NDTV Khabar

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बोले: सुलझा लिया जाएगा 'अपना दल' का मामला, आगे से देंगे न्योता, हर घर में होती है नाराजगी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे ने दावा किया है कि अपना दल का मामला सुलझा लिया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बोले: सुलझा लिया जाएगा 'अपना दल' का मामला, आगे से देंगे न्योता, हर घर में होती है नाराजगी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे. (फाइल तस्वीर)

खास बातें

  1. अपना दल ने योगी सरकार से लगया था उपेक्षा का आरोप
  2. भाजपा ने मानी गलती
  3. कहा- आगे से देंगे न्योता
नई दिल्ली:

एनडीए (NDA) में लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) को देखते हुए खींचतान के दौर के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अश्विनी चौबे ने दावा किया है कि अपना दल का मामला सुलझा लिया जाएगा. गुरुवार दोपहर केंद्रीय मंत्री चौबे ने कहा, 'मैंने अनुप्रिय पटेल के मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री से बात की है. मामला सुलझा लिया जाएगा, हर घर में थोड़ी बहुत नाराजगी होती है. उनके न्योता नहीं दिया गया था, अब आगे से ऐसा नहीं होगा.'

Poll : 2018 का सबसे पसंदीदा राजनेता कौन...?


अनुप्रिया पटेल की पार्टी अपना दल योगी सरकार से उपेक्षा का आरोप लगाकर बीजेपी को निशाने पर ले रही है. गुरुवार को केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि यूपी में सपा और बसपा का गठबंधन हमारे लिए चुनौती है. अपना दल अध्यक्ष आशीष पटेल के 'BJP को हालिया पराजयों से सबक सीखना चाहिए' वाले बयान पर केंद्रीय मंत्री तथा अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल ने कहा, "SP-BSP गठबंधन हमारे लिए चुनौती है... मेरी पार्टी के अध्यक्ष पार्टी का विचार व्यक्त कर चुके हैं, और मैं उससे सहमत हूं..."

NDA में BJP से 'नाराज' अपना दल की अनुप्रिया पटेल बोलीं: SP-BSP गठबंधन हमारे लिए चुनौती

बता दें, भारतीय जनता पार्टी पर लगातार उसकी सहयोगी पार्टियां कई मुद्दों को लेकर प्रेशर बनाती दिख रही है. राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में हार के बाद लगातार बीजेपी की सहयोगी पार्टियों ने दबाव बनाया. पहले उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी ने सीट बंटवारे को लेकर एनडीए से किनारा किया, फिर रामविलास पासवान की लोजपा ने सीटों को लेकर बीजेपी से अपनी मांगें मनवाई. 

BJP को मिलेगा एक और झटका? अनुप्रिया पटेल कार्यक्रम छोड़ लौटीं दिल्ली, 'अपना दल' सरकारी कार्यक्रम में नहीं लेगा हिस्सा

गौरतलब है कि इससे पहले बुधवार को अपना दल ने कहा कि उनकी पार्टी को वह सम्मान नहीं मिल पा रहा है, जिसकी हकदार वह है. साथ ही अपना दल की अनुप्रिया पटेल और उनके पति आशीष तब तक किसी भी उत्तर प्रदेश के सरकारी कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेंगे, जब तक केंद्रीय लीडरशिप इस मसले को हल नहीं करता है. अपना दल पार्टी की दलील है कि अनुप्रिया पटेल स्वास्थ्य विभाग में केंद्र में मंत्री है लेकिन राज्य में केंद्र के सहयोग से होने वाले स्वास्थ्य विभाग के कार्यक्रम में भी उन्हें नहीं बुलाया जाता है. अपना दल का कहना है कि उनकी पार्टी नाम की ही सहयोगी दल रह गई है. बता दें कि यूपी में अपना दल के 9 विधायक और एक एमएलसी हैं. 

कुशवाहा के बाद एक और सहयोगी हुआ बीजेपी से नाराज, एनडीए छोड़ने की धमकी दी

दरअसल, योगी सरकार के रवैये से नाराज होकर यूपी के सारे कार्यक्रम रद्द कर अनुप्रिया पटेल दिल्ली आ गई थीं. केंद्र सरकार में मंत्री अनुप्रिया पटेल को बुधवार को देवरिया में मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन करना था, मगर उन्होंने अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया और वह दिल्ली लौट आईं हैं. हालांकि, अपना दल के प्रतापगढ़ के सांसद हरिबंश सिंह ने कहा कि पीएम मोदी के लीडरशिप में एनडीए अच्छा काम कर रही है. 

टिप्पणियां

पासवान और राजभर के बाद अब अनुप्रिया पटेल को भी मनाने की कोशिश

VIDEO- रणनीति: अपनों के दबाव में BJP?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement