मिथ (15) के साथ 61 रन की भागीदारी निभायी. तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने ब्रायोनी को आउट किया जिससे टीम का पावरप्ले में स्कोर एक विकेट पर 67 रन था. लेकिन डेनियली की आक्रामकता जरा कम नहीं हुई और उन्होंने भारतीय आक्रमण की धज्जियां उड़ाना जारी रखा जिससे ब्रैबोर्न स्टेडियम में सभी की निगाहें उन पर लगी थीं.  इस सलामी बल्लेबाज ने किसी भी गेंदबाज को नहीं बख्शा और 24 गेंद में ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया और शतक बनाने में उन्होंने 52 गेंद का सामना किया. यह उनका दूसरा टी20 अंतरराष्ट्रीय शतक है, जिसे उन्होंने बाउंड्री से पूरा किया. उन्हें तमसिन ब्यूमोंट (23 गेंद में 35 रन) का अच्छा साथ मिला, जिनके साथ उन्होंने दूसरे विकेट के लिये 96 रन जोड़े जिससे मैच भारत के हाथ से निकल गया. नौंवे ओवर में डेनियली ने पूनम यादव के ओवर में दो छक्के जड़े. 

यह भी पढ़ें: हरमनप्रीत कौर ने रेलवे की नौकरी छोड़ी, इस एक पारी ने बना दिया डीएसपी

17वें ओवर में पवेलियन लौटने तक यह सिलसिला जारी रहा. भारतीय गेंदबाजों ने काफी रन लुटाये जिसमें खराब क्षेत्ररक्षण ने उनकी समस्या और बढ़ा दी. डेनियली के आउट होने के बाद नटाली स्किवर (नाबाद 12) और हीथर नाइट (नाबाद 08) ने इंग्लैंड को आराम से जीत दिलायी. इससे पहले मंधाना और मिताली ने इंग्लैंड की गेंदबाजों को आसानी से खेलते हुए पहले विकेट के लिये 129 रन की शानदार साझेदारी निभायी. इन दोनों ने लूज गेंदों पर शाट लगाये.  पहले दो ओवर आराम से खेलने के बाद मिताली ने तीसरे ओवर में बांये हाथ की तेज गेंदबाज तश फरांट 

यह भी पढ़ें :'यह' हासिल करने वाली सिर्फ दूसरी भारतीय महिला क्रिकेटर बनीं स्मृति मंधाना

Newsbeep

पर दो चौके जमाये.  अगले ओवर में मंधाना ने कैटी जार्ज पर दो बाउंड्री और एक छक्का लगाया, जिससे भारत ने इस ओवर में 20 रन जोड़े. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 67 रन की पारी खेलने वाली मंधाना ने फिर शानदार फार्म दिखायी और छठे ओवर में तीन चौके जड़े जिससे पावरप्ले में टीम ने 52 रन बना लिये. फार्म में चल रही इस सलामी बल्लेबाज ने महज 25 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया. मिताली ने भी फिर तेजी पकड़ी जिससे भारत का 10 ओवर में स्कोर 96 रन हो गया. इन दोनों ने 61 गेंद में 100 रन की भागीदारी पूरी की, इन दोनों के बीच यह दूसरी शतकीय साझेदारी है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: टीम इंडिया में एक जबरदस्‍त जिद है : सुनील गावस्‍कर
मिताली को 35 रन पर जीवनदान मिला, जिसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया और सात चौके की मदद से 40 गेंद में अर्धशतक पूरा किया.