NDTV Khabar

चुनावी आचार संहिता की धज्जिया उड़ाता भारतीय रेलवे, अभी भी लगे हुए हैं पीएम मोदी के पोस्टर्स और बैनर

आचार संहिता लागू होने के 10 दिनों के बाद भी रेलवे स्टेशनों और प्लेटफार्मों पर सरकार की योजनाओ का प्रचार करते नेताओं के चमकते चेहरों वाले पोस्टरों से पटा पड़ा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चुनावी आचार संहिता की धज्जिया उड़ाता भारतीय रेलवे, अभी भी लगे हुए हैं पीएम मोदी के पोस्टर्स और बैनर

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

हाजीपुर:

आचार संहिता लागू होने के 10 दिनों के बाद भी रेलवे स्टेशनों और प्लेटफार्मों पर सरकार की योजनाओ का प्रचार करते नेताओं के चमकते चेहरों वाले पोस्टरों से पटा पड़ा है. सरकार की योजनाओं के प्रचार के साथ नरेंद्र मोदी की तस्वीर वाले बड़े-बड़े बैनर ट्रेन की बोगिओं पर देश भर में घूम-घूम कर न केवल सफर कर रहे हैं, बल्कि आचार संहिता का खुला मजाक भी बना रहे हैं. बिहार के हाजीपुर स्टेशन के प्लेटफार्म पर जगह-जगह सरकार की उपलब्धिओं और योजनाओ के साथ प्रधानमंत्री की तस्वीर वाले बैनर और पोस्टर देखें जा सकते हैं. स्टेशन,पार्सल कार्यालय, वोटिंग रूम हर जगह बड़े बड़े होर्न्डिंग्स और पोस्टर चुनाव आचार संहिता को लेकर रेलवे की लापरवाही और बेफिक्री को दर्शा रहे हैं.  

यूपी में मंत्री के पति और बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष फंसे आचार संहिता उल्लंघन में, केस दर्ज


देश के चुनाव और चुनाव को लेकर देश में लागू आचार संहिता को लेकर रेलवे की लापरवाही यही पर खत्म नहीं होती है. हजारों किलोमीटर का सफर करने वाली कई ट्रेनों की बोगिओ पर प्रधानमंत्री के योजनाओं वाले पोस्टर्स को नहीं हटाया गया है. सिर्फ हाजीपुर स्टेशन से गुजरने वाली कई ट्रेनों की बोगिओं पर सरकारी विज्ञापन और विज्ञापन में तस्वीर लगी पोस्टर अचार संहिता लागू होने के दस दिनों बाद भी जस की तस बरकरार है. ट्रेन की बोगिओं पर गरीबों के मुफ्त इलाज की जन आरोग्य योजना के साथ प्रधानमंत्री के पोस्टर, बेशक सरकार की योजना के प्रचार के लिए लगाए गए हों. लेकिन देश में आचार संहिता के लागू होने के बाद इनको नहीं हटाया जाना चुनाव को प्रभावित करने और अचार संहिता का उलंघन का मामला है.    

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कर्नाटक में भारी मात्रा में नकदी बरामद, शराब, सोना-चांदी भी जब्त

टिप्पणियां

पोस्टरों और बैनरो को लेकर रेलवे के अधिकारिओ से जब पूछा गया तो अधिकारी सवाल से और कैमरों से भागते दिखे. हालांकि रेलवे की इस लापरवाही को वैशाली जिला प्रशासन ने गंभीर मानते हुए इस मामले में रेलवे को नोटिस जारी कर दिया है और वैशाली DM ने SDM को तुरंत पूरे मामले जांच के आदेश भी दे दिए हैं. वैशाली के मजिस्ट्रेट ने कहा की आचार संहिता के उलंघन करने वाले इन पोस्टरों को लेकर अगर रेलवे का जबाब संतोषजनक नहीं मिलता है तो इसमें रेलवे के ऊपर FIR भी दर्ज की जाएगी.  

Video: लोकसभा चुनाव 2019 : बीजेपी के खिलाफ आयोग से शिकायत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement