NDTV Khabar

तमिलनाडु: AIADMK ने लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी से गठबंधन के दिए संकेत, कहा- हमें कोई गुरेज नहीं 

पार्टी (AIADMK)  के वरिष्ठ नेता और सूबे के उप-मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम ने सोमवार को कहा कि चुनाव के समय कुछ भी हो सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तमिलनाडु: AIADMK ने लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी से गठबंधन के दिए संकेत, कहा- हमें कोई गुरेज नहीं 

अन्नद्रमुक ने बीजेपी से गठबंधन के दिए संकेत

खास बातें

  1. अन्नद्रुमक के नेता ने कहा हमें हर संभावना के लिए तैयार
  2. लोकसभा चुनाव को लेकर तैयारी तेज
  3. पीएम मोदी के फैसले पर सबकी नजर
चेन्नई:

लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) को दक्षिण भारत में एक नया साथी मिलता दिख रहा है. दरअसल, तमिलनाडु में सत्ता संभाल रही अन्नाद्रमुक (AIADMK) पार्टी ने चुनाव को लेकर बीजेपी से गठबंधन करने की इच्छा जताई है. पार्टी (AIADMK)  के वरिष्ठ नेता और सूबे के उप-मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम ने सोमवार को कहा कि चुनाव के समय कुछ भी हो सकता है. जानकारों की मानें तो पनीरसेल्वम का यह बयान साफ तौर पर गठबंधन को लेकर उनकी मंशा को जताता है. बता दें कि पनीरसेल्वम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi) के हाल में दिये गये उस बयान के बारे में पूछा गया था जिसमें प्रधानमंत्री (PM Modi) कहा था कि भाजपा अपने पुराने सहयोगियों (AIADMK) की हमेशा से कद्र करती रही है और वह गठबंधनों के लिए तैयार रही है.

यह भी पढ़ें: अन्नाद्रमुक के 18 अयोग्य विधायकों के मामले पर अंतिम सुनवाई 23 अगस्त को 


इसपर उन्होंने कहा कि अन्नाद्रमुक एक "उपयुक्त गठबंधन, मेगा गठबंधन और लोगों द्वारा पसंद किए जाने वाले गठबंधन की घोषणा करेगा. साथ ही उन्होंने कहा कि जब भी चुनाव की घोषणा होती है, चाहे वह संसदीय चुनाव हो या स्थानीय निकाय चुनाव, अन्नाद्रमुक पूरी तैयारी के साथ लड़ने और जीतने के लिए तैयार है. इस बीच भाजपा की राज्य इकाई की अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदर्यराजन ने चेन्नई में कहा कि उनकी पार्टी द्रमुक-कांग्रेस गठबंधन में शामिल दलों के अलावा किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने के लिए तैयार है.

यह भी पढ़ें: अविश्वास प्रस्ताव पर मोदी सरकार को एनडीए के बाहर से भी समर्थन मिला : अनंत कुमार

उन्होंने कहा कि भाजपा उन पार्टियों के साथ गठबंधन करेगी जिनका प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विश्वास है और जो विकास के एजेंडे और सुशासन के मार्ग पर चलने के लिए तैयार है. गौरतलब है कि यूपी में सपा-बसपा में बीते दिनों हुए गठबंधन के बाद से ही अलग-अलग राज्यों में पार्टियों में गठबंधन को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई है. यूपी में सपा से अलग हुए वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव ने कांग्रेस के साथ गठबंधन की इच्छा जताई है.

यह भी पढ़ें: अयोग्य ही रहेंगे AIADMK के 18 विधायक, हाईकोर्ट ने विधानसभा स्पीकर का फैसला बरकरार रखा

वहीं, दूसरी तरफ राजद के वरिष्ठ नेता और बिहार पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने सपा-बसपा के गठबंधन को मौजूदा समय की मांग बताया. उन्होंने सोमवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की. तेजस्वी ने कहा कि बीजेपी को हराने के लिए सभी को एक साथ आने की जरूरत है. 

VIDEO: DMK प्रमुख का निधन.

 

 

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement