NDTV Khabar

कठुआ रेप केस : केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा, हम पीड़िता के सामने इंसान होने के नाते नाकाम रहे

वीके सिंह, कठुआ के जघन्य कांड के खिलाफ बोलने वाले पहले केंद्रीय मंत्री हैं...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कठुआ रेप केस : केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने कहा, हम पीड़िता के सामने इंसान होने के नाते नाकाम रहे

वीके सिंह की फाइल फोटो

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने गुरुवार को जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ में आठ वर्ष की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और उसकी हत्या के खिलाफ आवाज़ बुलंद करते हुए ट्वीट किया, 'उस बच्ची के लिए हम इंसान के रूप में नाकाम रहे, लेकिन उसे इंसाफ ज़रूर मिलेगा...'

वीके सिंह, इस बच्ची के साथ हुए जघन्य कांड के खिलाफ बोलने वाले पहले केंद्रीय मंत्री हैं. इससे पहले, उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी जितेंद्र सिंह, जो कठुआ के एक हिस्से का संसद में प्रतिनिधित्व करते हैं, ने पिछले महीने CBI जांच की मांग करते हुए कहा था, 'जिन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है, उन्हें इंसाफ दिया जाना चाहिए...'
 
sanji ram kathua ndtv copyright

सांजीराम इस जघन्य अपराध का मुख्य अभियुक्त है...

इस बच्ची को 10 जनवरी को उसके गांव के पास से अगवा कर लिया गया था, उसे नशे में रखा गया, और कई दिन तक उसके साथ कई लोगों ने गैंगरेप किया, जिनमें पुलिस अधिकारी और एक किशोर भी शामिल था, और आखिरकार उसे मार दिया गया. चार्जशीट के मुताबिक, उसका सिर पत्थर से कुचले जाने से ठीक पहले पुलिस अधिकारियों में से एक ने हत्यारे से कुछ देर रुकने के लिए कहा, ताकि वह एक बार और बच्ची के साथ रेप कर सके. बलात्कारियों में से एक को उत्तर प्रदेश के मेरठ से खासतौर से बुलाया गया था, ताकि वह अपनी 'हवस पूरी कर सके.'

पढ़ें कठुआ रेप मामले से जुड़ी अन्‍य खबरें...

बच्ची से दरिंदगी करने वालों का बचाव क्यों?
उन्नाव और कठुआ के रेप मामलों को लेकर कल से अनशन करेंगी स्वाति मालीवाल
कांग्रेस का पीएम मोदी पर हमला, पूछा- आप 'बेटियां छुपाओ' का संदेश देना चाहते हैं या 'बेटी बचाओ' का?
उन्नाव और कठुआ गैंगरेप केस के बाद इस राज्य से आई अच्छी खबर, बताया अपराध हुए कम
8 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म पर बोले फरहान अख्तर, अगर यह आतंक नहीं तो आप...
सिर्फ बच्ची से रेप करने के लिए मेरठ से जम्मू गया था आरोपी छात्र,चार्जशीट में हुआ खुलासा
अपराध शाखा ने सात आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया
जम्मू कश्मीर : आठ साल की बच्ची की अगवा करके हत्या करने के मामले में एसपीओ गिरफ्तार

टिप्पणियां
बच्ची का शव 17 जनवरी को जंगलों से बरामद हुआ. जब उसकी बिरादरी और स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया, दो पुलिस वालों ने सबूतों से छेड़छाड़ कर आरोपी की मदद करने की कोशिश की.

इस मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मुख्य अभियुक्त सांजीराम ने इस अपराध की साजिश रची थी, ताकि बखेरवाल बंजारा समुदाय के लोगों में डर पैदा किया जा सके, और उन्हें रसाना क्षेत्र से खदेड़ा जा सके. अन्य अभियुक्तों में स्पेशल पुलिस ऑफिसर दीपक खजूरिया, सुरेंद्र वर्मा और प्रवेश कुमारू के अलावा सांजीराम का नाबालिग भतीजा और सांजीराम का बेटा विशाल जंगोत्रा शामिल हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement