बदला नजर आया मौसम का मिजाज: शनिवार रहा सबसे गर्म दिन, 26 जनवरी को बारिश के आसार 

दिल्ली के मौसम ने दिन भर लोगों को खूब छकाया. सर्द सुबह से शुरुआत हुई तो दिन आते-आते तापमान बढ़ता नजर आया.

बदला नजर आया मौसम का मिजाज: शनिवार रहा सबसे गर्म दिन, 26 जनवरी को बारिश के आसार 

दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर बारिश के आसार

खास बातें

  • शनिवार रहा इस साल का सबसे गर्म दिन
  • दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर बारिश के आसार
  • अगले दो दिनों तक सर्दी से हल्की राहत की उम्मीद
नई दिल्ली:

दिल्ली के मौसम ने दिन भर लोगों को खूब छकाया. सर्द सुबह से शुरुआत हुई तो दिन आते-आते तापमान बढ़ता नजर आया. शनिवार की सुबह राजधानी दिल्ली में औसत तापमान से दो डिग्री कम, 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. तो अधिकतम तापमान औसत से छह डिग्री अधिक 25.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार शनिवार साल 2019 का सबसे गर्म दिन रहा. पिछले साल इसी तारीख को अधिकतम तापमान 27.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. रविवार सुबह हल्का कोहरा छाया रहा. मौसम विभाग के अधिकारियों के अनुसार रविवार को आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और दोपहर और फिर शाम को पूरी तरह बादल छाने का अनुमान है. उन्होंने अनुमान जताते हुए कहा कि अधिकतम और न्यूनतम तापमान 25 और नौ डिग्री के आस-पास रहेगा.         

विंटर्स में स्किन पर होनी वाली आम समस्‍याओं के लिए अपनाएं ये 5 प्रोडक्‍ट्स

ऐसा ही कुछ दिल्ली के आस-पास के इलाकों में भी देखने को मिल रहा है. पंजाब, हरियाणा और एनसीआर समेत अन्य मैदानी इलाकों में अगले दो दिन तक न्यूनतम तापमान में इजाफे के कारण सर्दी से हल्की राहत रहेगी. इन इलाकों में 21 और 25 जनवरी की शाम से बारिश की संभावना के मद्देनजर गणतंत्र दिवस के लिये थोड़ी चिंता बढ़ गयी है. मौसम विभाग के अगले सात दिनों के पूर्वानुमान के अनुसार उत्तरी क्षेत्र के मैदानी इलाकों, दिल्ली पंजाब, हरियााण और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों से न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी का दौर जारी है. मौसम विभाग की पूर्वानुमान इकाई के वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के कारण एक तरफ 21 जनवरी की शाम को जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में तथा 22 जनवरी को उत्तराखंड में मध्यम से भारी बारिश और हिमपात की चेतावनी जारी की गयी है. इसका असर दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, पंजाब हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 21 जनवरी की शाम से बादल छाये रहने और हल्की बारिश के रूप में देखने को मिलेगा.

दिल्ली-एनसीआर में घना कोहरा, फ्लाइट्स और रेलगाड़ियों पर असर, मौसम विभाग ने इन राज्यों को लेकर जारी की चेतावनी

इन इलाकों में मौसम का यह मिजाज 22 जनवरी को भी बरकरार रहने का अनुमान है. मौसम के साप्ताहिक पूर्वानुमान के मुताबिक मैदानी इलाकों में 21 और 22 जनवरी को बारिश के कारण न्यूनतम तापमान में गिरावट और हवा की गति में इजाफा दर्ज किये जाने के साथ सर्दी एक बार फिर बढ़ने का अनुमान है. इस अवधि में न्यूनतम तापमान नौ से आठ डिग्री सेल्सियस तक रहने और हवा की गति बढ़कर 25 से 30 किमी प्रतिघंटा तक हो सकती है. इससे दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण से मामूली राहत मिल सकती है. विभाग ने हालांकि 23 और 24 जनवरी को दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में कोहरा बढ़ने की संभावना को देखते हुये हवा की गुणवत्ता में गिरावट आने की आशंका है. वहीं 25 जनवरी को देर शाम दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में हल्की बारिश का दौर शुरु होने और 26 जनवरी को सुबह बादल छाये रहने के साथ हल्की बारिश की संभावना व्यक्त की है. गणतंत्र दिवस आयोजन के मद्देनजर मध्य दिल्ली क्षेत्र के मौसम के पूर्वानुमान के बारे में श्रीवास्तव ने बताया कि फिलहाल 25 जनवरी की शाम से 26 जनवरी तक समूचे दिल्ली एनसीआर में हल्की बारिश की संभावना है. 

सर्द हवाओं से ठिठुरा पूरा उत्तर भारत, खराब मौसम में कई उड़ाने हुई रद्द, ट्रेन चल रहीं देरी से

Newsbeep

परेड स्थल समेत इलाके विशेष के बारे में मौसम का पूर्वानुमान कम से कम चार दिन पहले ही व्यक्त किया जा सकता है. इसलिये 26 जनवरी को मध्य दिल्ली क्षेत्र में बारिश होगी या नहीं यह अभी बता पाना मुमकिन नहीं है. उल्लेखनीय है कि हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर मध्य दिल्ली स्थित राजपथ पर रक्षा मंत्रालय द्वारा परेड का भव्य आयोजन होता है. इस आयोजन में शिरकत करने वालों में राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री सहित तमाम गणमान्य व्यक्ति शामिल होते है.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: पहाड़ों पर बिछी बर्फ की चादर