ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ अपनी लड़ाई की तुलना 'भारत छोड़ो आंदोलन' से की, पीएम मोदी को लेकर कही यह बात... 

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो (Mamata Banerjee) ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा.

ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ अपनी लड़ाई की तुलना 'भारत छोड़ो आंदोलन' से की, पीएम मोदी को लेकर कही यह बात... 

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना

खास बातें

  • ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से लोकतंत्र को बचाने की बात कही
  • ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी को हराकर ही लोकतंत्र को बचा सकते हैं
  • पीएम मोदी पर पहले भी हमले कर चुकी हैं ममता बनर्जी
नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर देश में फासीवादी सरकार चलाने का आरोप लगाया. उन्होंने (Mamata Banerjee) भाजपा के खिलाफ अपने अभियान की 1942 में भारत छोड़ो आंदोलन से तुलना की. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो (Mamata Banerjee) ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री और उनकी पार्टी को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा. उन्होंने (Mamata Banerjee) कहा की किसी को जोखिम लेना होगा. 1942 में अंग्रेजों के खिलाफ भारत छोड़ो आंदोलन शुरू हुआ, अब हम सत्ता से फासीवादी मोदी को हटाने के लिए लड़ रहे हैं. ममता दीदी ने कहा कि अगर मोदी फिर से जीते तो देश में आजादी या लोकतंत्र नहीं रहेगा. यही वक्त है कि हम मोदी और भाजपा को बाहर का रास्ता दिखाएं. यही समय है कि इस लोकतांत्रिक कवायद के दौरान इस सरकार को खत्म कर दें.

हर व्यक्ति को 'जय श्री राम' बोलने के लिए बाध्य करने की कोशिश कर रही है बीजेपी: ममता बनर्जी

 मुख्यमंत्री ने दावा किया कि लोग सार्वजनिक तौर पर अपनी राय व्यक्त करने से डर रहे हैं. उन्होंने कहा कि देश में आपातकाल जैसी स्थिति है. कोई भी खुलकर बोल नहीं सकता क्योंकि वे उनसे डरते हैं. इस तानाशाही और आतंक को रोकना होगा. सीएम ममता ने बनर्जी ने फिर जोर देकर कहा कि मोदी संकट के समय कभी पश्चिम बंगाल नहीं आए. उन्होंने कहा कि बंगाल में आपको बड़ा रसगुल्ला (जीरो सीट) मिलेगा. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि मोदी ने झूठ बोला था कि वह कभी चायवाला थे.

पीएम मोदी ने कहा- दीदी ने फोन का जवाब नहीं दिया, तो ममता ने किया पलटवार, बताया- 'एक्सपायरी प्रधानमंत्री'

उन्होंने कहा कि चायवाला अब चौकीदार हो गया है. हमें झूठ बोलने वाला चौकीदार नहीं चाहिए. ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि मोदी के राज में भारत खतरे में हैं. उन्होंने कहा कि हमें महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, आंबेडकर, राजेंद्र प्रसाद और स्वामी विवेकानंद जैसे नेताओं की जरूरत है. हालांकि, वे (भाजपा) गांधीजी की नहीं, नाथूराम गोडसे की बात करते हैं. गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा हो. इससे पहले  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक आरोप से नाराज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा था कि, 'नरेंद्र मोदी को लोकतंत्र का एक जोरदार तमाचा लगना चाहिये.' PM मोदी ने कहा था कि तृणमूल कांग्रेस सरकार को फिरौती सिंडिकेट चला रहा है. उन्होंने भाजपा के राष्ट्रवादी एवं देशभक्त दावों पर प्रश्न करते हुए कहा था कि वह 'आरएसएस का आदमी' ही था जिसने महात्मा गांधी की हत्या की थी.

उन्होंने पुरुलिया के रघुनाथपुर में आयोजित जनसभा में कहा था कि मैं राजनीति में अपना सिर नहीं झुकाऊंगी. जब मोदी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस सिंडिकेट की पार्टी है..इसकी सरकार को सिंडिकेट चला रहे हैं. मुझे लगा उन्हें लोकतंत्र का एक करारा तमाचा (चुनाव में पराजय) लगना चाहिए. उन्होंने मोदी को ऐसा प्रधानमंत्री बताया जो, 'झूठ बोलने के लिए जाने जाते हैं.' ममता बनर्जी ने कहा था कि चुनाव के समय पश्चिम बंगाल के अपने दौरे पर आए मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार ने दुर्गापूजा और अन्य हिंदू अनुष्ठानों को करने की अनुमति नहीं दी. उन्होंने पूछा, 'क्या आप इन आरोपों पर भरोसा करेंगे.'

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी का एक और हमला: बीजेपी बाबू, आप 'जय श्री राम' तो बोलते हैं, मगर अब तक एक भी राम मंदिर बनाया?

उन्होंने लोगों को जय श्री राम नहीं बोलने दिए जाने के प्रधानमंत्री के इस दावे पर कहा था कि मैं नारे लगाने में उनका (भाजपा) साथ नहीं दूंगी. इसके बजाए मैं कहूंगी जय हिंद.' बांकुड़ा जिले के रानीबंध में आयोजित एक अन्य बैठक में उन्होंने भाजपा के देशभक्ति के दावे पर सवाल खड़ा करते हुए कहा, 'मैं नहीं जानती कि गांधीजी के हत्यारे कौन थे. लेकिन हम आरएसएस के आदमी नाथूराम गोडसे का नाम जानते हैं. जब आप देशभक्ति की बात करते हैं और देश की सेवा की बात करते हैं तो आप बता सकते हैं कि वह कौन था.'

यह भी पढ़ें: हर व्यक्ति को 'जय श्री राम' बोलने के लिए बाध्य करने की कोशिश कर रही है बीजेपी: ममता बनर्जी

Newsbeep

ममता बनर्जी ने कहा था कि क्या आपने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी? आपने (भाजपा) ने अंग्रेजों का समर्थन किया. क्या आपको इस पर शर्म नहीं आती? बांकुड़ा में ही बाराजोरा में उन्होंने कहा था कि वे (भाजपा) राष्ट्र के नेताओं के रूप में गांधीजी और नेताजी का सम्मान नहीं करते हैं...मोदी हमें देशभक्ति पर प्रवचन न दें.' उन्होंने आरोप लगाया था कि भाजपा ने चुनावों में भगवान श्रीराम पर राजनीति करना शुरू कर दिया है. उन्होंने कहा कि भगवा दल को बीते पांच सालों में छोटा सा राम मंदिर बनाने का अवसर नहीं मिला.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: ममता बनर्जी बोलीं- राजीव गांधी को भ्रष्ट कहा, मुझे टोल कलेक्टर तो फिर पीएम क्या हैं?​