NDTV Khabar

Election 2019: राजद नेता शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर कसा तंज, कहा- उनके लिए विशेष राज्य का दर्जा सिर्फ राजनीतिक नारेबाजी

Election 2019: शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने कहा कि मैं आपको अभी बता देना चाहता हूं कि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) बिहार के लिए विशेष राज्य का दर्जा का मामला फिर से उठाने वाले हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Election 2019: राजद नेता शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर कसा तंज, कहा- उनके लिए विशेष राज्य का दर्जा सिर्फ राजनीतिक नारेबाजी

Election 2019: शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार को लेकर दिया बयान

खास बातें

  1. 'नीतीश कुमार विशेष राज्य के दर्जे के नाम पर राजनीति कर रहे हैं'
  2. नीतीश कुमार चाहते तो बिहार को मिल जाता विशेष राज्य का दर्जा - शिवानंद
  3. नीतीश कुमार पर पहले भी हमला कर चुके हैं शिवानंद तिवारी
पटना:

Election 2019: राष्ट्रीय जनता दल ( राजद) के नेता शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर हमला किया है. उन्होंने (Shivanand Tivary) मंगलवार को कहा कि नीतीश कुमार के लिए बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाना निष्ठा का सवाल नहीं है, यह उनके लिए राजनीतिक नारेबाजी का हिस्सा मात्र है. शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने कहा कि मैं आपको अभी बता देना चाहता हूं कि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) बिहार के लिए विशेष राज्य का दर्जा का मामला फिर से उठाने वाले हैं. उनके प्रदेश अध्यक्ष के अनुसार विधानसभा के अगले चुनाव में जद यू इसको मुद्दा बनाने जा रहा है. बहुत दिनों के बाद नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने अपने बस्ते से विशेष राज्य का दर्जा निकाला है. लेकिन नीतीश जी की राजनीति का यह आज़माया हुआ नुस्ख़ा है. लेकिन यह कारगर नुस्ख़ा है, इसपर नीतीश जी को भी यक़ीन नहीं है.

शिवानंद तिवारी ने प्रशांत किशोर को नीतीश का साथ छोड़ने की सलाह दी, यह बताया कारण


उन्होंने (Shivanand Tivary) कहा कि नीतीश जी के मित्र और देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली साफ-साफ़ कह चुके हैं कि अब किसी भी राज्य को विशेष राज्य की श्रेणी में नहीं रखा जाएगा. यहां तक की 15 वें वित्त आयोग के अध्यक्ष और जद यू के भूत पूर्व सांसद श्री एन के. सिंह भी स्पष्ट कर चुके हैं कि विकास के लिए किसी राज्य को अब विशेष राज्य के दर्जा की ज़रूरत नहीं है. उन्होंने (Shivanand Tivary) कहा कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने को लेकर अगर सच नीतीश कुमार इमानदार होते तो इसके लिए उनके पास सुनहरा मौक़ा था. वह मौक़ा उनको उस समय मिला था जब पलटी मारकर वे महागठबंधन से निकले थे.

जो बीजेपी के साथ है वह 'हरिश्चंद्र', जो विरोध में वह भ्रष्ट : शिवानंद तिवारी

उस समय अगर उन्होंने नरेंद्र मोदी जी से हाथ मिलाने का शर्त विशेष राज्य का दर्जा रखा होता तो निश्चित रूप से वह हासिल हो गया होता. लेकिन पलटी मारने के एवज़ में मुख्यमंत्री की अपनी कुर्सी तो उनको याद रही लेकिन विशेष राज्य का दर्जा भूल गए. नीतीश जी के इस अभियान को हम जनता के बीच बेनक़ाब करेंगे. गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर हमला बोला है. इससे पहले उन्होंने (Shivanand Tivary) कहा कि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कभी जिस नरेंद्र मोदी को बिहार आने से रोका था. आज पीएम मोदी के सहारे जनता से वोट मांग रहे हैं. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के पास अपना काम दिखाकर वोट मांगने के लिए कुछ नहीं बचा है.

बिहार में 'एक अधिकारी' के तबादले को लेकर शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर लगाये गंभीर आरोप

शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने कहा कि आज नीतीश कुमार जी अपनी राजनीति को बचाने के लिए उन्हीं के नाम का सहारा ले रहे हैं. यह शोध का विषय होगा कि एक समय देश में नरेंद्र मोदी का वैकल्पिक चेहरा माने जाने वाले नीतीश कुमार (Nitish Kumar) आज उन्हीं के सामने शरणागत कैसे हो गए हैं! उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को उनका अहंकार खा गया है. वह समय रहते अपना आकलन तक नहीं कर पाए. उनके चमचों ने उनकी सोच को खत्म कर दिया है. उन्होंने (Shivanand Tivary) कहा कि नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के पतन की शुरुआत हो गई है. कहां और कैसे इसका अंत होगा यह देखना दिलचस्प होगा.

जो बीजेपी के साथ है वह 'हरिश्चंद्र', जो विरोध में वह भ्रष्ट : शिवानंद तिवारी

गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार पर हमला बोला हो. इससे पहले शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए नीतीश कुमार पर हमला बोला था. उन्होंने अपने ताजा फेसबुक पोस्ट में मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले को लेकर नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सरकार पर हमला किया था. शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary)  ने लिखा था कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में सीबीआई ने जो ताजा रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में दाखिल किया है उससे नीतीश कुमार के शासन के पाप का भंडा फूट गया है.

नरेंद्र मोदी को सत्ता से हटाने के लिए हमें लोहिया जैसे नेता की जरूरत - शिवानंद तिवारी

शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने आगे लिखा था कि उन लड़कियों के साथ जो अमानवीय और क्रुर व्यवहार होता था वह इसके पहले के सीबीआई रिपोर्ट आ चुकी है. ताजा रिपोर्ट में अब ग्यारह लड़कियों की हत्या की बात सामने आई है. इन बेसहारा और भाग्यहीन बच्चियों के साथ सरकारी अनुदान और देखरेख में चलने वाली संस्था में लंबे समय से चल रहे इस अमानुषिक कृत्य की जानकारी सरकार तक कैसे नहीं पहुंची. यह पूर्व में सार्वजनिक हो चुका है कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह का संचालक ब्रजेश ठाकुर नीतीश कुमार का मित्र है. मुख्यमंत्री बनने के बाद उसके बेटे के जन्मदिन का केक काटने नीतीश कुमार (Nitish Kumar) मुजफ्फरपुर गए थे. जिस व्यक्ति का मुख्यमंत्री के साथ ऐसा घनिष्ठ संबंध हो उसके द्वारा संचालित किसी संस्था के विरूद्ध कौन सरकारी पदाधिकारी शिकायत करने का साहस करेगा"?

शिवानंद तिवारी ने प्रशांत किशोर को नीतीश का साथ छोड़ने की सलाह दी, यह बताया कारण

टिप्पणियां

राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने लिखा था कि अगर सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सख्ती के साथ निगरानी नहीं कर रहा होता तो नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अबतक इस मामले का रफादफा कर चुके होते. पहले तो जांच रिपोर्ट के बाद पुलिस में मामला दर्ज नहीं हो रहा था. काफी हो हल्ला के बाद दर्ज भी हुआ तो आरोप के मुताबिक दफाओं मे नहीं. बल्कि ऐसी दफाओं में जिनमें आसानी से जमानत मिल सकती थी. सुप्रीम कोर्ट ने ठीक ही कहा था नीतीश सरकार मुजफ्फरपुर बालिका गृह को इसीलिए पैसा दे रही थी ताकि वहां जो हो रहा था वह जारी रहे. लेकिन नीतीश कुमार के पाप का घड़ा अब भर चुका है. मुजफ्फरपुर बालिका गृह की मृत तथा जीवित लड़कियों की आह खाली नहीं जाएगी."

Video: नीतीश अवसरवादी राजनीति कर रहे हैं : शिवानंद तिवारी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement