NDTV Khabar

Delhi Election Results 2019: जानिए दिल्‍ली की लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम से जुड़ी जरूरी बातें

Delhi Lok Sabha Election Results 2019: दिल्‍ली में वैसे तो मतदान प्रतिशत काफी निराशाजनक रहा, लेकिन यहां राजनीतिक पार्टियों के बीच मुकाबला टक्‍कर का है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Election Results 2019: जानिए दिल्‍ली की लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम से जुड़ी जरूरी बातें

Delhi Election Results 2019: दिल्‍ली में मतदान तो फीका रहा, लेकिन पार्टियों के बीच कांटे की टक्‍कर है

खास बातें

  1. द‍िल्‍ली में मतदान तो फीका रहा, लेकिन यहां मुकाबला टक्‍कर का है
  2. सात लोकसभा सीटों के लिए सभी पार्टियां जीत का दम भर रही हैं
  3. लोकसभा चुनाव परिणाम 23 मई को घोषित किए जाएंगे
नई दिल्‍ली:

सभी को लोकसभा चुनाव के नतीजों (Election Results) का इंतजार है. देश की राजधानी दिल्ली ने लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के छठे चरण के मतदान के तहत 12 मई को वोट डाले. दिल्‍ली की कुल सात लोकसभा सीटों (Delhi Lok Sabha Seats) से 164 उम्‍मीदवार मैदान में हैं. इन उम्‍मीदवारों में 18 महिलाएं और 55 करोड़पति शामिल हैं. इस बार दिल्‍ली में मतदान प्रतिशत गिरकर 60.5 फीसदी दर्ज किया गया. वहीं 2014 में वोटिंग पर्सेंटेज 65 फीसदी रहा था. दूसरे राज्‍यों समेत दिल्‍ली लोकसभा की सीटों के परिणाम (Delhi Election Results) 23 मई को जारी किए जाएंगे. 

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने दिल्ली में डाला वोट, कहा- 'होगी प्‍यार की जीत'

राजधानी दिल्‍ली एक केंद्र शासित प्रदेश है. मौजूदा समय में दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हैं. दिल्ली की सीमा तीन तरफ से हरियाणा और एक (पूर्व) तरफ से उत्तर प्रदेश से घिरी हुई है. दिल्ली कुल 1484 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है. 2011 की जनगणना के अनुसार दिल्ली की कुल आबादी एक करोड़ 10 लाख से ज्यादा है. दिल्ली में कुल नौ जिले, 27 तहसील, 59 सेंसस टाउन और 300 गांव हैं. यहां पर पांच नगर निगम हैं जिनमें नॉर्थ दिल्ली, साउथ दिल्ली, ईस्ट  दिल्ली म्यूनिसपल कॉरपोरेशन, न्यू दिल्ली म्यूनिसिपल काउंसिल और दिल्ली कैंटोनमेंट बोर्ड मुख्य रूप से शामिल हैं.


दिल्ली में सात लोकसभा सीट और कुल 70 विधानसभा सीट हैं. मौजूदा समय में दिल्ली में आम आदमी पार्टी का शासन है. अरविंद केजरीवाल यहां के मुख्यमंत्री हैं. आम आदमी पार्टी के बनने से पहले दिल्ली में बीजेपी और कांग्रेस के बीच ही मुकाबला रहता था. लेकिन आम आदमी पार्टी के बनने के बाद से यहां अब मुकाबला तीनों पार्टियों के बीच है.

यह भी पढ़ें: शीला दीक्षित को दिल्ली की सातों लोकसभा सीटें जीतने की उम्मीद

दिल्ली में लोकसभा की सात सीटें हैं. इनमें मुख्य रूप से नई दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, चांदनी चौक, उत्तर पश्चिम दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली शामिल हैं. बता दें कि 1951 - 1956 तक दिल्ली में सिर्फ तीन लोकसभा सीट होती थीं. इनमें दिल्ली सिटी, नई दिल्ली और बाहरी दिल्ली की सीटें शामिल थीं. इसके बाद 1956-1961 में दिल्ली में चार लोकसभा सीट हो गईं. इनमें नई दिल्ली, बाहरी दिल्ली, चांदनी चौक और दिल्ली सदर की सीट शामिल थी. 1961-1966 में दिल्ली में लोकसभा की पांच सीटें थीं.

इनमें नई दिल्ली, बाहरी दिल्ली, चांदनी चौक, दिल्ली सदर और करोल बाग की सीट थी. 1966-2008 तक दिल्ली में लोकसभा की सात सीटें थीं. इनमें नई दिल्ली, साउथ दिल्ली, बाहरी दिल्ली, ईस्ट दिल्ली, चांदनी चौक, दिल्ली सदर और करोल बाग शामिल था. दिल्ली में लोकसभा चुनाव के दौरान इस बार मुख्य रूप से मुकाबला भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, और आम आदमी पार्टी के बीच है. 2014 के लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी.   

Delhi Election Results 2019: दिल्‍ली की लोकसभा सीटों का रिजल्‍ट कैसे करें चेक

लोकसभा चुनाव के परिणाम (Lok Sabha election 2019 ) 23 मई को घोषित किए जाएंगे. वोटों की गिनती सुबह आठ बजे से शुरू होगी और चुनाव आयोग की वेबसाइट - (https://eci.gov.in/) पर चुनाव परिणाम चेक किए जा सकेंगे. आप 23 मई को लोकसभा चुनाव परिणाम  (Lok Sabha election results) से जुड़े सभी अपडेट ndtv.in/elections और https://khabar.ndtv.com/elections/live-tv पर चेक कर सकते हैं.

दिल्‍ली की सभी लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम

उम्‍मीदवारों के नाम, उनकी पार्टी और अन्‍य संबंधित सूचना जैसे कि आय, संपत्ति और उनके खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी आप यहां चेक कर सकते हैं: https://khabar.ndtv.com/elections/candidates-list-2019 

दिल्‍ली की सभी सात सीटों के कद्दावर नेताओं में शामिल हैं- बीजेपी सांसद मनोज तिवारी (उत्तर पूर्वी दिल्‍ली), हर्ष वर्द्धन (चांदनी चौक), रमेश बिधूड़ी (दक्षिणी दिल्‍ली); दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित (उत्तर पूर्वी दिल्‍ली), कांग्रेस नेता अजय माकन (नई दिल्‍ली), क्रिकेटर से नेता बने बीजेपी के गौतम गंभीर (पूर्वी दिल्‍ली), कांग्रेस के टिकट पर दक्षिण दिल्‍ली सीट से चुनाव लड़ रहे बॉक्‍सर विजेंदर सिंह, आम आदमी पार्टी की लोकप्रिय नेता आतिशी (पूर्वी दिल्‍ली) और राघव चड्ढा (दक्षिणी दिल्‍ली).  

चांदनी चौक लोकसभा चुनाव परिणाम 

उत्तरी पूर्वी दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

पूर्वी दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

नई दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

उत्तर-पश्चिमी दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

पश्चिमी दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

दक्षिण दिल्‍ली लोकसभा चुनाव परिणाम 

टिप्पणियां

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव कुल सात चरणों में कराए जा रहे हैं. पहले चरण के तहत 11 अप्रैल को वोट डाले गए, जबकि अंतिम चरण के लिए 19 मई को मतदान होगा. लोकसभा की 543 सीटों के लिए करीब 2 हजार से भी ज्‍यादा पार्टियों के 8 हजार उम्‍मीदवार चुनावी मैदान में हैं. इस चुनाव से 17वीं लोकसभा चुनी जाएगी. सबसे ज्‍याद सीटें जीतने वाली पार्टी या गठबंधन प्रधानमंत्री का चुनाव करेगा. 

Video: दिल्‍ली में वोट देने के बाद राहुल और प्रियंका ने साधा पीएम मोदी पर निशाना



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement