NDTV Khabar

जानें- रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद क्या कहा उनकी पत्नी ने...

अच्छे अभिभावक और परवाह करने वाले व्यक्ति के तौर अपने पिता के मानवीय गुणों पर गर्व है अगले राष्ट्रपति की बेटी स्वाति कोविंद को

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानें- रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद क्या कहा उनकी पत्नी ने...

राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद रामनाथ कोविंद को बधाई देने वालों का तांता लगा रहा.

खास बातें

  1. सविता कोविंद ने कहा- कड़ी मेहनत और ईमानदारी से यह मुकाम हासिल किया
  2. कोविंद के 10, अकबर रोड स्थित बंगले में बधाई देने वालों का तांता लगा रहा
  3. बेटी स्वाति को रामनाथ कोविंद की जीत का भरोसा था
नई दिल्ली: सविता कोविंद ने कभी नहीं सोचा था कि रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति बनेंगे. उनका कहना है कि कड़ी मेहनत और ईमानदारी के बूते उन्होंने यह मुकाम हासिल किया. सविता कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति चुने गए रामनाथ कोविंद की पत्नी हैं. उन्होंने गुरुवार को कोविंद के राष्ट्रपति चुने जाने के तुरंत बाद यह बात कही.

रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति चुने जाने पर उनकी पत्नी सविता कोविंद सहित पूरा परिवार बहुत खुश है. उनकी जीत से अत्यंत उत्साहित उनकी बेटी स्वाति कोविंद ने कहा कि उन्हें अच्छे अभिभावक और परवाह करने वाले व्यक्ति के तौर अपने पिता के मानवीय गुणों पर गर्व है. उन्होंने कहा, ‘‘यह हमारे लिए काफी गौरवपूर्ण क्षण है. देश जश्न मना रहा है. वह सामाजिक सेवा के जरिए और बिहार के राज्यपाल के तौर पर लोगों से जुड़े रहे.’’ राजग के उम्मीदवार कोविंद को खासे बहुमत के साथ देश का अगला राष्ट्रपति चुना गया है.

वीडियो- रामनाथ कोविंद बने देश के 14वें राष्ट्रपति


सविता कोविंद और परिवार के अन्य सदस्यों के पास 10, अकबर रोड स्थित उनके बंगले में बधाई देने के लिए लोगों का तांता लगा रहा. बंगले पर देर रात तक मंत्री, नेता और आम लोग निर्वाचित राष्ट्रपति को बधाई देने के लिए आते रहे. सविता ने कहा कि उनके पति ने बिहार के राज्यपाल का पद बड़ी जिम्मेदारी के साथ संभाला था और उन्हें वहां लोगों से तारीफें मिलीं.

कोविंद के अस्थायी आवास पर गुरुवार को अपने अभिभावकों के साथ लोगों की बधाई स्वीकार करने वालीं उनकी बेटी स्वाति से अपने पिता के गुणों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘वह एक अच्छे पिता और काफी परवाह करने वाले व्यक्ति हैं.’’ यह पूछे जाने पर कि क्या नामांकित होने के बाद परिवार को उनकी जीत का भरोसा था?  स्वाति ने कहा, ‘‘हां, हमें उनकी जीत का भरोसा था.’’

टिप्पणियां
स्वाति कोविंद ने कहा, ‘‘जब वह बिहार के राज्यपाल बने थे तो हम सोचते थे कि यह सर्वोच्च पद हैं. हमने इसके आगे का नहीं सोचा था लेकिन अब जब वह देश का सर्वोच्च पद संभालेंगे तो कुछ अलग महसूस हो रहा है. लेकिन उनके व्यक्तित्व में कोई बदलाव नहीं आया. वह जमीन से जुड़े व्यक्ति हैं और वही इंसान हैं जो वह राज्यपाल के पद पर थे.’’

रामनाथ कोविंद ने विपक्ष की उम्मीदवार पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार को हराकर 65 फीसदी मतों के साथ जीत हासिल की.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement