NDTV Khabar

Attari: वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन की आगवानी करना चाहते थे अमरिंदर सिंह, मगर जानें किस वजह से अब ऐसा नहीं करेंगे

भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के बीच भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन आज वतन वापस आ रहे हैं. अभिनंदन की आगवानी पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह करना चाहते थे, मगर प्रोटोकॉल की वजह से वह ऐसा नहीं कर सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Attari: वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन की आगवानी करना चाहते थे अमरिंदर सिंह, मगर जानें किस वजह से अब ऐसा नहीं करेंगे

Wagah Border (Attari) पर Abhinandan Varthaman का स्वागत करना चाहते थे अमरिंदर सिंह

नई दिल्ली:

भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के बीच भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन (Wing commander Abhinandan Varthaman) आज वतन वापस आ रहे हैं. वह वाघा बॉर्डर (Wagah Border) के रास्‍ते भारत लौटेंगे. अभिनंदन की आगवानी पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह करना चाहते थे, मगर प्रोटोकॉल की वजह से वह ऐसा नहीं कर सकते हैं. इस दौरान अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर वह अभिनंदन की आगवानी कर पाते तो उन्हें खुशी होती. मगर कुछ प्रोटोकॉल हैं, जिसकी वजह से वह ऐसा नहीं कर पाएंगे.

हमारे देश के 22 दलों द्वारा पारित प्रस्ताव के बाद मैंने पाकिस्तानी मीडिया के चेहरे पर हंसी देखी : अमित शाह

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का कहना है, "मुझे (विंग कमांडर Abhinandan Varthaman वर्धमान की अगवानी के लिए) जाकर खुशी होती, लेकिन तय प्रोटोकॉल है. जब भी कोई इस तरह आता है, जैसे 65' और 71' की जंग के बाद युद्धबंदी आए थे, उन्हें पहले मेडिकल परीक्षण के लिए जाना पड़ता है, और फिर डीब्रीफ किया जाता है... मुझे लगता है, यही प्रक्रिया यहां भी अपनाई जाएगी."


पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन (“Abhinandan Varthaman) वर्थमान को स्वदेश वापसी की बधाई देते हुए शुक्रवार को कहा कि वह हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी करने के लिए इसलिए मौजूद नहीं हैं, क्योंकि वह नहीं चाहते कि सेना के प्रोटोकॉल का किसी भी तरह से उल्लंघन हो. मुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा, "मैं वहां जाना चाहता था, क्योंकि मेरी तरह ही वह और उनके पिता दोनों राष्ट्रीय रक्षा अकादमी से हैं और अगर मैं बहादुर अधिकारी का स्वागत करता तो यह मेरे लिए बहुत ही सुखद और खुशी का क्षण होता."

अभिनंदन को ये अनोखा गिफ्ट देना चाहते हैं अनूप जलोटा, Twitter पर लिखा- खुद को सौभाग्यशाली मानूंगा अगर...

उन्होंने कहा, "वर्ष 1965 या 1971 के युद्ध का कोई भी युद्धबंदी वापस आया तो उसे पहले चिकित्सा परीक्षण के लिए भेजा गया. उसके बाद एक डीब्रीफिंग हुई। विंग कमांडर अभिनंदन के साथ भी कुछ ऐसा ही होने की संभावना है.' मुख्यमंत्री ने हालांकि अभिनंदन की वापसी पर बहुत गर्मजोशी से बधाई देते कहा कि जिस तरह से वह कैद में होकर भी पाकिस्तानी सशस्त्र बलों के सवालों के जवाब दे रहे थे, उससे पूरे देश को गर्व है. 

Welcome Home Abhinandan: अभिनंदन के स्वागत में अटारी में उमड़ी भीड़ बोली- हमारा रियल हीरो आ रहा है

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने तनाव के मद्देनजर राज्य के कुछ सीमावर्ती गांवों का दौरा किया और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के इस ऐलान का स्वागत किया कि कैद भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा किया जाएगा. भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव के मद्देनजर लोगों के भरोसे को दृढ़ करने के लिए दौरे पर गये अमरिंदर सिंह ने इस दौरान खालरा निरीक्षण चौकी पर बीएसएफ कर्मियों से बातचीत की. 

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी ताकतों द्वारा किया गया पुलवामा हमला एक कायराना हरकत थी जिस पर भारत द्वारा जवाबी कार्रवाई जरूरी थी.' हालांकि उन्होंने आशा प्रकट की है कि सीमा पर सामान्य स्थिति शीघ्र बहाल होगी.    

विंग कमांडर अभिनंदन- आप हमारे गौरव हैं, आप हमारा अभिमान हैं : कांग्रेस

टिप्पणियां

मुख्यमंत्री ने बीएसएफ को अपनी सरकार की ओर से सभी सहयेाग का आश्वासन देते हुए कहा, ‘हम आपके लिए वहां हैं.'    उन्होंने कहा कि वह निरंतर केंद्र के संपर्क में है और स्थिति पर उनकी नजर है. इस बीच मीडिया से एक अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने लोगों और सुरक्षाबलों का मनोबल ऊंचा पाया.

VIDEO- तीनों सेनाओं की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस : हम जो करना चाहते थे वो कर दिया



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement