NDTV Khabar

कभी पंजाब पुलिस ने हरमनप्रीत को नौकरी देने से किया था इनकार, अब CM ने दिया DSP का ऑफर

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा कि पूर्व में जो गलतियां हुई हैं उनमें वह सुधार करना चाहते हैं.

1.2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कभी पंजाब पुलिस ने हरमनप्रीत को नौकरी देने से किया था इनकार, अब CM ने दिया DSP का ऑफर

हरमनप्रीत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में 171 रन की जबर्दस्त पारी खेली थी.

खास बातें

  1. हरमनप्रीत ने टीम को फाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी
  2. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में 171 रन की जबर्दस्त पारी खेली थी
  3. अमरिंदर सिंह ने पहले ही पांच लाख रुपये के पुरस्कार की घोषणा की थी
नई दिल्ली: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आईसीसी महिला विश्व कप में अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित करने वाली भारतीय महिला बल्लेबाज हरमनप्रीत सिंह को पंजाब पुलिस में  बतौर डीएसपी पद पर शामिल होने का ऑफर दिया है. उन्होंने कहा कि पूर्व में जो गलतियां हुई हैं उनमें वह सुधार करना चाहते हैं.

हरमनप्रीत ने भारतीय टीम को इंग्लैंड में आईसीसी विश्वकप फाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में 171 रन की जबर्दस्त पारी खेली थी. अमरिंदर सिंह ने पहले ही हरमनप्रीत के लिए पांच लाख रुपये के पुरस्कार की घोषणा की थी. उन्होंने मोगा में हरमनप्रीत के पिता हरमंदर सिंह से बात करने के बाद पद की पेशकश की. रिपोर्टों के अनुसार हरमनप्रीत कुछ साल पहले पंजाब पुलिस में भर्ती होना चाहती थी लेकिन उन्हें यह मौका नहीं दिया गया.

ये भी पढ़ें
टशन मारने पर आ जाएं हरमनप्रीत तो नामी गिरामी मॉडलों की कर देंगी छुट्टी, देखें तस्वीरें

मुख्यमंत्री के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा कि यदि हरमनप्रीत की इच्छा हो तो मुख्यमंत्री ने उनके लिए पुलिस उपाधीक्षक के पद का प्रस्ताव रखा है. अमरिंदर ने लंदन के लॉर्ड्स क्रिकेट मैदान में खेले गए विश्व कप फाइनल के बाद एक बयान में कहा कि इस युवती ने अपने शानदार प्रदर्शन से टीम इंडिया को सेमीफाइनल में दिलाई और फाइनल मैच में इंग्लैंड के साथ कड़ा मुकाबला कर भारतीय टीम को बेहद करीबी अंतर से दूसरा स्थान दिलाया.
ये भी पढ़ें
पढ़ें स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने अपने भावुक संदेश में क्या कहा  

उधर, अमररिंदर ने हरमनप्रीत के पिता हरमिंदर सिंह से कहा कि अगर हरमन सरकारी नौकरी की इच्छुक हों तो वह उनके लिए राज्य की खेल नीति में बदलाव की समीक्षा करेंगे. गौरतलब है कि इससे पहले साल 2011 में हरमनप्रीत पंजाब पुलिस में शामिल होना चाहती थी, लेकिन बीजेपी-अकाली दल के गठबंधन वाली बादल सरकार ने हरमनप्रीत को पुलिस की नौकरी देने से मना कर दिया था.  

VIDEO : भारतीय टीम से खास बातचीत


हरमनप्रीत पंजाब के मोगा जिले से ताल्लुक रखती हैं. उन्होंने शुक्रवार को ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम के खिलाफ महज 115 गेंदों में नाबाद 171 रन बनाकर भारतीय महिला क्रिकेट टीम को विश्व कप के फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement