NDTV Khabar

पाक की सरजमीं पर अभिनंदन के वो 60 घंटे, एयर स्ट्राइक से लेकर पायलट की वतन वापसी तक, जानें पूरा घटनाक्रम

Welcome Home Abhinandan: भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के बीच करीब 60 घंटे पाक की सरजमीं पर समय बिताकर भारतीय वायुसेना (IAF Pilot) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) सुरक्षित वतन लौटे आए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाक की सरजमीं पर अभिनंदन के वो 60 घंटे, एयर स्ट्राइक से लेकर पायलट की वतन वापसी तक, जानें पूरा घटनाक्रम

Welcome Home Abhinandan: भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन की हुई वतन वापसी

खास बातें

  1. शुक्रवार की रात में अभिनंदन वतन वापस लौटे.
  2. अभिनंदन करीब 60 घंटे तक पाकिस्तानी जमीं पर रहे.
  3. अभिनंदन को भारत के हवाले किया गया.
नई दिल्ली:

Welcome Home Abhinandan: भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के बीच करीब 60 घंटे पाक की सरजमीं पर समय बिताकर भारतीय वायुसेना (IAF Pilot) के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) सुरक्षित वतन लौटे आए हैं. शुक्रवार को दिनभर के इंतजार और पाकिस्तान की चालबाजी के जद्दोजहद के बाद आखिरकार करीब 9 बजकर 16 मिनट पर वायुसेना के जाबांज पायलट अभिनंदन पाकिस्तान से भारतीय सरजमीं पर लौटे. उनकी वापसी से पहले के कुछ घंटे संशय से भरे रहे. कुछ समय नहीं आ रहा था कि आखिरकार पाकिस्तान कमांडर अभिनंदन  (Abhinandan Varthaman) की वापसी कराने में इतना विलंब क्यों कर रहा है. बार-बार समय में बदलाव की वजह से कई बार फिर से पाकिस्तान के मंसूबों पर भारतीयों को शक हुआ. विंग कमांडर अभिनंदन रात 9 बजकर 10 मिनट पर पाकिस्तान की ओर वाघा चेकपोस्ट पर दिखे और उनके साथ पाकिस्तानी रेंजर, इस्लामाबाद में उच्चायोग में भारतीय एयर अताशे मौजूद थे. वे गहरे रंग का कोट और खाकी रंग की पैंट पहने हुए थे. गर्व से सिर ऊंचा किए विंग कमांडर अभिनंदन (Abhinandan) ने पाकिस्तान से गेट पार करके भारत में प्रवेश किया. अभिनंदन की वापसी ने देश में जश्न का माहौल बना दिया और सभी अभिनंदन की वापसी पर एक सुर में बोले- वतन वापसी पर अभिनंदन का हार्दिक अभिनंदन. तो चलिए जानते हैं कि आखिर अभिनंदन की वापसी प्रक्रिया के दौरान शुक्रवार को क्या-क्या हुआ...

अभिनंदन वर्धमान के भारत लौटने पर स्मृति ईरानी ने कहा, पीएम मोदी के पराक्रम से 48 घंटों में हुई पायलट की वापसी


27 फरवरी को पाकिस्तानी विमानों द्वारा भारतीय वायु सीमा के उल्लंघन के दौरान अदम्य वीरता का प्रदर्शन करने वाले विंग कमांडर अभिनंदन शुक्रवार रात को पाकिस्तान से स्वदेश वापस लौट आए. उनकी वापसी से पहले के कुछ घंटे संशय से भरे रहे. इस कदम को आतंकवाद का पाकिस्तान से जारी समर्थन पर भारत के जवाब के बाद उत्पन्न तनाव की स्थिति को कम करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम के तौर पर देखा जा रहा है. 

AIADMK नेताओं ने पाकिस्तान में हवाई हमलों को लेकर PM मोदी को 'नरसिंह' अवतार बताया

दरअसल, शुक्रवार को पाकिस्तान विंग कमांडर अभिनंदन को भारत को सौंपने वाला था. इसके लिए भारत की ओर से पूरी तैयारियां की जा चुकी थीं. वायुसेना के अधिकारी, भारतीय दूतावास के अधिकारी और सरकार के प्रतिनिधि सभी समय पर तैयार थे, मगर पाकिस्तान की चालबाजियों ने दोपहर से रात कर दिया. पहले पाकिस्तान की ओर से ही बताया गया था कि अभिनंदन को वह करीब दोपहर में 3 से चार बजे के बीच में रिहा कर देगा, मगर उसने बार-बार देरी की. इसके पीछे कई वजहें बताईं जा रही हैं. मसलन, वह इस घटना को लाइम लाइट में लाना चाहता था. वह चाहता था कि पूरी दुनिया की नजर इस खबर पर हो.

पाकिस्तान के PM इमरान खान अभिनंदन वर्धमान को सौंपने की प्रक्रिया सुचारू बनाने के लिये लाहौर में थे: सूत्र

क्या देरी पाकिस्तान की कोई चाल थी?

करीब शाम के तीन बजे के आस-पास अभिनंदन को पाकिस्तान ने रावलपिंडी से लाहौर पहुंचा दिया. मगर लाहौर से वाघा बॉर्डर लाने में उसने इतनी देर लगा दी, जिससे उसके नापाक इरादे भी सबसे सामने जाहिर हो गए. सूत्रों की मानें तो अभिनंदन को लाहौर में स्थित किसी सेना के छावनी में रोक कर रखा गया था और पाकिस्तान ने अभिनंदन का जबरन एक वीडियो बनाया. 

Abhinandan Varthaman: विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की वतन वापसी भारत-पाकिस्तान के बीच कम कर सकती है तनाव

यह बात भी सही है कि पाकिस्तान और भारत के बीच दस्तावेज की प्रक्रिया में भी कुछ समय की देरी हुई, मगर यह देरी इतनी भी नहीं थी कि अभिनंदन की वापसी में दोपहर से रात हो जाए. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय पायलट अभिनंदन को भारत को सौंपे जाने में देरी इसलिए हुई क्योंकि, उनसे पाकिस्तानी अधिकारियों ने कैमरे पर बयान दर्ज करने को कहा. इसके बाद ही उन्हें सीमा पार करके स्वदेश जाने दिया गया. इसके अलावा दस्तावेजों से संबंधित मुद्दे भी देरी की वजह बनी. सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान ने उनकी रिहाई का समय दो बार टाल दिया.

स्वदेश पहुंचने के बाद विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने सबसे पहले कही यह बात...

वतन वापसी पर क्या थी अभिनंदन के पहली प्रतिक्रिया?

अमृतसर के उपायुक्त शिव दुलार सिंह ढिल्लों ने बताया कि बहादुर पायलट अपने देश लौटकर खुश है. यह पूछे जाने पर कि अभिनंदन ने स्वदेश लौटने पर अधिकारियों से क्या कहा, उपायुक्त ने कहा कि वह पहले मुस्कुराए और बोले, 'मैं अपने देश वापस लौटकर खुश हूं.' वाघा अटारी सीमा पर कुछ औपचारिकताओं के बाद उन्हें बीएसएफ अधिकारियों को सौंप दिया गया. बाद में वायुसेना के अधिकारी अपने साथ अभिनंदन को लेकर आए. इसके बाद विंग कमांडर को अटारी सीमा से वायुसेना के वाहन में अमृतसर ले जाया गया. इस दौरान पंजाब पुलिस की गाड़ियां उनके वाहन के साथ चल रही थीं. इसके बाद वर्धमान को हवाई मार्ग से दिल्ली लाया गया. इसके बाद उन्हें सेना के अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी शारीरिक जांच की जाएगी.

...इस वजह से IAF पायलट अभिनंदन वर्धमान को पाकिस्तान ने भारत को लौटाने में की देरी!

पाक सरजमीं पर अभिनंदन के वो 60 घंटे:

विंग कमांडर अभिनंदन 27 फरवरी को सुबह करीब दस बजे पाकिस्तानी वायुसेना के फाइटर प्लेन का पीछा करते हुए पाकिस्तान की सीमा में जा घुसे. पाकिस्तान के एफ-16 को मार गिराने के बाद अभिनंदन का विमान भी क्रैश हो गया. इस वजह से उन्हें किसी तरह पैराशूट की मदद से उतरना पड़ा. जब वह नीचे आए तब उन्हें एहसास नहीं था कि वह दुश्मन देश की धरती पर जा पहुंचे है. कुछ लोग उनके पास आए, जिनसे अभिनंदन ने पूछा कि वह कहां हैं. इस पर कुछ पाकिस्तानियों ने चालबाजी दिखाते हुए उनसे कहा कि आप भारत की धऱती पर हैं. मगर अभिनंदन को कुछ शक हुआ. इसके बाद वह भारत माता की जय के नारे लगाए. इसके बाद फिर पाकिस्तानियों ने उन्हें घेर लिया. अभिनंदन किसी तरह खुद को बचाने के लिए वहां से भागे. बाद में उन्हें पाकिस्तानी सेना ने अपनी हिरासत में ले लिया. सेना ने उनसे पूछताछ की, मगर अभिनंदन ने उतना ही मुंह खोला, जितना उन्हें बताने की इजाजत होती है वायुसेना में. इसके बाद उन्हें पाकिस्तानी सेना ने चाय-कॉफी भी पिलाई. उसके बाद फिर इमरान खान की घोषणा के बाद दुनिया को पता चला कि वह महज दो दिन के बाद ही वतन वापस हो जाएंगे. 

पीएम मोदी ने कहा- घर वापसी की बधाई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अभिनंदन की वापसी का स्वागत करते हुए ट्वीट में कहा, ‘विंग कमांडर अभिनंदन आपका घर में स्वागत है. राष्ट्र को आपके अदम्य साहस पर गर्व है. हमारे सशस्त्र बल देश के 130 करोड़ भारतीयों के लिये प्रेरणा का स्रोत हैं.' विंग कमांडर अभिनंदन की स्वदेश वापसी पर पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर दिन भर लगी रही. इतना ही नहीं, विंग कमांडर अभिनंदन को राहुल गांधी, समेत कई राजनीतिक नेताओं ने बधाई दी और उनकी वतन वापसी पर ट्वीट किए.

विंग कमांडर अभिनंदन की सकुशल वापसी के लिए कुमार विश्वास ने किया बजरंगबली का वंदन

वायु सेना अधिकारी अभिनंदन वर्द्धमान के पाकिस्तान की हिरासत से मुक्त होकर लौटने के बीच भारी संख्या में मीडियाकर्मियों की नजर इस पर थी और पूरे देश के लोग टीवी सेट पर टकटकी लगाये हुए थे. अटारी बाघा सीमा के पास चेकपोस्ट पर सुबह से ही लोग तिरंगा लिये जमा थे. उनमें से अनेक अपना चेहरा तिरंगे के रंग से रंगे थे और विंग कमांडर अभिनंदन की सुरक्षित वापसी के समर्थन में नारे भी लगा रहे थे और जश्न का माहौल था. गौरतलब है कि भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तानी सीमा में जैश ए मोहम्मद के ठिकानों को निशाना बनाया. उसके बाद पाकिस्तानी वायु सेना की ओर से भारत की वायु सीमा का उल्लंघन किया गया और इस दौरान हुए हवाई संघर्ष में पाकिस्तान का एक एफ..16 विमान गिरा दिया गया एवं भारत का मिग 21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस संघर्ष के परिणामस्वरूप विंग कमांडर अभिनंदन का पैराशूट सीमा पर बढ़ गया और उन्हें 27 फरवरी को पाकिस्तान ने पकड़ लिया गया था. 

IAF पायलट अभिनंदन वर्धमान को भारत सौंपने से ठीक पहले पाकिस्तान ने रिकॉर्ड किया यह VIDEO

अभिनंदन की पहली झलक:

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी संसद में कहा था कि वह शांति के संदेश के तौर पर भारतीय पायलट को रिहा कर रहे हैं. उन्होंने इस कदम को शांति जेस्चर बताया था. विंग कमांडर अभिनंदन रात 9 बजकर 10 मिनट पर पाकिस्तान की ओर वाघा चेकपोस्ट पर दिखे और उनके साथ पाकिस्तानी रेंजर, इस्लामाबाद में उच्चायोग में भारतीय एयर अताशे मौजूद थे. वे गहरे रंग का कोट और खाकी रंग की पैंट पहने हुए थे. गर्व से सिर ऊंचा किये विंग कमांडर अभिनंदन कैदी देश पाकिस्तान से गेट पार करके स्वदेश भारत लौटे. 

Abhinandan Returns: विंग कमांडर अभिनंदन की वतन वापसी पर PM मोदी ने किया Tweet, 'देश को आपके साहस पर गर्व है', जानिये किसने क्या कहा...

एयरवाइस मार्शल आर जी के कपूर ने कहा कि वायुसेना के पायलट अभिनंदन को अभी अभी हमें सौंपा गया है. उन्होंने कहा कि हम उन्हें वापस पाकर खुश हैं. उन्होंने कहा कि पायलट को विस्तृत चिकित्सा परीक्षण के लिये ले जाया जायेगा क्योंकि उन्हें काफी तनाव के क्षणों से गुजरना पड़ा. विदेश मंत्रालय ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा अटारी बार्डर पर भारतीय अधिकारियों को सौंप दिया गया. 

अभिनंदन की वतन वापसी से पहले वाघा बॉर्डर पर हुई बारिश, कुमार विश्वास ने किया यह Tweet...

बना रहा संशय:
विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान द्वारा पकड़े जाने का मुद्दा दोनों देशों के बीच तनाव का केंद्र बिन्दु बना हुआ था. दिनभर टीवी चैनलों में भारत पाक संबंधों पर अलग अलग तरीके से चर्चा चलती रही. पत्रकार इस घटनाक्रम के बारे में सूचना जुटाने में लगे रहे कि अभिनंदन को कब और कैसे भारत को सौंपा जायेगा. देशभर में अलग अलग स्थानों पर देशभक्ति का रंग सहज ही देखा जा सकता था. अभिनंन की वापसी को लेकर शुक्रवार को काफी समय तक संशय के बादल छाए रहे. देर शाम तक यह पूरी तरह से साफ नहीं हो रहा था कि उन्हें किस प्रकार से सौंपा जायेगा. इस बीच भारत ने वाघा-अटारी सीमा पर बिटींग द रिट्रीट समारोह को आज स्थगित कर दिया क्योंकि अनुमानित 20 हजार लोग वहां एकत्र हो गए थे. अंधेरा बढने के साथ अटारी में लोगों की संख्या कम हुई लेकिन पत्रकार वहां डटे रहे. कोई कागजी कार्रवाई को देरी की वजह बता रहा था तो कोई पाकिस्तान की चाल बता रहा था. मगर जिस तरह से पाकिस्तान ने वीडियो बनवाया उससे साफ हो गया कि यह उसकी चाल ही थी. 

अभिनंदन की भारत वापसी पर बॉलीवुड हुआ न्योछावर, बोले- आपकी वीरता सर आंखों पर!

कैसे पहुंचे पाकिस्तान:
26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तानी सीमा में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को निशाना बनाया था. उसके बाद पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से भारत की वायुसीमा का उल्लंघन किया गया और इस दौरान हुए हवाई संघर्ष में पाकिस्तान का एक एफ-16 विमान गिरा दिया गया एवं भारत का मिग-21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस संघर्ष के बाद विंग कमांडर अभिनंदन का पैराशूट सीमा पार बढ़ गया और उन्हें 27 फरवरी को पाकिस्तान ने पकड़ लिया. 27 फरवरी को पाकिस्तान की कैद में जाने वाले अभिनंदन को करीब 60 घंटे पाकिस्तान में बीताने पड़े. 

ऑपरेशन बालाकोट: भारत का आतंकी केंप पर एयर स्ट्राइक

दरअसल, 26 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारत ने पाकिस्तानी सरजमीं पर पल रहे जैश के आतंकी ठिकानों पर हमला बोला. भारतीय वायुसेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के आतंकी शिविर पर बम गिराए थे और करीब 300 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया था.  इस दौरान भारत ने करीब 12 मिराज लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल किया और 1000 किलो बमों की बारिश कर दी. इसके बाद पाकिस्तान की बौखलाहट सामने आने लगी और उसने भारत के दावे को खारिज करने की कोशिश की. आतंकी ठिकानों पर भारत की एयरस्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया. हालांकि, एयरस्ट्राइक के बाद भारत ने इसकी सूचना तमाम देशों को दे दी. 

अभिनंदन की भारत वापसी पर स्वरा भास्कर का ट्वीट, लिखा- भारत ने पाकिस्तान को सही संदेश दिया...

भारत-पाक के बीच तनाव की शुरुआत:
इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में हुए एक आत्‍मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थें. हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्‍तान स्‍थ‍ित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली थी. 14 फरवरी को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 60 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद ही दोनों देशों के बीच तनाव शुरू हुआ. 

टिप्पणियां

VIDEO: विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी पर किसने क्‍या कहा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement