NDTV Khabar

Abhinandan का देश में 'अभिनंदन': वतन लौटे IAF पायलट अभिनंदन वर्धमान, पाकिस्तान ने वाघा बॉर्डर पर भारत को सौंपा

Abhinandan Varthaman Returns: भारतीय वायुसेना (IAF) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) वतन वापस लौटे आए हैं. पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को भारत को सौंप दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

Abhinandan Varthaman Returns: भारतीय वायुसेना (IAF) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) वतन वापस लौटे आए हैं. पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को भारत को सौंप दिया है. पाकिस्तानी सेना ने बीएसएफ को विंग कमांडर अभिनंदन को सौंपा. दिनभर चले घनाक्रम और लंबे इंतजार के बाद आखिर भारतीय पायलट की वतन वापसी हो गई. इससे पहले पाकिस्‍तान ने विंग कमांडर को भारत को सौंपे जाने का समय दो बार बदला. पहले कहा गया कि शाम 6 बजे भारतीय पायलट को भारत को सौंपा जाएगा. बाद में यह समय बढ़कर रात 9 बजे हो गया. लेकिन रात करीब 9:15 बजे अंतत: पाकिस्‍तान ने अभिनंदन को भारतीय अधिकारियों के हवाले किया.

इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए एयर वाइस मार्शल आरजी के कपूर ने कहा कि वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्धमान को अभी-अभी हमें सौंपा गया है. उन्होंने कहा कि हम उन्हें वापस पाकर खुश हैं. उन्होंने कहा कि पायलट को विस्तृत मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया जाएगा, क्योंकि उन्हें काफी तनाव के क्षणों से गुजरना पड़ा. विदेश मंत्रालय ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा अटारी बार्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया.


पाकिस्तान के लड़ाकू विमान एफ-16 (F-16) को मार गिराने के बाद वह पाकिस्तान (Pakistan) के कब्जे में थे. पाकिस्तान वाघा बॉर्डर (Wagah Border) पर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan) को भारत को सौंपेगा. विंग कमांडर अभिनंदन के स्वागत में अटारी बॉर्डर पर हजारों लोग ढोल-नगाड़े, पोस्टर और हार-फूल लेकर पहुंचे हुए हैं. बता दें कि भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमानों का पीछा करते हुए अभिनंदन वर्धमान अपने मिग-21 विमान से एलओसी के पार चले गए थे. इसी दौरान उनका विमान क्रैश हो गया था. जिसके बाद से ही वह पाक सेना की गिरफ्त में थे.

 

 

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान द्वारा सौंपे जाने के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट किया. 

 

 

कांग्रेस अध्यक्ष  राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया. 

 

hj9rfrig

पाकिस्तान ने अभिनंदन वर्धमान को भारत को सौंपा.

 

in8kmq4

विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी का इंतजार कर रहे लोग अटारी बॉर्डर पर जमकर जश्न मना रहे हैं.

भारत चाहता था वायुसेना के स्पेशल विमान से हो अभिनंदन की वतन वापसी

कैसे बढ़ा तनाव
26 फरवरी को भारत की ओर से आतंकी कैंपों पर एयरस्ट्राइक और फिर पाकिस्तानी वायुसेना की भारत में घुसने की कोशिश ने दोनों देशों के तनाव को बढ़ाने का काम किया. हालांकि, तनाव की शुरुआत तो उसी दिन हो गई थी, जब 14 फरवरी को आतंकी संगठन जैश- ए-मोहम्मद ने पुलवामा आतंकी हमले को अंजाम दिया था, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद 26 फरवरी को आतंकी कैंप पर भारत की कार्रवाई ने पाकिस्तान को बौखला दिया. 27 फरवरी को भारत और पाकिस्‍तान दोनों तरफ जवाबी कार्रवाई को लेकर खबरें जोरों पर रहीं. पाकिस्‍तान ने एलओसी इलाके में अपने लड़ाकू विमान से घुसपैठ की कोशिश की जिसे भारतीय वायु सेना ने नाकाम कर दिया. पाकिस्‍तानी विमान का मलबा पाक अधिकृत कश्‍मीर में मिला. इस दौरान भारतीय वायुसेना को एक मिग विमान का नुकसान हो गया. भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा कि हमारा एक पायलट (Abhinandan Varthaman) लापता है. बाद में उसके पाकिस्‍तान में बंधक बनाए जाने की सूचना मिली. भरत ने पाकिस्‍तान के अधिकारियों को तलब किया और पाकिस्‍तान में कैद पायलट को सुरक्षित वापस करने को कहा. इस बीच पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के साथ फिर से बातचीत का राग अलापा. पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि जंग हुई तो यह किसी के काबू में नहीं रहेगी. इमरान खान ने कहा कि हम भारत को बातचीत के लिए आ‍मंत्रित करते हैं. 

दुश्मन की कैद में IAF पायलट अभिनंदन ने पाकिस्तान को ऐसे कराया 'साहस' से परिचय

कम होंगे तनाव?
भारत-पाकिस्तान पर गहराते युद्ध के बादलों के बीच पाकिस्तान द्वारा विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई की घोषणा तनाव को कम करने की कोशिश जरूर करेगा. इमरान खान के ऐलान के कुछ ही घंटे पहले भारत ने उन्हें बिना शर्त रिहा करने का कड़ा संदेश दिया था. पाकिस्तान का यह कदम दोनों पड़ोसी देशों के बीच बढ़े तनाव को काफी हद तक दूर करेगा. नयी दिल्ली में भारतीय थल सेना, वायुसेना और नौसेना के शीर्ष अधिकारियों की एक संयुक्त मीडिया ब्रीफिंग में कहा गया कि सशस्त्र बल किसी भी सुरक्षा चुनौती से निपटने के लिए हाई अलर्ट पर हैं. हालांकि, उन्होंने इस बारे में सवालों का कोई सीधा जवाब नहीं दिया कि अभिनंदन को मुक्त करने के पाकिस्तान के फैसले को क्या तनाव घटने के रूप में देखा जा सकता है. 

अमरिंदर ने सीमावर्ती गांवों का किया दौरा, विंग कमांडर की रिहाई के ऐलान का किया स्वागत

इमरान खान के ऐलान ने हतप्रभ कर दिया:
दिन में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद के एक संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए हतप्रभ कर देने वाला यह ऐलान किया कि भारतीय वायुसेना के पकड़े गए पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा किया जाएगा. पाकिस्तानी सांसदों ने मेजें थपथपा कर इस घोषणा की सराहना की. इमरान खान ने कहा, ‘शांति की हमारी कामना में, मैं घोषणा करता हूं कि कल (शुक्रवार को), और बातचीत शुरू करने के लिए पहले कदम के तौर पर, पाकिस्तान अपनी हिरासत में मौजूद भारतीय वायुसेना के अधिकारी को रिहा कर रहा है.' उनके विदेश मंत्री ने कहा कि खान भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर शांति वार्ता करना चाहते हैं. हालांकि, भारत पाकिस्तान से बात करने के ‘मूड' में नजर नहीं आ रहा है. 

...जब विंग कमांडर अभिनंदन से पूछा गया था, अच्छा पायलट बनने के लिए क्या जरूरी, यह मिला था जवाब

जेनेवा संधि के तहत रिहाई
भारत ने कहा है कि वह इस्लामाबाद से पहले आतंकवाद पर कार्रवाई चाहता है. नयी दिल्ली ने यह भी साफ कर दिया है कि अभिनंदन पर कोई सौदेबाजी नहीं की जा सकती है तथा उन्हें बिना शर्त और फौरन वापस भेजने की मांग की है. बृहस्पतिवार शाम भारतीय वायुसेना ने नयी दिल्ली में कहा कि उसे खुशी है कि पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए विंग कमांडर अभिनंदन कल (शुक्रवार को) घर लौटेंगे और इसे सद्भावना संदेश के रूप में पेश किये जाने को खारिज कर दिया. साथ ही, इस बात पर जोर दिया कि यह जिनीवा संधि के अनुरूप है. वायुसेना उप प्रमुख एयर वाइस मार्शल आर जी के कपूर ने संवाददाताओं से कहा, ‘ हमें खुशी है कि अभिनंदन कल (शुक्रवार को) छोड़ दिए जायेंगे और हम उनके लौटने को लेकर आशान्वित हैं .' यह पूछे जाने पर कि क्या वायु सेना इसे सद्भावना संदेश के रूप में देखती है, उन्होने कहा कि हम इसे जिनेवा संधि की भावना के अनुरूप देखते हैं.

वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन की आगवानी करना चाहते थे अमरिंदर सिंह, मगर जानें किस वजह से अब ऐसा नहीं करेंगे

पाक के एफ-16 को मार कर पाकिस्तान में गिरफ्तार हुए अभिनंदन:
बुधवार यानी 27 फरवरी को जैश के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना की एयरस्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान ने भारतीय सीमा में घुसने की नापाक कोशिश की थी. पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विवानों को खदेड़ने के दौरान पायलट अभिनंदन पाकिस्तानी सीमा में जा घुसे. भारतीय वायुसेना और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान मिग 21 के गिरने के दौरान पायलट पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में उतर गया था. खबरों के मुताबिक विंग कमांडर ने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तान के एफ - 16 को मार गिराया था. इसके बाद पाकिस्तान ने पायलट को गिरफ्तार कर लिया. हालांकि, इससे पहले पाकिस्तानी नागरिकों ने पायलट अभिनंदन को घायल भी कर दिया था. जिसके बाद तनाव की स्थिति और बढ़ गई थी. 

भारत-पाक में बढ़े तनाव के बीच PM मोदी की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक  

भारत का आतंकी कैंप पर एयरस्ट्राइक 
दरअसल, 26 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारत ने पाकिस्तानी सरजमीं पर पल रहे जैश के आतंकी ठिकानों पर हमला बोला. भारतीय वायुसेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकी शिविर पर बम गिराए थे और करीब 300 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था.  इस दौरान भारत ने करीब 12 मिराज लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल किया और 1000 किलो बमों की बारिश कर दी. इसके बाद पाकिस्तान की बौखलाहट सामने आने लगी और उसने भारत के दावे को खारिज करने की कोशिश की. आतंकी ठिकानों पर भारत की एयरस्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया. हालांकि, एयरस्ट्राइक के बाद भारत ने इसकी सूचना तमाम देशों को दे दी. 

अभिनंदन को ये अनोखा गिफ्ट देना चाहते हैं अनूप जलोटा, Twitter पर लिखा- खुद को सौभाग्यशाली मानूंगा अगर...

अमेरिका ने भी दिया भारत का साथ 
भारत और पाक पर संयम दिखाने और तनाव दूर करने के लिए अंतरराष्ट्रीय दबाव बढ़ने के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनके पास दोनों दक्षिण एशियाई देशों से कुछ समुचित आकर्षक खबरें हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हनोई में एक सवाल के जवाब में कहा था कि उनके पास दोनों देशों से एक अच्छी खबर है और वह यह है कि दोनों देशों के बीच तनाव जल्द ही खत्म हो सकता है. इससे पहले अमेरिका ने पाकिस्तान को जहां आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही, वहीं दोनों देशों को तनाव कम करने के लिए उचित कदम उठाने को कहा. इतना ही नहीं, आतंकी कैंप पर भारत की कार्रवाई को भी अमेरिका ने जायज ठहराते हुए अपना समर्थन दिया था.     

अभिनंदन की बहादुरी पर प्रीति जिंटा ने किया ट्वीट, लिखा- अमेरिकी हैरान हैं कि...

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने क्या किया? 
पुलवामा हमले के बाद भारत ने इसके अगले दिन ही सेना को खुली छूट देने की बात कही थी और पाकिस्‍तान से 'मोस्‍ट फेवरेट नेशन' दर्जा वापस ले लिया था. इसके बाद घाटी में हुए सर्च ऑपरेशन में जैश के कई आतंकवादी मारे गए थें. 26 फरवरी की रात में वायु सेना ने अपने असैन्‍य कार्रवाई में पाकिस्‍तान के बालाकोट स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के कैंप को ध्‍वस्‍त कर दिया था. भारत के इस कार्रवाई का पूरी दुनिया ने समर्थन किया. 27 फरवरी की शाम में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना प्रमुखों के साथ तकरीबन एक घंटे बात की. साथ में राष्‍ट्रीय सुरक्षा प्रमुख अजित डोभाल भी उपस्‍थ‍ित थें. उच्‍चस्‍तरीय बैठक के बाद दिल्‍ली मेट्रो के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया और प्रत्‍येक दो घंटे पर स्‍टेशन कंट्रोलर को सूचना देने का भी निर्देश दिया गया.  

आतंकी कैंपों पर वायुसेना की कार्रवाई पर बोले केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर: यह जरूरी था, पीएम मोदी ने दी है छूट

टिप्पणियां

पुलवामा आतंकी हमले में 40 जवान हुए शहीद
इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में हुए एक आत्‍मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थें. हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्‍तान स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली थी. 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए.

VIDEO: भारतीय वायुसेना ने हमला कर आतंकी कैंपो को किया तबाह



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement